मंगलवार, जुलाई 23, 2024
मंगलवार, जुलाई 23, 2024

होमFact CheckFact Check: क्या लोकसभा चुनाव 2024 में 98 मुस्लिम प्रत्याशी बने संसद...

Fact Check: क्या लोकसभा चुनाव 2024 में 98 मुस्लिम प्रत्याशी बने संसद सदस्य? यहां जानें वायरल दावे का सच

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

Claim
लोकसभा 2024 में 98 मुस्लिम प्रत्याशी बने संसद सदस्य.

Fact
नहीं, लोकसभा चुनाव में सिर्फ 24 मुस्लिम सांसद चुने गए हैं.

लोकसभा चुनाव के नतीजे जारी होने के बाद सोशल मीडिया पर एक लंबा मैसेज वायरल हो रहा है, जिसे सांप्रदायिक दावे से शेयर करते हुए यह कहा जा रहा है कि चार राज्यों-पश्चिम बंगाल, केरल, तमिलनाडु, असम और एक केंद्र शासित प्रदेश पुदुचेरी से करीब 98 मुस्लिम लोकसभा सांसद चुने गए हैं.

हालांकि हमने अपनी जांच में पाया कि वायरल दावा फर्जी है. इस लोकसभा चुनाव में पूरे देशभर से 24 मुस्लिम लोकसभा सांसद चुने गए हैं. जिनमें से 6 पश्चिम बंगाल, 3 केरल, 1 तमिलनाडु, 1 असम से चुने गए हैं. 

गौरतलब है कि सोमवार 4 जून 2024 को लोकसभा चुनाव 2024 के परिणाम घोषित हुए. इस चुनाव में भाजपा नीत एनडीए को 292 सीटें मिली. वहीं कांग्रेस सहित इंडिया गठबंधन को 234 सीटें मिली. अन्य के खाते में 17 सीटें गई हैं.

लंबे वायरल मैसेज में यह दावा किया गया है कि पश्चिम बंगाल से करीब 37 मुस्लिम लोकसभा सांसद चुने गए हैं. वहीं असम से 22, तमिलनाडु से 5 और केरल से करीब 23 मुस्लिम लोकसभा सांसद चुने गए हैं. इसके अलावा पुदुचेरी से भी एएमएच नाजिम को सांसद के रूप में चुना गया है. इसके अलावा लिस्ट में इस मैसेज में कुछ अन्य टेक्स्ट भी मौजूद हैं, जिसमें लिखा हुआ है “यह पूरा लिस्ट पढ़कर अगर आपके मन में भविष्य की चिंता नहीं है तो शायद आप भी हिन्दुओ के बीच छुपे भेड़िए ही हो या धिममी हिन्दू . कबूतर के आंख बन्द कर लेने से बिल्ली नही भाग जाती”.


Courtesy: FB/jayshankar.prashad.3

Fact Check/Verification

Newschecker ने वायरल मैसेज की पड़ताल के दौरान इसमें ज़िक्र किए गए राज्यों की अलग-अलग पड़ताल की.

अपनी जांच में सबसे पहले हमने पश्चिम बंगाल की पड़ताल की. चुनाव आयोग की वेबसाइट पर जारी किए गए परिणाम के अनुसार, 42 लोकसभा सीटों में से 6 सीट पर ही मुस्लिम सांसद चुने गए हैं. जिनमें से तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर बहरामपुर से युसूफ पठान, बशीरहाट से एसके नुरूल इस्लाम, जंगीपुर से खलीलुर रहमान, मुर्शिदाबाद से अबू ताहेर खान, उलुबेरिया से सजदा अहमद चुने गए हैं. इसके अलावा, मालदा दक्षिण से कांग्रेस के टिकट पर इशा खान चौधरी चुने गए हैं. आप नीचे मौजूद तस्वीरों में ये देख सकते हैं.

इसके बाद हमने असम वाले दावे की पड़ताल की. इस दौरान हमने पाया कि असम की कुल 14 सीटों में से सिर्फ धुबरी की सीट पर कांग्रेस से मुस्लिम प्रत्याशी रकीबुल हसन सांसद चुने गए हैं.

Courtesy: ECI

वहीं तमिलनाडु की कुल 39 सीटों में से भी एक ही सीट रामनाथपुरम से इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के टिकट पर नावास्कानी के सांसद चुने गए हैं. उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार और तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री पन्नीरसेल्वम को हराया है.

Courtesy: ECI

इसके अलावा, हमने केरल वाले दावे की भी पड़ताल की तो पाया कि केरल की कुल 20 लोकसभा सीटों में सिर्फ तीन लोकसभा सीट पर ही मुस्लिम सांसद चुने गए हैं. इनमें से मुस्लिम लीग के टिकट पर मल्लापुरम की सीट से ईटी मोहम्मद बशीर और पन्नानी की सीट से डॉ एमपी अब्दुससमद समादानी चुने गए हैं. इसके अलावा एक अन्य सांसद शाफी परमबिल कांग्रेस के टिकट पर वडाकरा से चुने गए हैं.

Courtesy: ECI

वहीं हमने यह भी पाया कि पुदुचेरी लोकसभा सीट से कोई मुस्लिम सांसद नहीं, बल्कि कांग्रेस के वीई वैथीलिंगम चुने गए हैं. 

Courtesy: ECI

जांच में मिले कुछ न्यूज रिपोर्ट्स के अनुसार, 2024 के लोकसभा चुनाव में कुल 78 मुस्लिम प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा था, जिनमें सिर्फ 24 प्रत्याशियों को ही जीत मिली, जबकि पिछली बार 26 मुस्लिम सांसद लोकसभा के लिए चुने गए थे. 

Courtesy: IE

हमारी अभी तक की जांच में यह तो साफ़ हो गया कि वायरल मैसेज में किया जा रहा दावा फर्जी है. वर्तमान लोकसभा चुनाव में सिर्फ 24 मुस्लिम प्रत्याशी ही सांसद चुने गए हैं.

इसके बाद हमने वायरल मैसेज में मौजूद नामों की भी पड़ताल की तो पाया कि ये सभी साल 2021 में हुए चार राज्यों केरल, पश्चिम बंगाल, असम और तमिलनाडु के विधानसभा चुनाव में चुने गए मुस्लिम विधायकों की लिस्ट है.

सबसे पहले हमने पश्चिम बंगाल वाले लिस्ट की पड़ताल की तो पाया कि इनमें मौजूद सभी 37 नाम 2021 के पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में चुने गए विधायकों के हैं. आप नीचे मौजूद तस्वीरों के माध्यम से इसे समझ सकते हैं. (तस्वीर में मौजूद आंकड़े पश्चिम बंगाल विधानसभा की वेबसाइट से लिए गए हैं.) 

इसी तरह हमने असम वाली लिस्ट को भी जांचा तो पाया कि ये 2021 के विधानसभा में विधायक चुने गए मुस्लिम प्रत्याशियों के नाम हैं. ( इस तस्वीर में मौजूद आंकड़े भी असम विधानसभा की वेबसाइट से लिए गए हैं.)

तमिलनाडु वाले लिस्ट की सच्चाई भी नीचे देखें. (आंकड़ों का स्त्रोत: तमिलनाडु चुनाव आयोग की वेबसाइट)

वहीं केरल वाली लिस्ट की जांच से यह साफ़ है कि ये 2021 में अलग-अलग पार्टियों से चुने गए मुस्लिम विधायकों के नाम हैं. (आंकड़े केरल विधानसभा की वेबसाइट से ही लिए गए हैं.)

इसी तरह पुदुचेरी वाली लिस्ट की असल जानकारी नीचे देखें.

Conclusion

हमारी जांच में मिले साक्ष्यों से यह साफ़ है कि मौजूदा लोकसभा चुनाव में 98 मुस्लिम प्रत्याशियों के सांसद चुने जाने का वायरल दावा फर्जी है. 

Result- False

Our Sources
Data Available on ECI,
Data Available on West Bengal Assembly Webiste
Data Available on Kerala Assembly Website
Data Available on Tamilnadu EC
Data Available on Asaam assembly Website

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

फैक्ट-चेक और लेटेस्ट अपडेट्स के लिए हमारा WhatsApp चैनल फॉलो करें: https://whatsapp.com/channel/0029Va23tYwLtOj7zEWzmC1Z

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular