बुधवार, दिसम्बर 7, 2022
बुधवार, दिसम्बर 7, 2022

होमहिंदीWeekend Wrap: JNU के छात्रों को नौकरी नहीं देगी TATA कंपनी, घी...

Weekend Wrap: JNU के छात्रों को नौकरी नहीं देगी TATA कंपनी, घी के डिब्बों में छिपाकर कपिल मिश्रा ने मंगवाए हथियार जैसी अन्य फ़ेक ख़बरें

दिल्ली हिंसा से लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे तक सोशल मीडिया पर शेयर की गई वो तमाम ख़बरें जो थीं फ़ेक, पढ़े बीते हफ्ते की वो भ्रामक ख़बरें जो सोशल मीडिया पर छाई रहीं:

JNU छात्रों को TATA कंपनी नहीं देगी नौकरी, रतन टाटा ने किया ऐलान 

TATA ग्रुप के मालिक रतन टाटा की एक तस्वीर के साथ सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि कुछ छात्रों पर देशद्रोह का आरोप लगने के बाद Tata Group of Companies अब JNU के छात्रों को नौकरी नहीं देगा। टाटा ने कहा जो लोग देश के लिए वफ़ादार नहीं हो सकता है हम उनसे कंपनी के प्रति वफ़ादार होने की उम्मीद कैसे कर सकते हैं।

India TV की वेबसाइट पर प्रकाशित एक लेख के मुताबिक रतन टाटा ने कभी नहीं कहा कि JNU के छात्रों को उनकी कंपनी नौकरी नहीं देगी।  इसकी जानकारी TATA Group ने अपने ट्विटर के आधिकारिक हैंडल से भी दी थी।  

दिल्ली हिंसा के दौरान मुस्लिम भीड़ ने किया यात्रियों से भरी बस पर हमला, ड्राइवर को बेरहमी से पीटा

एक सड़क के बीच में कुछ लोगों के उत्पाद मचाने का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ है। वीडियो में कुछ लोगों को बस को क्षतिग्रस्त करते हुए देखा जा सकता है दावा है कि यह वीडियो दिल्ली में हुई हिंसा का है। 

लेकिन  maharastratimes.indiatimes.com नामक वेबसाइट पर प्रकाशित लेख से और ABP न्यूज़ के यूट्यूब चैनल पर अपलोड हुए वीडियो से पता चला कि घटना महाराष्ट्र से औरंगाबाद शहर के तालुके ‘कन्नड’ की है।

CM अरविन्द केजरीवाल से मुलाकात न होने पर भड़के AAP विधायक अमानतुल्लाह ख़ान 

भाजपा आईटी प्रभारी अमित मालवीय ने सोशल मीडिया पर दिल्ली ओखला से आम आदमी पार्टी के  विधायक अमानतुल्लाह खान का एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो में अमानतुल्लाह खान को एक सरकारी आवास के सामने कुछ लोगों के बीच खड़े होकर चिल्लाते हुए देखा जा सकता है। पोस्ट में पूछा गया है कि अमानतुल्लाह खान किससे मिलने का इंतजार कर रहे हैं, कौन हैं दिल्ली का मुख्यमंत्री? 

दरअसल इस क्लिप का पूरा वीडियो  यूट्यूब पर Pazma Compitative Edge Delhi नामक चैनल द्वारा पर 24 फरवरी को अपलोड किया गया था। वीडियो के मुताबिक अमानतुल्लाह खान दिल्ली के उप राज्यपाल अनिल बैजल के आवास के सामने उनसे मिलने का इंतज़ार कर रहे थे। जिसकी जानकारी NDTV की वेबसाइट पर प्रकाशित लेख पर भी दी गयी है।  

दिल्ली हिंसा में घायल हुए DCP अमित शर्मा की मौत

दिल्ली में हिंसा में घायल हुए शदरा  शहादरा के DCP अमित शर्मा की ख़बर आने के बाद से सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि हिंसा में घायल DCP अमित शर्मा की मृत्यु हो गई है।

दरअसल अमर उजाला की वेबसाइट पर प्रकाशित लेख से पता चला कि दिल्ली हिंसा में 26 वर्षीय आईबी इंस्पेक्टर अंकित शर्मा की मृत्यु की खबर मीडिया पर आयी थी। जिसके बाद सोशल मीडिया पर यह ख़बर वायरल हो गयी की गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती DCP अमित शर्मा की मृत्यु हो गयी है।  

लेकिन ANI ने इस घटना की जानकारी अपने ट्वीट से पहले ही दे दी थी कि दिल्ली हिंसा में घायल हुए शहादरा DCP रात में हुई सर्जरी के बाद से  खतरे के बहार बाहर हैं।  

कपिल मिश्रा ने दिल्ली दंगे भड़काने के लिए घी के डिब्बे में छुपाकर मंगवाए हथियार     

सोशल मीडिया पर दिल्ली हिंसा से संबंधित एक वीडियो शेयर किया गया है जिसमें एक घी के डिब्बे के अंदर से हथियार निकाले जा रहे हैं। दावा है कि हथियारों को इस तरह छिपाकर दिल्ली लाया जा रहा था लेकिन रास्ते में ही इन्हें पकड़ लिया गया। इन लोगों ने ही भाजपाई दंगाइयों को हथियार सुलभ करवाए थे। 

नवभारत टाइम्स पर प्रसारित वायरल क्लिप वाला वीडियो और न्यूज़ 18 की वेबसाइट पर प्रकाशित लेख से पता चला कि वीडियो 27 सितंबर, 2019 का है जब मध्य प्रदेश के भिंड और बिहार के मुंगेर से कुछ लोग राजधानी में ऑन डिमांड हथियारों और कारतूस की सप्लाई करने आए थे। जिन्हें दिल्ली पुलिस ने रास्ते में ही पकड़ लिया।    

बराक ओबामा की भारत यात्रा के दौरान दिल्ली में हुई थी सांप्रदायिक हिंसा

ट्विटर पर 2 तस्वीरें वायरल हो रही हैं जिसके साथ दावा किया जा रहा है कि साल 2000 में अमेरिकी राष्ट्रपति बिल क्लिंटन की यात्रा के दौरान कश्मीर में अशांति दिखाने के लिए चित्तसिंगपुरा नरसंहार में 40 सिखों की हत्या कर दी गई थी। इसी तरह साल 2014 में बराक ओबामा की यात्रा के दौरान उसी दिन शाम को हिंसा हुई थी।

लेकिन ओबामा वाइट हाउस नामक ब्लॉग से पता चला कि बराक ओबामा भारत 2014 को नहीं बल्कि 2015 में आये थे। इसके साथ ही पीएम नरेंद्र मोदी ने बराक ओबामा के साथ मन की बात पर युवाओं से विश्व एकता की चर्चा की थी। जिसकी जानकारी INDIA TODAY की वेबसाइट पर दी गयी है। साथ ही इंटरनेट पर ऐसा कोई तथ्य मजूद  मौजूद नहीं है जहां बराक ओबामा के आने पर हिंसा होने का जिक्र किया गया हो।

फेक ख़बरों और तस्वीरों को पहचानना बेहद आसान है, जरूरत है तो बस थोड़ा-सा जागरुक रहने की। फेक न्यूज से लड़ने के लिए हमारा साथ दें। Newschecker सोशल मीडिया पर भी मौजूद हैं, फेक न्यूज़ से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए हमें टैग करें।
फेसबुक के लिए: Newschecker @Facebook
ट्विटर के लिए: Newschecker @Twitter
(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044)
Nupendra Singh
Nupendra Singh
A rapid increase in the rate of fake news and its ill effect on society encouraged Nupendra to work as a fact-checker. He believes one should always check the facts before sharing any information with others. He did his Masters in Journalism & Mass Communication from Lucknow University.
Nupendra Singh
Nupendra Singh
A rapid increase in the rate of fake news and its ill effect on society encouraged Nupendra to work as a fact-checker. He believes one should always check the facts before sharing any information with others. He did his Masters in Journalism & Mass Communication from Lucknow University.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular