बुधवार, अक्टूबर 5, 2022
बुधवार, अक्टूबर 5, 2022

होमFact Checkखाने में पेशाब मिलाती नौकरानी की 11 साल पुरानी वीडियो को सांप्रदायिक...

खाने में पेशाब मिलाती नौकरानी की 11 साल पुरानी वीडियो को सांप्रदायिक दावे के साथ किया जा रहा है शेयर

‘खाने में पेशाब मिलाती नौकरानी’ के कैप्शन के साथ सोशल मीडिया पर न्यूज़ 24 की 2 मिनट 40 सेकेंड की एक वीडियो वायरल हो रही है। यह वीडियो एक रसोई घर की है जहां एक नौकरानी को खाने में पानी जैसा कुछ मिलाते हुए देखा जा सकता है। दावा किया जा रहा है कि नौकरानी एक मुस्लिम सम्प्रदाय की महिला है जो एक हिंदू परिवार के यहां खाना बनाती थी। खाने में पेशाब मिलाती नौकरानी का यह वीडियो भोपाल का बताया जा रहा है।

वायरल पोस्ट के आर्काइव वर्ज़न को यहां और यहां देखा जा सकता है।

देखा जा सकता है कि इस वीडियो को ट्विटर और फेसबुक पर अलग-अलग यूज़र्स द्वारा शेयर किया जा रहा है। 

https://www.facebook.com/rockingshyammishra/videos/275226957334453

https://www.facebook.com/BJPHDI/videos/246101727225695

Fact Check/Verification

भोपाल में खाने में पेशाब मिलाती नौकरानी के नाम पर वायरल हो रही वीडियो की सत्यता जानने के लिए हमने पड़ताल शुरु की। वायरल वीडियो को बारीकी से देखने पर हमें क्लिप की बाईं तरफ ’17-10-2011′ लिखा हुआ दिखाई दिया। इससे यह साफ हो गया कि वायरल वीडियो हाल फिलहाल की नहीं है।

खाने में पेशाब मिलाती नौकरानी

क्या है खाने में पेशाब मिलाती नौकरानी का सच?

पड़ताल जारी रखते हुए गूगल कीवर्ड सर्च की मदद से खोजने पर हमें 18 अक्टूबर, 2011 को दैनिक जागरण और Times of India द्वारा प्रकाशित की गई मीडिया रिपोर्ट्स मिली। इन रिपोर्ट्स के मुताबिक वीडियो में नज़र आ रही नौकरानी का नाम आशा कौशल है। यह महिला भोपाल के सुरेंद्र गार्डन में रहने वाले मुकेश सूरी जो कि इंटिरियर डेकोरेशन थे, उनके यहां काम करती थी। पुलिस की पूछताछ में आशा कौशल ने बताया कि उनका मालिक उनकी बेटी के प्रति कथित तौर पर गलत व्यवहार करता था। इसलिए मजबूरन आशा ने इस तरह की घिनौनी हरकत की थी। 

खाने में पेशाब मिलाती नौकरानी

YouTube खंगालने पर हमें Sapeksh Kumar और Jansandeshnews नामक चैनल पर अपलोड की गई वीडियोज़ मिली। प्राप्त वीडियोज में बताया गया है कि भोपाल में एक नौकरानी ने मालिक से बदला लेने के लिए पीने के पानी में पेशाब मिला दिया था। लेकिन पूरे वीडियो में कहीं भी नौकरानी के मुस्लिम होने का ज़िक्र नहीं किया गया है। 

Conclusion

खाने में पेशाब मिलाती नौकरानी के नाम से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही वीडियो का बारीकी से अध्ययन करने पर हमने पाया कि 2011 में भोपाल में हुई घटना की वीडियो को अभी का बताकर सांप्रदायिक एंगल के साथ शेयर किया जा रहा है। पड़ताल में हमने पाया कि वायरल वीडियो में नज़र आ रही महिला का नाम हसीना नहीं बल्कि आशा है।


Result: False


Our Sources

Dainik Jagran https://www.jagran.com/madhya-pradesh/bhopal-here-heading-in-english-for-story8369558-8369558.html

Times of India https://timesofindia.indiatimes.com/city/indore/Police-searching-for-motive-behind-bizarre-act-of-domestic-help/articleshow/10398529.cms?from=mdr

YouTube https://www.youtube.com/watch?v=toLaO0zCF_A


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular