शुक्रवार, अक्टूबर 7, 2022
शुक्रवार, अक्टूबर 7, 2022

होमहिंदीWEEKEND WRAP: PM मोदी के सफाई फोटोशूट में खर्च हुए करोड़ों, ऐसे...

WEEKEND WRAP: PM मोदी के सफाई फोटोशूट में खर्च हुए करोड़ों, ऐसे कई दावे जो आपको लगे सच

इस हफ़्ते किन-किन फ़ेक ख़बरों से भरा रहा सोशल मीडिया, पढ़ें

1. राहुल गांधी के भाषण को कांटछांट कर किया गया पेश

बस इसलिए भारत की जनता को तुम पसंद नहीं हो @RahulGandhi pic.twitter.com/FrDzc22JiO

— Manjinder S Sirsa (@mssirsa) October 13, 2019

चांद पर जाने से पेट नहीं भरता,
बैंकाक जाने से भरता हैंराहुल गांधी

— Kapil Mishra (@KapilMishra_IND) October 14, 2019

अकाली नेता मनजिंदर सिंह सिरसा और भाजपा के कपिल मिश्रा ने राहुल गांधी के भाषण को तोड़मरोड़ कर सोशल मीडिया पर पोस्ट किया जिसके बाद राहुल को सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल किया गया। दरअसल महाराष्ट्र चुनाव के लिए 13 अक्टूबर को लातूर पहुंचे राहुल गांधी के बयान से छोटेछोटे क्लिप निकाल कर उन्हें भ्रामक दावों के साथ वायरल किया गया। राहुल गांधी का पूरा बयान नीचे देखा जा सकता है।

2. महाबलीपुरम में नरेंद्र मोदी की सुरक्षा पर नहीं खर्च हुए 20 करोड़ रुपये, पुरानी तस्वीरों के साथ वायरल हुआ भ्रामक सन्देश

प्रधानमंत्री मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की चैन्नई में हुई मुलाकात काफी चर्चे में रही फिर वो जिनपिंग का भव्य स्वागत हो या फिर प्रधानमंत्री द्वारा महाबलीपुरम के तट पर सफाई करती तस्वीरें। सोशल मीडिया में ख़बरें वायरल की गई कि पीएम के इस सफाई फोटोशूट में करोड़ों का खर्च आया है और पूरी कैमरा टीम के साथ पीएम का शूट किया गया। इस दावे के साथ जो तस्वीरें शेयर की गई इनमें से एक स्कॉटलैंड के एक इंस्टीट्यूट द्वारा किए गए एक शूट की थीं और दूसरी कोझीकोड़े बीच पर सुरक्षाकर्मियों की।

3. गौतम अडानी की पत्नी के सामने पीएम मोदी ने नहीं झुकाया सिर, वायरल हुआ भ्रामक सन्देश

तस्वीर में दिखाई दे रही महिला, बिज़नेसमैन गौतम अडानी की पत्नी प्रीति अडानी नहीं बल्कि कर्नाटक के तुमकुर शहर की पूर्व मेयर गीता रुद्रेश है। तस्वीर 2014 की है जब प्रधानमंत्री मोदी, बेंगलुरू में एक फूड पार्क का उद्घाटन करने पहुंचे थे। पीएम मोदी की ये तस्वीर इससे पहले भी कई बार भ्रामक दावों के साथ शेयर की जाती रही है।

4. बांग्लादेश में हुई हत्या के आरोपी को मुर्शिदाबाद मर्डर केस का आरोपी बताकर सोशल मीडिया में किया गया शेयर

यही है वो
जिसने मुर्शिदाबाद के आर एस एस दल के कार्यकर्ता को उसके परिवार के साथ मौत के घाट उतार दिया
इसके बारे में कुछ कहना चाहोगे या मौन रहना है? pic.twitter.com/8SsnMnajs2

— Sanjay gupta BJP FB (@SanjayGupta____) October 13, 2019

पश्चिम बंगाल के मुर्शीदाबाद में 8 अक्टूबर को RSS कार्यकर्ता की परिवार समेत बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। जिसके बाद सोशल मीडिया पर तरहतरह के संदेश वायरल हुए। इस हत्याकांड को सांप्रदायिक रंग देने की भी पूरी कोशिश की गई। एक तस्वीर को शेयर कर इसमें दिख रहे शख्स को मुर्शीदाबाद हत्याकांड का आरोपी बताया गया लेकिन पड़ताल में यह दावा ग़लत साबित हुआ। ये तस्वीर असल में बांग्लादेशी छात्र की हत्या के एक आरोपी और उसके पिता की है, जिसे उसने फेसबुक पर 10 जून को पोस्ट किया था।

5. TMC सांसद नुसरत जहां ने किया धुनुची नृत्य!

दुर्गा पूजा के बाद फेसबुक समेत सोशल मीडिया के अन्य प्लेटफॉर्म पर ये वीडियो ख़ासा शेयर किया गया। दावा किया गया कि वीडियो में धुनुची नृत्य कर रही महिला TMC की सांसद नुसरत जहां है। लेकिन नृत्य कर रही ये महिला नुसरत जहां नहीं रश्मि मश्रा हैं जिन्होंने अपना ये वीडियो फेसबुक पर 7 अक्टूबर को डाला था।

6. अबू धाबी के क्रॉउन प्रिंस ने नहीं किया जय सियाराम का जाप, सोशल मीडिया में वायरल हुई भ्रामक क्लिप

मंदिर_वहीं_बनाएंगे

Abu Dhabi Crown Prince chanting Jai Siya Ram
and Muslim lady from UAE carried Ramayana on her head

Worshipped by millions of Hindus, This is how Lord Ram is worshipped across the globe.#ThursdayThoughts #ThursdayMotivation #AyodhyaVerdict pic.twitter.com/xvOSgYoH6g

— Geetika Swami (@SwamiGeetika) October 17, 2019

एक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ। इस दावे के साथ कि अबुधाबी के प्रिंस ने जय सियाराम का जाप किया और एक मुस्लिम महिला ने रामायण ग्रंथ को सिर पर उठाया। हमारी टीम ने किए जा रहे दावे को भ्रामक पाया। वीडियो में दिख रहा शख्स अबुधाबी प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान नहीं बल्कि UAE के स्तंभकार सुल्तान सूद अल कासेमी हैं और रामायण को सिर पर लेने वाली महिला अबुधाबी के प्रिंस के घराने से नहीं थी बल्कि आयोजक की बेटी थी।

फेक ख़बरों और तस्वीरों को पहचानना बेहद आसान है, जरूरत है तो बस थोड़ा-सा जागरुक रहने की। फेक न्यूज से लड़ने के लिए हमारा साथ दें। Newschecker सोशल मीडिया पर भी मौजूद हैं, फेक न्यूज़ से संबंधित किसी भी जानकारी के लिए हमें टैग करें।

फेसबुक के लिए: Newschecker @Facebook

ट्विटर के लिए: Newschecker @Twitter

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular