शुक्रवार, जुलाई 19, 2024
शुक्रवार, जुलाई 19, 2024

होमFact CheckFact Check: क्या लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद धर्म विशेष को...

Fact Check: क्या लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद धर्म विशेष को अपशब्द कह रहा यह शख्स मुस्लिम है? जानें सच

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

Claim- अयोध्या में राम मंदिर की जगह मस्जिद बनाने की बात करता वीडियो में दिख रहा यह व्यक्ति मुस्लिम है.

Fact- वीडियो में दिख रहा व्यक्ति मुस्लिम नहीं है.

लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक शख्स इस्लामिक टोपी पहनकर धर्म विशेष को अपशब्द कहता नजर आ रहा है. व्यक्ति यह कह रहा है कि अगर हमारी सरकार आती तो अयोध्या में मंदिर की जगह मस्जिद बनती. वीडियो में मौजूद शख्स को मुस्लिम बताया गया है.

हालांकि, हमने अपनी जांच में पाया कि वीडियो में दिख रहे शख्स का नाम धीरेंद्र राघव है और उसके फेसबुक प्रोफाइल पर दी गई जानकारी के अनुसार, वह मूल रूप से आगरा का रहने वाला है.

गौरतलब है कि सोमवार 4 जून 2024 को लोकसभा चुनाव 2024 के परिणाम घोषित हुए. इस चुनाव में भाजपा नीत एनडीए को 292 सीटें मिली. वहीं कांग्रेस सहित इंडिया गठबंधन को 234 सीटें मिली. अन्य के खाते में 17 सीटें गई हैं.

वायरल वीडियो करीब 1 मिनट 7 सेकेंड का है, जिसमें  एक व्यक्ति इस्लामिक टोपी पहनकर कार में बैठा हुआ है. व्यक्ति यह कहता हुआ नजर आ रहा है कि “(*अपशब्द) हिंदुओं बच गए तुम लोग इस बार. हाथ में सरकार आते आते राम भक्त हिंदुओं ने बचा लिया. नहीं तो राहुल हमें आरक्षण देता. अयोध्या में मंदिर की जगह दोबारा से मस्जिद बनती हमारी. मगर पांच साल और सही, बनेगी…. बनेगी…. अल्लाह की रहमत होगी. मगर एक बात है हमारा नेता कोई हमारे लिए ऐसी मस्जिद या अयोध्या जैसी अयोध्या में कहीं बनवा देता. तो ताउम्र हम उसको वोट देते. 400 क्या, 450-500 सीटें लाते. तुम इतने काफिर हो. मोदी ने तुम्हारे लिए सब कुछ किया. तुमने वोट भी नहीं दिया. थू-थू. लानत है तुम पर. जो अपनों का नहीं हुआ वह किसी का नहीं होगा”.

इस वीडियो को कई X अकाउंट ने भी इस दावे से शेयर किया है कि अपशब्द कह रहा यह शख्स मुस्लिम है.

Courtesy: X/SobhnathS74423

यह वीडियो हमारे व्हाट्सएप टिपलाइन नंबर पर भी कई यूजर्स ने भेजा और यह पूछा कि क्या यह व्यक्ति मुसलमान है.

Fact Check/Verification

Newschecker ने वायरल वीडियो की पड़ताल के लिए रिवर्स इमेज सर्च किया. इस दौरान हमें पुनीत कुमार सिंह नाम के एक पत्रकार द्वारा ट्वीट किया गया यह वीडियो मिला. जिसमें उन्होंने इस व्यक्ति का नाम धीरेंद्र राघव बताया था. इतना ही नहीं वीडियो में धीरेंद्र राघव नाम के एक इंस्टाग्राम हैंडल का भी ज़िक्र था.

Courtesy: X/puneetsinghlive

इसके बाद हमने संबंधित कीवर्ड की मदद से इंस्टाग्राम सर्च किया तो हमें रिपोर्ट लिखे जाने के दौरान इस हैंडल पर वायरल वीडियो नहीं मिला. (हालांकि, 5 जून को इस हैंडल पर यह वीडियो मौजूद था)

Courtesy: IG/dhirendra_raghav_79

इस हैंडल पर मिले अन्य वीडियोज में वायरल वीडियो वाले शख्स को देखा जा सकता है. हमने कई सारे वीडियोज को देखने पर पाया कि वह अलग-अलग कपड़े और वेशभूषा धारण कर अलग-अलग किरदार निभाता है. किसी वीडियो में वह इस्लामिक टोपी पहना हुआ दिखता है तो किसी में वह तिलक और पगड़ी पहने हुए नजर आता है. अपने इंस्टाग्राम हैंडल के बायों में उसने खुद को कलाकार भी बताया है.

जांच में हमें धीरेंद्र राघव का फ़ेसबुक अकाउंट भी मिला. इस अकाउंट पर भी उसके कई अलग-अलग वीडियोज मौजूद हैं. लेकिन फेसबुक अकाउंट पर भी वायरल वीडियो मौजूद नहीं है. फेसबुक अकाउंट पर दी गई जानकारी के अनुसार, वह मूल रूप से उत्तर प्रदेश के आगरा का रहने वाला है और वह एक कलाकार है.

Courtesy: FB/dhirendra.raghav.92

इतना ही नहीं उसने 7 मई 2024 को पोस्ट की गई तस्वीर में यह भी बताया है कि वह आगरा उत्तर विधानसभा क्षेत्र का मतदाता है. 

Courtesy: FB/dhirendra.raghav.92

हमने अप्रैल 2024 में धीरेंद्र राघव के एक वीडियो का फैक्ट चेक किया था, जिसमें उन्होंने इस्लामिक टोपी पहनकर नरेंद्र मोदी को वोट देने की अपील की थी. सोशल मीडिया यूजर्स ने वीडियो को इस दावे से शेयर किया था कि यह शख्स पाकिस्तानी है और इसका नाम आसिफ जरदारी है.

हमने अपनी जांच में धीरेन्द्र राघव से भी संपर्क करने की कोशिश की है, उनका जवाब आने पर स्टोरी को अपडेट किया जाएगा.

Conclusion

हमारी जांच से यह स्पष्ट हो गया कि वायरल वीडियो में मौजूद शख्स मुस्लिम नहीं है.

Result- False

Our Sources
Dhirendra Raghav Instagram account
Dhirendra Raghav Facebook account

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

फैक्ट-चेक और लेटेस्ट अपडेट्स के लिए हमारा WhatsApp चैनल फॉलो करें: https://whatsapp.com/channel/0029Va23tYwLtOj7zEWzmC1Z

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular