शनिवार, दिसम्बर 10, 2022
शनिवार, दिसम्बर 10, 2022

होमहिंदीJNU में हुए बवाल के दौरान SFI नेता को लगी चोट और...

JNU में हुए बवाल के दौरान SFI नेता को लगी चोट और इलाज को लेकर वायरल हुआ भ्रामक दावा

Claim:

JNU में हमले के बाद बाद गंभीर चोटों के साथ एसएफआई नेता सोर्य कृष्णा को आईसीयू में भर्ती कराया गया। लेकिन तिरूवनंतपुरम में 24 घंटे से भी कम समय में उनका हीरो की तरह स्वागत होता है। 

Verification:

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में नकाबपोश लोगों ने मारमीट की थी। साबरमती हॉस्टल और पेरियार के अंदर घुसकर मारपीट और तोड़फोड़ की गई थी। एक छात्र ने बताया कि वह खुद को बचाने के लिए बिल्डिंग की दूसरी मंजिल से कूद गया था। जेएनयू में हुए इस हमले के बाद से सोशल मीडिया पर अलग-अलग दावे किए जा रहे हैं। कई तस्वीरें और वाडियो भी सामने आईं हैं। इस हमले से संबंधित एक वीडियो फेसबुक और ट्विटर पर तेजी से शेयर हो रही है।

ट्विटर पर आधिकारिक हैंडल BJP Karanataka द्वारा एक वीडियो को शेयर किया गया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि एक जगह तो युवक घायल नज़र आ रहा है वहीं दूसरी ओर वह शख्स बिल्कुल ठीक नज़र आ रहा है। ट्विटर पर दावा किया जा रहा है कि JNU में हमले के बाद बाद गंभीर चोटों के साथ एसएफआई नेता सोर्य कृष्णा को आईसीयू में भर्ती कराया गया। लेकिन तिरूवनंतपुरम में 24 घंटे से भी कम समय में उनका हीरो की तरह स्वागत होता है।

कुछ कीवर्ड्स की मदद से हमने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही वीडियो को खंगाला। फेसबुक खंगालने के दौरान हमें JNU SFI Activist Soori Krishnan का एक वीडियो मिला। वीडियो में Soori Krishnan अपनी आपबीती बता रहे हैं कि कैसे उनपर JNU के अंदर पैरियार हॉस्टल के बाहर हमला हुआ। उनका कहना है कि ABVP के कुछ लोगों ने आकर उनके ऊपर लाठी और डंडो से हमला किया जिसकी वज़ह से उनका सिर फट गया था। 

SFI worker Soori Krishnan के ज़ख्मों को इन तस्वीरों में देखा जा सकता है। 

अधिक जानकारी के लिए हमने कुछ मीडिया रिपोर्ट्स को भी खंगाला। पड़ताल में हमें News18 Malayalam का लेख मिला। 

അക്രമികൾ ലക്ഷ്യമിട്ടത് ഐഷി ഘോഷിനെയെന്ന് ആക്രമണത്തിനിരയായ മലയാളി വിദ്യാർഥി സൂരി കൃഷ്ണ- News18 Malayalam

ക്യാംപസ് ഭീതിയിൽ.ഏതു നിമിഷവും ആക്രമണം നടക്കാം

हमारी पड़ताल में हमने सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे दावे को गलत पाया है। दरअयल SFI Soori Krishnan के ऊपर जेएनयू कैंपस के अंदर हमला हुआ था। उस दौरान वह घायल हुए थे जिसका इलाज उन्होंने AIIMS में कराया था। लोगों को भ्रमित करने के लिए सोशल मीडिया पर भ्रामक दावा किया जा रहा है। 

Tools Used:

Google Keywords Search 

Facebook Search 

Result: Misleading 

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें ई-मेल करें: [email protected])

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular