मंगलवार, दिसम्बर 6, 2022
मंगलवार, दिसम्बर 6, 2022

होमहिंदीतारिक फ़तेह ने राजस्थान की वर्षों पुरानी क्लिप को दिल्ली चुनाव से जोड़कर किया शेयर

तारिक फ़तेह ने राजस्थान की वर्षों पुरानी क्लिप को दिल्ली चुनाव से जोड़कर किया शेयर

Claim-
साल 2020 के दिल्ली चुनाव में मुस्लिम गुंडे नारा लगा रहे है कि “हिदुस्तान में रहना है अल्लाह हुअक्बर कहना होगा ” 
 
Verification
दिल्ली में 8 फरवरी को हुए मतदान के दिन सोशल मीडिया पर तारिक फ़तेह ने एक वीडियो शेयर किया है। क्लिप मे देखा जा सकता है कि कुछ विशेष समुदाय के लोग एक साथ होकर हिदुस्तान में रहना होगा अल्लाह हू अक़बर कहना होगा ‘  वाला नारा लगाते हुए नजर आ रहे हैं। फ़तेह का दावा है कि वीडियो दिल्ली का है जहां चुनाव के दौरान एक विशेष समुदाय के गुंडे यह नारा लगा रहे हैं।
वीडियो के साथ वायरल हुए दावे की सत्यता जानने के लिए हमने अपनी पड़ताल आरम्भ की। इस दौरान सबसे पहले हमें यूट्यूब पर वायरल वीडियो साल 2017 को अपलोड प्राप्त हुआ।
खोज के दौरान ही हिंदी न्यूज़ सेंट्रल नामक वेबसाइट पर प्रकाशित एक लेख प्राप्त हुआ जहां वायरल वीडियो अपलोड कर उसकी जानकारी दी गयी है। लेख के मुताबिक साल 2017 को राजस्थान में ‘शम्भू रेगर’ नामक व्यक्ति द्वारा एक मुस्लिम युवक की निर्मम तरीके से हत्या करने के बाद उदयपुर में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने इसका विरोध प्रदर्शन चेतक सर्किल के सामने किया था।
मामले की सटीक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमने गूगल पर बारीकी से खोजा इस दौरान scrol.in नामक वेबसाइट पर एक लेख प्राप्त हुआ। लेख में इस बात का जिक्र हुआ है कि साल 2017 में उदयपुर के चेतक सर्किल में उस निर्मम हत्या के विरोध में प्रदर्शन हुआ था।

Rajasthan hate crime: Gruesome murder forgotten, protest rally by Muslims in Udaipur the villain now

Just under a fortnight after Muslim labourer Mohammad Afrazul was hacked to death and burnt in Rajasthan’s Rajsamand town on December 6 and a gruesome video of the crime went viral, the spotlight has shifted from the murder to a protest rally held by Muslims on December 8 in nearby Udaipur.

image.png
 इसके बाद हमने उदयरपुर के चेतक सर्किल की तस्वीरें गूगल पर खंगालना आरम्भ किया।जहां हमने प्राप्त तस्वीरों का वायरल वीडियो में दिख रहे दृश्य से मिलान किया।
यहाँ यह साबित हुआ कि प्रदर्शन वाला वीडियो राजस्थान के उदयपुर में चेतक सर्किल पर दर्शाया गया था। इस सभी तथ्यों के साथ हमने पाया कि वायरल वीडियो साल 2019 में भी गुजरात में वायरल हो हुआ था जिस पर  newschecker.in टीम ने पहले भी इसकी पड़ताल की थी।
इस सभी तथ्यों को परखने के बाद यह साबित हुआ कि वायरल वीडियो का दिल्ली चुनाव से कोई संबंध नहीं है।
Tools Used 
Google Search
Result- Misleading 
(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें ई-मेल करें: [email protected])
Nupendra Singh
Nupendra Singh
A rapid increase in the rate of fake news and its ill effect on society encouraged Nupendra to work as a fact-checker. He believes one should always check the facts before sharing any information with others. He did his Masters in Journalism & Mass Communication from Lucknow University.
Nupendra Singh
Nupendra Singh
A rapid increase in the rate of fake news and its ill effect on society encouraged Nupendra to work as a fact-checker. He believes one should always check the facts before sharing any information with others. He did his Masters in Journalism & Mass Communication from Lucknow University.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular