मंगलवार, नवम्बर 29, 2022
मंगलवार, नवम्बर 29, 2022

होमहिंदीभारत का नहीं है मासूम बच्ची को परिवार तक पहुंचाने की फरियाद...

भारत का नहीं है मासूम बच्ची को परिवार तक पहुंचाने की फरियाद करने वाला पुलिसकर्मी का वीडियो

Claim:

This baby in Nagpur station she can speak only Tamil. Just forward to best of your known people. It may reach appropriate person. 

वीडियो में नज़र रही बच्ची नागपुर स्टेशन पर मिली है और यह बच्ची केवल तमिल भाषा बोल सकती है। इस वीडियो को अपने जानकारों के पास शेयर करें जिससे यह सही व्यक्ति के पास पहुंच जाए। 

Verification:

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में एक रोती हुई मासूम बच्ची पुलिसकर्मी की गोद में नज़र रही है। वीडियो में पुलिसकर्मी अपनी पहचान भी बता रहा है। पुलिसकर्मी द्वारा दावा किया गया है कि बच्ची बहुत छोटी है जो कुछ जानकारी नहीं बता पा रही है। वहीं पुलिसकर्मी अपना नाम सरफराज़ अवान बता रहा है जो कि ख्वाज़ा अजमेर नगरी थाना में कार्यरत है।

यहाँ देखा जा सकता है कि किस तरह यह सन्देश फेसबुक और ट्विटर पर वायरल हो रहा है। 

Google Reverse Image Search और कुछ कीवर्ड्स की मदद से हमने वायरल वीडियो को खंगाला। पड़ताल के दौरान YouTube पर हमें Karachi Today का वीडियो मिला जहां हमने वायरल वीडियो को दिसंबर 2018 का पाया। YouTube पर प्राप्त वीडियो में भी जानकारी दी गई है कि ख्वाज़ा अजमेर नगरी पुलिस को एक बच्ची मिली है। 

वायरल वीडियो में पुलिसकर्मी दावा कर रहा है कि वह ख्वाज़ा अजमेर नगरी थाने में तैनात है। Google पर यह कीवर्ड्स डालने पर हमें जानकारी मिली की ख्वाज़ा अजमेर नगरी थाना भारत में नहीं बल्कि कराची में है। 

पड़ताल के दौरान हमने तस्वीर में दिख रहे पुलिसकर्मी की यूनिफॉर्म को गौर से देखा जहां पता चला कि यह वर्दी पाकिस्तान पुलिस की है।

हमारी पड़ताल में हमने सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो को दिसंबर 2018 का पाया है। पड़ताल के दौरान हमने जाना कि वायरल हो रहा वीडियो भारत का नहीं बल्कि पाकिस्तान का है। 

Tools Used:

  • Google Reverse Image Search
  • Google Keywords Search
  • YouTube Search

Result: Fake

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular