सोमवार, अक्टूबर 25, 2021
सोमवार, अक्टूबर 25, 2021
होमFact Checkक्या भारत में सरकार ने चाइनीज ऐप्स पर लगाया प्रतिबंध?

क्या भारत में सरकार ने चाइनीज ऐप्स पर लगाया प्रतिबंध?

Claim: केंद्र सरकार ने गूगल प्ले स्टोर और एप्पल स्टोर से चाइनीज़ ऐप्स हटाने का आदेश दिया है। 

जानिए क्या है वायरल दावा:

लद्दाख की गलवान घाटी में सीमा विवाद के बाद एक बार फिर देश में चाइनीज प्रोडक्ट्स का विरोध हो रहा है। इन दिनों सोशल मीडिया पर NIC (National Informatics Centre) के नाम से एक आदेश की कॉपी वायरल हो रही है। हमारे आधिकारिक व्हाट्सएप नंबर पर अलग-अलग यूज़र्स द्वारा वायरल दावे की सत्यता जानने की अपील की गई थी। दावा किया जा रहा है कि गूगल प्ले स्टोर और एप्पल स्टोर से चाइनीज ऐप्स हटाने का आदेश दिया गया है। इस आदेश में कहा गया है कि Tik-Tok, VMate, Vigo Video, LiveMe, Bigo Live, Beauty Plus, CamScanner, Club Factory, Shein, Romwe, App Lock जैसी ऐप्स को हटाया जाएगा। 

इन ऐप्स की लिस्ट में गेमिंग ऐप जैसे Mobile Legends, Clash of Kings और Gale of Sultans का नाम भी शामिल है। पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर कई यूज़र्स द्वारा दावा किया गया है कि इन ऐप्स के जरिए यूज़र्स की निजी जानकारी जुटाई जा रही है। इससे देश पर भी कोई खतरा आ सकता है।   

Verification: 

लद्दाख की गलवान घाटी में हिंसक झड़प के बाद एक बार फिर से देश में चीन विरोधी लहर चल पड़ी है। सोशल मीडिया पर इन दिनों लोग चीनी उत्पादों के बायकॉट की मुहिम चला रहे हैं। कुछ कीवर्ड्स की मदद से हमने व्हाट्सएप पर वायरल हो रहे दावे को खंगालना शुरू किया। 

देखा जा सकता है कि वायरल दावे को विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई यूज़र्स द्वारा शेयर किया जा रहा है।   

https://www.facebook.com/photo?fbid=1168523226848805&set=a.123577411343397

वायरल दावे की सत्यता जानने के लिए सबसे पहले हमने NIC (National Informatics Centre) की आधिकारिक वेबसाइट को खंगाला। पड़ताल के दौरान हमें वायरल दावे से संबंधित ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली जिससे यह साबित होता हो कि केंद्र सरकार ने गूगल प्ले स्टोर और एप्पल स्टोर से चाइनीज़ ऐप्स हटाने का आदेश दिया है।  

https://www.nic.in/

अधिक जानकारी के लिए हमने Ministry of Electronics & Information Technology की आधिकारिक वेबसाइट को खंगाला। खोज के दौरान हमें इससे संबंधित कोई जानकारी नहीं मिली। 

https://meity.gov.in/notifications/office-memorandum

ट्विटर खंगालने पर हमें PIB Fact Check द्वारा किया गया एक ट्वीट मिला। इस ट्वीट में वायरल मैसेज का खंडन करते हुए कहा गया है कि यह मैसेज पूरी तरह से फर्ज़ी है। सरकार के किसी भी विभाग की तरफ से ऐसा कोई निर्देश जारी नहीं किया गया है। 

कुछ कीवर्ड्स की मदद से गूगल खंगालने पर हमें वायरल दावे से संबंधित कई मीडिया रिपोर्ट्स मिली।

Indian Express और India Today द्वारा प्रकाशित की गई मीडिया रिपोर्ट मिली। लेख के मुताबिक केंद्र सरकार द्वारा इस तरह का कोई आदेश जारी नहीं किया गया है। साथ ही इलेक्टॉनिक्स और आईटी मंत्रालय द्वारा भी इस तरह का कोई आदेश जारी नहीं किया गया है। 

https://indianexpress.com/article/technology/tech-news-technology/chinese-apps-google-play-app-store-6467833/
https://www.indiatoday.in/technology/news/story/govt-says-no-order-to-ban-chinese-apps-like-tiktok-and-others-from-google-play-app-store-1691074-2020-06-20

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रहे दावे का बारीकी से अध्ययन करने पर हमने पाया कि सरकार ने गूगल प्ले स्टोर और एप्पल स्टोर को चीनी ऐप्स हटाने का कोई आदेश नहीं दिया है। लोगों को भ्रमित करने के लिए इस तरह का भ्रामक दावा किया जा रहा है।  

Result: False

Tools Used:

Google keywords Search 

Twitter Search 

Media Reports 

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@https://newschecker.in/)

Neha Verma
After working for India News and News World India, Neha decided to provide the public with the facts behind the forwards they are sharing. She keeps a close eye on social media and debunks fake claims/misinformations.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular