मंगलवार, अक्टूबर 19, 2021
मंगलवार, अक्टूबर 19, 2021
होमCoronavirusक्या वायरल तस्वीर में दिख रहा व्यक्ति है मुंबई का लैब टेक्नीशियन...

क्या वायरल तस्वीर में दिख रहा व्यक्ति है मुंबई का लैब टेक्नीशियन अब्दुल खान? सोशल मीडिया पर तस्वीर के साथ शेयर किया गया भ्रामक दावा

एक बार फिर से कोरोना वायरस के केस बढ़ने लगे हैं। सबसे ज्यादा केस महाराष्ट्र में देखने को मिल रहे हैं। यही कारण है कि सरकार कई इलाकों में कर्फ्यू तक लगा रही है। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के साथ-साथ फर्जी कोरोना रिपोर्ट के मामले भी बढ़ते जा रहे हैं। इसी बीच सोशल मीडिया पर ऐसी ही एक खबर काफी वायरल है। सोशल मीडिया पर एक शख्स की फोटो को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि मुंबई का लैब टेक्नीशियन अब्दुल खान, हिंदुओं की नेगेटिव कोरोना रिपोर्ट को पॉजिटिव बना रहा था।

Crowd Tangle पर मिले डाटा के मुताबिक अभी तक सैकड़ों लोग इस तस्वीर को ट्विटर और फेसबुक पर शेयर कर चुके हैं। डेटा के मुताबिक अभी तक Anil Kumar Mishra नाम के एक ट्विटर अकाउंट की पोस्ट को सबसे ज्यादा रिट्वीट मिले हैं। जबकि फेसबुक पर Hindu पेज की पोस्ट को सबसे ज्यादा लाइक और शेयर मिले हैं। पोस्ट से जुड़े अर्काइव लिंक को यहां और यहां देखा जा सकता है।

लैब टेक्नीशियन

Fact Check/Verification

वायरल दावे का सच जानने के लिए हमने सबसे पहले गूगल रिवर्स इमेज के जरिए वायरल तस्वीर को सर्च किया। इस दौरान हमें वायरल तस्वीर से जुड़ी Patrika, NBT और News18 की मीडिया रिपोर्ट्स मिली। जिन्हें 16 दिसंबर 2020 को प्रकाशित किया गया था। इन रिपोर्ट्स के मुताबिक तस्वीर में दिख रहे शख्स का नाम अमर बहादुर चौधरी है जो उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले के एक अस्पताल में लैब टेक्नीशियन के तौर पर काम करता था। ये शख्स लोगों से 1500 रुपए लेकर बिना टेस्ट किए उनकी मांग पर फर्जी कोरोना रिपोर्ट तैयार करता था। 

लैब टेक्नीशियन

छानबीन को आगे बढ़ाते हुए हमने गूगल पर कुछ कीवर्ड्स के जरिए सर्च किया। इस दौरान हमें India Today के यूट्यूब चैनल पर वायरल दावे से जुड़ा एक वीडियो मिला। जिसे 14 दिसंबर 2020 को अपलोड किया गया था। वीडियो के डिस्क्रिप्शन में भी यही जानकारी दी गई है कि वीडियो उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले का है। इस वीडियो में लैब टेक्नीशियन के वीडियो को दिखाया गया है। जिसमें वो गलत रिपोर्ट देने के लिए 1500 रुपए मांगते हुए नजर आ रहा है।

हमें वायरल दावे से जुड़ी India Today की एक रिपोर्ट मिली। जिसे 15 दिसंबर साल 2020 को प्रकाशित किया गया था। इस रिपोर्ट में उत्तर प्रदेश की कई लैबों द्वारा कोरोना वायरस की गलत रिपोर्ट तैयार करने के बारे में खुलासा किया गया था। इन्हीं में से एक उन्नाव जिला अस्पताल में काम करने वाला लैब टेक्नीशियन अमर बहादुर चौधरी भी था। वह किसी के लिए भी सिर्फ 1500 रुपए में जैसी चाहिए वैसी रिपोर्ट तैयार कर सकता था। India Today ने अपनी रिपोर्ट में अमर बहादुर चौधरी द्वारा दी गई गलत रिपोर्ट को भी प्रकाशित किया है।

लैब टेक्नीशियन

सर्च के दौरान हमें मुंबई घटना से जुड़ी Hindustan Times की न्यूज़ रिपोर्ट मिली। जिसके मुताबिक अब्दुल खान मुंबई के शिवाजी नगर में एक लैब चलता था। जिसमें वो बिना सैंपल की जांच किए लोगों को नेगेटिव रिपोर्ट दे देता था। अब्दुल खान द्वारा गलत रिपोर्ट देने का खुलासा तब हुआ, जब 71 साल के एक बुजुर्ग ने उसकी लैब से जांच करवाई और उसने रिपोर्ट नेगेटिव दे दी। जिसके बाद उनकी तबीयत और ज्यादा बिगड़ने लगी। फिर उन्होंने एक प्राइवेट अस्पताल में जाकर जांच कराई तो उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उन्होंने इसकी शिकायत की। जिसके बाद पुलिस ने इसकी जांच की और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

लैब टेक्नीशियन

दावे के बारे में पूरी सच्चाई जानने के लिए हमने शिवाजी नगर के सीनियर इंस्पेक्टर Kishor Gayke से बातचीत की। उन्होंने बताया कि लैब टेक्नीशियन अब्दुल खान को आईपीसी की धारा 420, 418, 465, 468, 470, 471, 500, 188 और खतरनाक बीमारी फैलने के चलते धारा 269 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया है। साथ ही उन्होंने हमें ये भी बताया कि इस केस में हिंदू-मुस्लिम जैसा कुछ नहीं है। अब्दुल खान लोगों को कोरोना वायरस की गलत रिपोर्ट देता था। आरोपी अपने लैब में गलत रिपोर्ट तैयार करने के लिए थायरोकेयर के स्टंप और फर्जी बारकोड का इस्तेमाल करता था। उसने लॉकडाउन के दौरान भी कई लोगों को गलत रिपोर्ट्स दी हैं। जिसके जरिए उसने काफी पैसा कमाया था। उन सभी मामलों की जांच हो रही है।

Conclusion

हमारी पड़ताल में मिले तथ्यों के मुताबिक वायरल पोस्ट में किया जा रहा दावा गलत है। जिस शख्स की तस्वीर शेयर की जा रही है, वो अमर बहादुर चौधरी है जो उन्नाव के जिला अस्पताल में लैब टेक्नीशियन के तौर पर काम करता था। उसे 1500 रुपए में कोरोना वायरस की गलत रिपोर्ट तैयार करने के जुर्म में दिसंबर 2020 में गिरफ्तार कर लिया गया था। अमर बहादुर चौधरी का मुंबई केस से कोई संबंध नहीं है। तस्वीर को गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। 

Result: False


Our Sources

India Today – https://www.indiatoday.in/coronavirus-outbreak/story/exclusive-that-how-some-lab-staff-are-counterfeiting-coronavirus-reports-1749748-2020-12-15

India Today – https://www.youtube.com/watch?v=qZt-LLVZ8QA

Hindustan Times – https://www.hindustantimes.com/cities/mumbai-news/mumbai-lab-operator-arrested-over-false-covid-19-report-101615144033996.html

Patrika – https://www.patrika.com/unnao-news/kovid-19-positive-report-available-here-for-only-rs-150-6575444/

NBT –https://navbharattimes.indiatimes.com/state/uttar-pradesh/others/fake-corona-positive-report-scam-revealed-in-unnav-district-hospital-case-filed/articleshow/79752241.cms

News18 – https://hindi.news18.com/news/uttar-pradesh/lab-technician-used-to-make-fake-corona-report-with-money-arrested-cgpg-3379382.html


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

Pragya Shukla
Pragya has completed her Masters in Mass Communication, and has been doing content writing for the last four years. Due to bias and incomplete facts in mainstream media, she decided to become a fact-checker.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular