शुक्रवार, जुलाई 19, 2024
शुक्रवार, जुलाई 19, 2024

होमFact Checkमुंबई के वसई में हुई लड़की की बर्बर हत्या का CCTV फुटेज...

मुंबई के वसई में हुई लड़की की बर्बर हत्या का CCTV फुटेज लव जिहाद के दावे से वायरल

Authors

Believing in the notion of 'live and let live’, Preeti feels it's important to counter and check misinformation and prevent people from falling for propaganda, hoaxes, and fake information. She holds a Master’s degree in Mass Communication from Guru Jambeshawar University and has been a journalist & producer for 10 years.

Claim
वसई में हुई लड़की की हत्या का मामला लव जिहाद का है.

Fact
नहीं, इस मामले में आरोपी और पीड़िता दोनों एक ही समुदाय से हैं.

सोशल मीडिया पर एक हत्या का CCTV फुटेज वायरल हो रहा है, जिसे लव जिहाद का मामला बताकर शेयर किया जा रहा है और कहा जा रहा है कि मुंबई के वसई में एक व्यक्ति ने एक लड़की की हत्या कर दी.

हालांकि हमने अपनी जांच में पाया कि वायरल दावा फर्जी है. वसई-विरार पुलिस ने आरती यादव की हत्या के मामले में रोहित यादव नाम के शख्स को गिरफ्तार किया है.

गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर काफी प्रचलित लव जिहाद शब्द का प्रयोग इस अर्थ या दावे से किया जाता है कि मुस्लिम पुरूष हिंदू महिलाओं को बहका कर अपने प्रेम जाल में फंसा रहे हैं. करीब सात पहले यह शब्द केरल के एक मामले से काफी चर्चा में आया था. जिसमें अहिला अशोकन नाम की एक महिला ने शफीन जहां नाम के शख्स से शादी की थी और उसने अपना नाम बदलकर हादिया रख लिया था. बाद में केरल हाई कोर्ट ने इस शादी को रद्द कर दिया था. 

वायरल CCTV फुटेज वीडियो करीब 37 सेकेंड का है, जिसमें एक व्यक्ति किसी अन्य शख्स पर चाक़ू जैसे धारदार हथियार से हमला करता हुआ दिखाई दे रहा है. इस दौरान कुछ लोग उसे रोकने की भी कोशिश करते हैं. लेकिन वह उन लोगों को डरा कर पीछे हटा देता है.

इस फुटेज को वायरल दावे वाले कैप्शन के साथ X पर शेयर किया गया है, जिसमें लिखा हुआ है “मुंबई के वसई की एक व्यस्त सड़क पर, दिन के उजाले में एक 20 वर्षीय लड़की को आदमी मार रहा है. मामला एक और लव जिहाद”.

मुंबई के वसई में हुई लड़की की बर्बर हत्या

Courtesy: X/bhagwakrantee

Fact Check/Verification

Newschecker ने वायरल सीसीटीवी फुटेज के कीफ्रेम की मदद से रिवर्स इमेज सर्च किया तो हमें 18 जून 2024 को दैनिक भास्कर की वेबसाइट पर प्रकाशित रिपोर्ट मिली. इस रिपोर्ट में मौजूद वीडियो में वायरल वीडियो से मिलते जुलते दृश्य शामिल थे. 

रिपोर्ट में दी गई जानकारी के अनुसार, मुंबई के वसई के चिंचपाड़ा इलाके में 18 जून की सुबह को आरती नाम की एक लड़की की हत्या उसके प्रेमी रोहित यादव ने पाने से मारकर कर दी थी. इस हत्या का वीडियो भी सामने आया था, जिसमें रोहित आरती के पीछे दौड़ता हुआ दिख रहा है. इसके बाद वह लड़की के सिर पर 30 सेकेंड में करीब 15 बार पाना मारता है. आरती की हत्या करने के बाद वह वहीँ बैठकर बातें करने लगता है. वसई में हुई इस हत्या को लेकर वालिव पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया था. पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कर आरोपी रोहित यादव को हिरासत में ले लिया था.  

इसके अलावा हमें एबीपी न्यूज की वेबसाइट पर 18 जून 2024 को प्रकाशित रिपोर्ट मिली. इस रिपोर्ट में वायरल वीडियो वाले दृश्य फीचर इमेज के रूप में मौजूद थे.

एबीपी न्यूज की रिपोर्ट में वालिव पुलिस के सीनियर इंस्पेक्टर जयराज नरवरे का बयान मौजूद था.  इंस्पेक्टर नरवरे के अनुसार, 18 जून की सुबह को मृतका काम पर जा रही थी, तभी आरोपी ने पीछे से आकर नट बोल्ट कसने वाले पाने से उसकी हत्या कर दी. दोनों काफी समय तक रिलेशन में थे. बाद में लड़की ने आरोपी से रिश्ता तोड़ लिया. आरोपी को यह शक था कि लड़की का किसी और से अफेयर है. इसी गुस्से में आकर आरोपी ने लड़की की हत्या कर दी.

जांच में हमें 18 जून 2024 को न्यूज 18 हिंदी की वेबसाइट पर प्रकाशित रिपोर्ट मिली. इस रिपोर्ट में भी वालिव पुलिस स्टेशन के हवाले से पूरी जानकारी दी गई थी.

वालिव पुलिस के अनुसार, वसई में एक निजी कंपनी में काम करने वाली आरती यादव नालासोपारा के पास रहती थी. आरती यादव का रिश्ता रोहित यादव नाम के एक शख्स के साथ था. लकिन पिछले कुछ दिनों से रोहित को यह लगने लगा कि आरती उसे धोखा दे रही है. इसको लेकर दोनों के बीच झगड़ा भी हुआ थी. बीते 18 जून को जब वह वसई के लिए निकली तभी गौरीपाड़ा में रोहित ने फिर से उसके रिश्ते के बारे में पूछा. इसी दौरान उसने पाने से आरती के ऊपर वार कर दिया. उसने आरती के ऊपर तब तक वार किया जब उसकी मौत नहीं हो गई.

हत्या के बाद रोहित आरती की लाश के पास ही बैठा रहा. बाद में सूचना मिलने पर वालिव पुलिस स्टेशन की एक टीम वहां पहुंची और उसने रोहित को हिरासत में ले लिया एवं आरती के शव को नजदीकी अस्पताल पहुंचाया.

हमने अपनी जांच के दौरान मृतका आरती यादव के पिता रामदुलार यादव व माता निर्जला यादव से भी संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि “कुछ दिन पहले आरोपी रोहित, आरती से शादी की मांग को लेकर घर आया था. लड़के की आर्थिक स्थिति ख़राब होने के कारण परिवार ने उससे अपनी बेटी की शादी करने से इनकार कर दिया. परिवार के मना करने के बाद आरती भी उससे अलग रहने लगी. इसी बीच रोहित को शक होने लगा कि उसका किसी दूसरे लड़के के साथ अफेयर है.”

Conclusion

हमारी जांच में मिले साक्ष्यों से यह साफ़ है कि लव जिहाद वाला वायरल दावा फर्जी है. यह मामला प्रेम संबंध टूटने का था. इस मामले में आरोपी और मृतका दोनों ही एक ही समुदाय से संबंधित हैं. 

Result: False

(हमारे सहयोगी प्रसाद एस प्रभु के इनपुट्स के साथ)

Our Sources

Article Published by Dainik Bhaskar on 18th June 2024
Article Published by ABP News on 18th June 2024
Article Published by News18 India on 18th June 2024
Telephonic Conversation with Victim Family

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

फैक्ट-चेक और लेटेस्ट अपडेट्स के लिए हमारा WhatsApp चैनल फॉलो करें: https://whatsapp.com/channel/0029Va23tYwLtOj7zEWzmC1Z

Authors

Believing in the notion of 'live and let live’, Preeti feels it's important to counter and check misinformation and prevent people from falling for propaganda, hoaxes, and fake information. She holds a Master’s degree in Mass Communication from Guru Jambeshawar University and has been a journalist & producer for 10 years.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular