रविवार, मई 22, 2022
रविवार, मई 22, 2022

होमहिंदीक्या चुनावी स्टंट है केजरीवाल सरकार द्वारा दिल्ली में 200 यूनिट मुफ्त...

क्या चुनावी स्टंट है केजरीवाल सरकार द्वारा दिल्ली में 200 यूनिट मुफ्त बिजली की योजना? पढ़ें, वायरल दावे की सच्चाई

Claim:

यह उस ऑर्डर की कॉपी है जिसमें अरविंद केजरीवाल सरकार ने लोगों को बेवकूफ बनाया है। सिर्फ वोट बैंक की राजनीति के लिए 31 मार्च 2020 तक ही बिजली के बिल में छूट दी है। 

Verification: 

दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election 2020) के लिए आम आदमी पार्टी (आप) ने 70 सीटों पर अपने उम्मीदवारों को उतारा है। जबकि अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों को 200 यूनिट तक फ्री बिजली का तोहफा दिया हुआ है। अगर आप महीने में 200 यूनिट बिजली खपत करते हैं तो आपको बिल नहीं देना होगा। जैसा की आप सभी को पता है कि दिल्ली में विधानसभा के चुनाव 8 फरवरी को होंगे। जिसके बाद से दिल्ली पर अपना कब्ज़ा जमाने की होड़ हर तरफ से तेज़ है। 

ऐसे में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर Department of Power के एक ऑर्डर की कॉपी वायरल हो रही है। वायरल ऑर्डर ऑफ कॉपी में लिखा हुआ है कि दिल्ली में 200 यूनिट तक फ्री बिजली की सुविधा 31 मार्च, 2020 को ख़त्म हो जाएगी। साथ ही फेसबुक और ट्विटर पर ऑर्डर की कॉपी के साथ दावा किया जा रहा है कि यह उस ऑर्डर की कॉपी है जिसमें अरविंद केजरीवाल सरकार ने लोगों को बेवकूफ बनाया है। सिर्फ वोट बैंक की राजनीति के लिए 31 मार्च 2020 तक ही बिजली के बिल में छूट दी है। 

ट्विटर पर Department of Power की ऑर्डर कॉपी को 669 यूजर्स द्वारा शेयर किया गया है और 662 लोगों ने वायरल कॉपी को लाइक किया है।

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रहे 200 यूनिट फ्री बिजली के दावे को खंगालने के लिए हमने Department of Power के सैकरेट्री (Secretary) से संपर्क किया। पड़ताल के दौरान हमने जाना कि फेसबुक और ट्विटर पर किये जा रहे दावे में कोई सच्चाई नहीं है। दरअसल दिल्ली में 200 यूनिट फ्री बिजली का प्रावधान सीएम अरविंद केजरीवाल अगस्त 2019 में लेकर आए थे। Department of Power की मदद से केजरीवाल ने यह स्कीम चालू की थी। सरकार को इस ऑर्डर को हर साल Renew करवाना पड़ता है जिसकी आखिरी तारीख 31 मार्च होती है। क्योंकि भारत में Financial year 1 अप्रैल से 31 मार्च तक का होता है। जिसके हिसाब से इस ऑर्डर की आखिरी तारीख 31 मार्च होती है।

अब बात करते हैं वायरल ऑर्डर में लिखी हुई तारीख 1 अगस्त 2019 से 31 मार्च, 2020 तक की। इस ऑर्डर में 31 मार्च, 2020 का मतलब यह है कि दी गई तारीख को दिल्ली में 200 यूनिट फ्री बिजली वाली सुविधा को बंद कर दिया जाएगा। जैसा की आप सभी जानते हैं कि राजधानी दिल्ली में 8 फरवरी, 2020 को विधानसभा के चुनाव होंगे जिसका फैसला 11 फरवरी 2020 को आएगा। 11 फरवरी को दिल्ली में जिसकी भी सरकार आएगी वह अगर चाहेगी तो 200 यूनिट फ्री बिजली के ऑर्डर को Renew करवाएगी। इसका मतलब यह नहीं है कि अरविंद केजरीवाल ने चुनाव जीतने के लिए 31 मार्च, 2020 तक ही इस सुविधा को दिल्लीवासियों को दिया है। 

हमारी पड़ताल में हमने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रहे 200 यूनिट फ्री बिजली के ऑर्डर को गलत पाया है। दरअसल दिल्ली में 8 फरवरी, 2020 को विधानसभा चुनाव होंगे जिसके चलते फेसबुक और ट्विटर पर लोगों को भ्रमित करने के लिए इस तरह के कई दावे शेयर किये जा रहे हैं।

Tools Used:

Direct Contact

Google Keywords Search 

Result: Misleading

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें ई-मेल करें: [email protected])

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular