रविवार, अक्टूबर 2, 2022
रविवार, अक्टूबर 2, 2022

होमCoronavirusक्या कोई मास्क दिला सकता है कोरोना वायरस के संक्रमण से छुटकारा?...

क्या कोई मास्क दिला सकता है कोरोना वायरस के संक्रमण से छुटकारा? बिजनेसमैन आंनद महिंद्रा का ट्वीट वायरल

Claim: 

कोरोना वायरस को खत्म कर देगा मास्क.

जानिए क्या है वायरल दावा:

इस समय पूरी दुनिया घातक कोरोना वायरस से लड़ रही है। दिसंबर, 2019 के अंत में शुरू हुए कोरोना वायरस के संक्रमण से अब तक दुनियाभर में सात हजार से ज़्यादा मौतें हो चुकी हैं। भारत में (COVID-19) के 126 मामले सामने आ चुके हैं। ऐसे में ट्विटर पर Mahindra Group of Companies के संस्थापक Anand Mahindra ने अपने आधिकारिक हैंडल से ट्वीट कर कहा, उनके एक दोस्त ने उन्हें सबसे अच्छा गिफ्ट भेजा है। एक भारतीय आविष्कारक द्वारा स्थापित स्विश कंपनी ने कोरोना से लड़ने के लिए ख़ास मास्क तैयार किया है जो वायरस को खत्म कर सकता है। livinguard कंपनी भारत में उत्पादन बढ़ा रही है

Verification:

कोरोना वायरस (COVID-19) से देश में तीसरी मौत हो चुकी है। मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में 64 वर्षीय मरीज ने दम तोड़ दिया है। इससे पहले कर्नाटक और दिल्ली में एक-एक मरीज की कोरोना के चलते मौत हो चुकी है। देश के कई राज्यों से कोरोना वायरस के नए-नए मामले सामने आने के बाद संक्रमित लोगों की संख्या मंगलवार को बढ़कर 126 हो गई है। जबकि दिल्ली से सटे नोएडा में एक महिला और एक पुरूष का टेस्ट पॉजिटिव आया है। अभी तक देश के 15 राज्यों में कोरोना वायरस फैल चुका है। ऐसे में लोगों को सक्रिय रूप से मास्क पहनने और इसका सही उपयोग करने के लिए बताया जा रहा है।

दुकानों पर इस समय मास्क की कीमत आसमान छू रही है और मार्केट में मास्क और सैनिटाइज़र का स्टॉक भी खत्म हो गया है। 

क्या सच में यह मास्क कोरोना वायरस को मार सकता है इसकी पुष्टि के लिए हमने livinguard की वेवसाइट पर कुछ कीवर्ड्स की मदद से खोजा। पड़ताल के दौरान हमने पाया कि लिविंगगार्ड कंपनी ने N95 मास्क बनाया है, जो कि वायु-प्रदूषण से सुरक्षा के काम आता है। साथ ही यह मास्क प्रदूषण फैलाने वाले एजेंटों से बचाने के लिए उपयोगी है। 

वायरल दावे की तह तक जाने के लिए हमने World Health Organization की वेबसाइट को खंगाला। पड़ताल के दौरान हमें वायरल दावे से संबंधित कोई जानकारी नहीं मिली जिससे यह साबित हो कि मास्क कोरोना वायरस को मार सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन की वेबसाइट पर जारी प्रश्न-उत्तर के कॉलम में हमने पढ़ा कि क्या अपनी सुरक्षा के लिए हमें  मास्क पहनना चाहिए? 

खोज में हमने जाना अगर कोई स्वस्थ व्यक्ति किसी संदिग्ध 2019-nCOV संक्रमण वाले शख्स की देखभाल कर रहा है तो उसे अपनी सुरक्षा के लिए मास्क ज़रूर पहनना चाहिए। जिन लोगों को खांसी या जुकाम है, जिसके कारण उन्हें छींके आती हैं ऐसे शख्स के लिए मास्क पहनना आवश्यक है। लेकिन इस बात की कोई जानकारी नहीं मिली कि मास्क घातक वायरस को मारता है।

WHO South-East Asia ने ट्वीट कर मास्क संबंधित जानकारी दी है जिसको आप नीचे देख सकते हैं।

नीचे वीडियो में आप देख सकते हैं कि आखिर किन लोगों को मास्क पहनना ज़रूरी है और इसे कब और कैसे इस्तेमाल करना चाहिए।

वायरल दावे की जांच के दौरान हमने पाया कि मास्क दो प्रकार के होते हैं।

  1. सर्जिकल मास्क
  2. N95 मास्क

किसके लिए ज़रूरी है सर्जिकल मास्क:

कोरोना वायरस के डर से सभी लोग मास्क लगा रहे हैं। लेकिन सभी लोगों को मास्क लगाने की ज़रूरत नहीं है। अगर आपको खांसी-जुकाम है तो मास्क लगा सकते हैं, ताकि छींकते और खांसते वक्त इंफेक्शन नहीं फैले। 

किसके लिए ज़रूरी है N95 मास्क:

N95 मास्क उनके लिए ज़रूरी है जो लोग अस्पताल में काम करते हैं क्योंकि वहां कोरोना वायरस संक्रमित मरीज़ भी मौजूद होते हैं, जिससे उन्हें इंफेक्शन होने के ज़्यादा चांस होते हैं।  

हमारी पड़ताल नें हमने पाया कि इस बात में कोई सच्चाई नहीं है कि मास्क लगाने से घातक कोरोना वायरस (COVID-19) मर जाता है। मास्क केवल प्रदूषण और इंफेक्शन से बचाने में मदद करता है लेकिन सोशल माडिया पर लोगों को भ्रमित करने करने के लिए भ्रामक दावा किया जा रहा है। 

Tools Used:

Google Keywords Search

Result: False 

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: [email protected])

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular