शुक्रवार, मई 20, 2022
शुक्रवार, मई 20, 2022

होमFact Checkहैदराबाद के बीजेपी विधायक टी राजा सिंह की गिरफ़्तारी का पुराना वीडियो...

हैदराबाद के बीजेपी विधायक टी राजा सिंह की गिरफ़्तारी का पुराना वीडियो भ्रामक दावे के साथ हुआ वायरल

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर यह दावा किया गया है कि हैदराबाद के बीजेपी MLA टी राजा सिंह को हाल ही में गिरफ्तार कर लिया गया क्योंकि उन्होंने सार्वजनिक रूप से मंदिर के सामने नमाज पढ़ रही एक भीड़ का विरोध किया था। 

(Viral Tweet)

वायरल ट्वीट का आर्काइव वर्जन यहां देखा जा सकता है।

साल 2022 में 5 राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। जिसके चलते सभी राजनीतिक पार्टियां चुनावी राज्यों में लगातार जनसभा को संबोधित कर अपना वोटबैंक बनाने की कोशिश में लगी हुई हैं। Zee News की एक रिपोर्ट के मुताबिक, बीते 22 दिसंबर को उत्तर प्रदेश के कानपुर में AIMIM के अध्यक्ष और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी द्वारा एक जनसभा को संबोधित करते हुए आपत्तिजनक भाषण दिया गया था कि ‘योगी मठ चले जाएंगे , मोदी पहाड़ों में तो फिर तुम्हें कौन बचाएगा?’ जिसके बाद उन्नाव के बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने पलटवार करते हुए कहा था कि ‘ओवैसी खुद कहां जाएगा वो इस बात की चिंता करे। ओवैसी को ठीक करने के लिए हमारा हैदराबाद का टी राजा ही पर्याप्त है। अगर हिम्मत हो तो ओवैसी पहले उन्हीं से बात कर लें।’ वहीं, ओवैसी के भाषण का जवाब देते हुए हैदराबाद की गोशामहल सीट से विधायक टी राजा सिंह ने कहा कि ‘तुम जब-जब औरंगजेब और अकबर बनने का सपना देखोगे, हम तब-तब शिवाजी और महाराणा बनकर तुम्हारी नस्लें खत्म कर देंगे।’ 

इसी बीच अब सोशल मीडिया पर एक वीडियो को शेयर कर दावा किया गया है कि ‘हैदराबाद के बीजेपी MLA टी राजा सिंह को हाल ही में गिरफ्तार कर लिया गया।’ 

वायरल दावे को ट्विटर पर अन्य कई यूजर्स द्वारा भी शेयर किया गया है।

(Tweet Post)
(Tweet Post)

ट्वीट्स का आर्काइव वर्जन यहां और यहां देखा जा सकता है।

वायरल दावे को फेसबुक पर भी कई यूजर्स द्वारा पोस्ट किया गया है।

हैदराबाद के बीजेपी MLA टी राजा सिंह को हाल ही में गिरफ्तार कर लिया गया
(Screenshot Of Facebook Post)
हैदराबाद के बीजेपी MLA टी राजा सिंह को हाल ही में गिरफ्तार कर लिया गया
(Screenshot Of Facebook Post)

फेसबुक पोस्ट्स को यहां और यहां देखा जा सकता है।

Fact Check/ Verification

क्या हैदराबाद के बीजेपी MLA टी राजा सिंह को हाल ही में गिरफ्तार कर लिया गया? वायरल दावे के साथ शेयर किए गए वीडियो का सच पता लगाने के लिए हमने पड़ताल शुरू किया। इसके लिए हमने सबसे पहले वीडियो को कीफ्रेम्स में बदला, फिर एक कीफ्रेम को कुछ कीवर्ड्स की सहायता से गूगल पर सर्च करना शुरू किया। इस दौरान हमें एक यूट्यूब चैनल प्राप्त हुआ, जहाँ 6 मई 2019 को एक वीडियो अपलोड किया गया था। जो वर्तमान में ‘हैदराबाद के बीजेपी MLA टी राजा सिंह को हाल ही में गिरफ्तार कर लिया गया’ दावे के साथ वायरल है।  

हैदराबाद के बीजेपी MLA टी राजा सिंह को हाल ही में गिरफ्तार कर लिया गया
(कीफ्रेम की मदद से गूगल पर सर्च के दौरान प्राप्त नतीजों का स्क्रीनशॉट)

वीडियो के नीचे लिखा गया था कि हिंदू के कट्टर योद्धा को गिरफ्तार करती तेलंगाना की पुलिस झुंड, लेकिन राजा सिंह इस झुंड का अकेला ही मुकाबला कर रहे हैं। हैदराबाद में गैर तरीके नमाज पढ़ने वालों का राजा सिंह ने विरोध किया और नमाज बंद करने की धमकी दी। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया। 

(YouTube Video)

सोशल मीडिया पर राजा सिंह की गिरफ्तारी को लेकर शेयर किए जा रहे वीडियो के बारे में किसी आधिकारिक जानकारी के लिए हमने कुछ कीवर्ड्स की सहायता से गूगल पर खोजना शुरू किया। इस दौरान हमें वायरल दावे से संबंधित साल 2019 का एक वीडियो और राजा सिंह का एक ट्वीट प्राप्त हुआ।

हैदराबाद के बीजेपी MLA टी राजा सिंह को हाल ही में गिरफ्तार कर लिया गया
(कीवर्ड्स की सहायता से गूगल पर सर्च के दौरान प्राप्त परिणामों का स्क्रीनशॉट)

6 मई 2019 को Dekho Bharat नामक YouTube चैनल पर एक वीडियो अपलोड किया गया था। जिसे वर्तमान में हैदराबाद में बीजेपी के MLA टी राजा सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

(YouTube video)

इसके अलावा 5 मई 2019 को राजा सिंह (Raja Singh) द्वारा किया गया एक ट्वीट प्राप्त हुआ। ट्वीट में टी राजा सिंह को पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर ले जाया जा रहा था और वे उनका विरोध करते हुए नजर आए। वीडियो को शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा गया ‘रजाकार (एक निजी सेना) सरकार के दबाव में पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया।’

(MLA Raja Singh Tweet)

Conclusion

हमारी पड़ताल में प्राप्त तथ्यों से यह बात स्पष्ट हो जाती है कि सोशल मीडिया पर वायरल ‘हैदराबाद के बीजेपी MLA टी राजा सिंह को हाल ही में गिरफ्तार कर लिया गया क्योंकि उन्होंने सार्वजनिक रूप से मंदिर के सामने नमाज पढ़ रहे एक अल्पसंख्यक समूह का विरोध किया था’ दावे के साथ शेयर किया गया वीडियो, हाल-फिलहाल का नहीं है। यह वीडियो साल 2019 का है, जिसे हालिया दिनों का बताकर शेयर किया जा रहा है।

Result: Misleading

Sources:

YouTube Channel

Raja Singh Twitter Handle


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular