गुरूवार, दिसम्बर 1, 2022
गुरूवार, दिसम्बर 1, 2022

होमहिंदीपूर्व आरएसएस प्रचारक राजेश्वर सिंह द्वारा धर्म को लेकर दिया गया वर्षों...

पूर्व आरएसएस प्रचारक राजेश्वर सिंह द्वारा धर्म को लेकर दिया गया वर्षों पुराना विवादित बयान हुआ वायरल

Claim-
BJP leader Rajeshwar Singh says Islam and Christianity will be finished in India by 2021. This is a member of India’s ruling party openly boasting of his government’s intent to ethnically cleanse 200 million Muslims and 28 million Christians.
 
हिंदी अनुवाद- 
भाजपा नेता राजेश्वर सिंह ने कहा इस्लाम और ईसाई धर्म भारत में 2021 तक खत्म हो जायेंगे। यह सत्ताधारी पार्टी का सदस्य है जो सरेआम 20 करोड़ मुस्लिमों और 2.8 करोड़ ईसाईयों को भारत से खत्म करने की बात कहकर अपनी सरकार की मंशा जाहिर कर रहा है।
Verification- 
ट्विटर पर CJ werleman नामक हैंडल ने abp न्यूज़ के एक वीडियो को टैग करते हुए दावा किया है कि सत्ताधारी पार्टी के एक नेता ने विवादित बयान दिया है। बयान देने वाले नेता का नाम राजेश्वर सिंह बताया है जिन्होंने 2021 तक भारत से मुस्लिमों और ईसाईयों के ख़त्म हो जाने का दावा किया है। हमने वीडियो का सच जानने के लिए राजेश्वर सिंह के विवादित बयान को गूगल पर खोजा। इस दौरान यूट्यूब पर इंडिया टीवी न्यूज़ चैनल का साल 2014 में प्रसारित एक वीडियो प्राप्त हुआ। जहां हिन्दू धर्म जागरण मंच के नेता ‘राजेश्वर सिंह’ मुस्लिमों और ईसाईयों को 31 दिसंबर 2021 तक खत्म करने का बयान देते हुए नज़र आ रहे हैं।
यूट्यूब पर बारीकी से खोजने पर ABP चैनल द्वारा साल 2014 में अपलोड किया गया हूबहू वीडियो प्राप्त हुआ। जहां आरएसएस प्रचारक व हिन्दू धर्म जागरण समिति के संयोजक राजेश्वर सिंह ने विवादित बयान दिया है। उपरोक्त वीडियो को जाँचने पर पता चला कि राजेश्वर सिंह ने साल 2014 में वायरल दावे वाला बयान दिया था।
पड़ताल की अगली कड़ी में हमने पोस्ट में किये गए अगले दावे ‘राजेश्वर सिंह सत्ताधारी पार्टी से हैं’ की जाँच आरम्भ की। जाँच में हमें सबसे पहले दैनिक जागरण की वेबसाइट पर साल 2015 में प्रकाशित एक लेख प्राप्त हुआ। लेख के अनुसार राजेश्वर सिंह के विवादित बयान पर आरएसएस ने कार्रवाई करते हुए उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दिया था।
इसके साथ ही दैनिक भास्कर की वेबसाइट पर साल 2015 में प्रकाशित लेख से ‘राजेश्वर सिंह’ के संघ से कार्यमुक्त किए जाने वाली बात की पुष्टि हुई।
हमारी पड़ताल में साफ़ हो गया कि राजेश्वर सिंह बीजेपी के नेता नहीं, बल्कि आरएसएस के प्रचारक थे।
Tools Used 
  • Google Search
  • Youtube Search
Result- Misleading 
Nupendra Singh
Nupendra Singh
A rapid increase in the rate of fake news and its ill effect on society encouraged Nupendra to work as a fact-checker. He believes one should always check the facts before sharing any information with others. He did his Masters in Journalism & Mass Communication from Lucknow University.
Nupendra Singh
Nupendra Singh
A rapid increase in the rate of fake news and its ill effect on society encouraged Nupendra to work as a fact-checker. He believes one should always check the facts before sharing any information with others. He did his Masters in Journalism & Mass Communication from Lucknow University.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular