शनिवार, अक्टूबर 1, 2022
शनिवार, अक्टूबर 1, 2022

होमहिंदीमहिला के साथ हो रहे अत्याचार का वीडियो सोशल मीडिया पर भ्रामक दावे...

महिला के साथ हो रहे अत्याचार का वीडियो सोशल मीडिया पर भ्रामक दावे के साथ हुआ वायरल

Claim- A hindu widow in Araria Bihar converted to Islam by Mullas, area is Muslim majority After conversion they married her to a Muslim, they fed her Beef and now Whole muslim community torturing her This is not from Pakistan or Bangladesh but Bihar, India

हिंदी अनुवाद- 
बिहार के अररिया में एक हिन्दू विधवा को मुल्लों द्वारा धर्म परिवर्तन करवाया गया, क्योंकि यह क्षेत्र मुस्लिम बाहुल्य है इसलिए महिला के धर्म परिवर्तन करवाने के बाद उसकी शादी एक मुस्लिम से करवा कर उसे बीफ खिलाया और अब पूरा मुस्लिम समुदाय उस पर अत्याचार कर रहा है। यह वीडियो पाकिस्तान और बांग्लादेश का नहीं बल्कि भारत के बिहार का है।
Verification
बिहार के अररिया जिले में एक विधवा महिला पर हो रहे अत्याचार का वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो शेयर करने वाले का दावा है कि अररिया जिले के मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र में एक हिन्दू विधवा महिला का कुछ मुल्लों द्वारा जबरन धर्म परिवर्तन कर उसकी शादी एक मुस्लिम से करवा दी गयी। इसके बाद महिला को बीफ खिलाकर उसके साथ अत्याचार किया जा रहा है।
हमने शेयर क्लिप पर किये जा रहे दावे की सत्यता जानने के लिए सबसे पहले कीवर्ड्स के माध्यम से ट्विटर पर दावे को खोजा। खोज के दौरान हमें ट्विटर के एक अन्य हैंडल पर वायरल वीडियो प्राप्त हुआ।
ट्वीट में यूजर ने वीडियो के साथ दावा किया है, कि “एक विधवा औरत और अधेड़ एक दूसरे से करते थे प्यार, लोगों को पता चली बात तो सरपंच ने दी ऐसी सज़ा।” पोस्ट में दावा था कि ,प्यार के चलते सरपंच ने दी थी सजा। हमने वीडियो की बारीकी से जाँच के लिए कुछ स्क्रीनशॉट्स के माध्यम से गूगल पर खोजा। इस दौरान NDTV में प्रकाशित एक लेख से हमें घटनाक्रम की पूरी जानकारी प्राप्त हुई।
लेख के अनुसार बौसी थाना क्षेत्र में एक गांव के सरपंच ने दो समुदाय के एक अधेड़ और विधवा के कथित प्रेम प्रसंग से नाराज होकर दोनों की सरेआम पिटाई कर दी। उसके बाद दोनों की जबरन शादी करा कर 50 हज़ार रुपये जुर्माना लगाकर गांव से बाहर निकाल दिया।
लेख में आगे जिला एसपी सायली धूरत के बयान का जिक्र है जहां उन्होंने महिला के धर्म परिवर्तन की बात को गलत ठहराया है।
खोज के दौरान हमें दैनिक जागरण का एक लेख प्राप्त हुआ। लेख के मुताबिक़ सरपंच के साथ 16 आरोपियों की गिरफ़्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है।
हमारी पड़ताल में वायरल हो रहा दावा भ्रमका साबित हुआ
Tools Used 
  • Google Search
  • Twitter Advanced Search
Result- Misleading
Nupendra Singh
Nupendra Singh
A rapid increase in the rate of fake news and its ill effect on society encouraged Nupendra to work as a fact-checker. He believes one should always check the facts before sharing any information with others. He did his Masters in Journalism & Mass Communication from Lucknow University.
Nupendra Singh
Nupendra Singh
A rapid increase in the rate of fake news and its ill effect on society encouraged Nupendra to work as a fact-checker. He believes one should always check the facts before sharing any information with others. He did his Masters in Journalism & Mass Communication from Lucknow University.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular