शनिवार, दिसम्बर 10, 2022
शनिवार, दिसम्बर 10, 2022

होमFact Checkदिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शन करने वाली मुस्लिम औरतें किसान आंदोलन...

दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शन करने वाली मुस्लिम औरतें किसान आंदोलन में पहुंची, जानिए वायरल दावे का सच

बुर्का पहने कुछ मुस्लिम औरतों (muslim women) की तस्वीर इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। इस तस्वीर को शेयर कर दावा किया जा रहा है कि, दिल्ली के शाहीन बाग में प्रदर्शन करने वाली मुस्लिम औरतों (muslim women) ने अब किसान आंदोलन में अपना डेर जमा लिया है। सिंघु बॉर्डर अब असल में शाहीन बाग बन चुका है।

पोस्ट से जुड़ा आर्काइव लिंक यहां देखा जा सकता है।

Fact Check/Verification

तस्वीर का सच जानने के लिए पड़ताल शुरू करते हुए, सबसे पहले हमने वायरल तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज के जरिए सर्च किया। जिसके बाद इस वायरल फोटो से जुड़ी कई जानकारियां हमारे हाथ लगी। हमें यही हूबहू तस्वीर भारतीय किसान यूनियन के फेसबुक पेज पर भी मिली। जो कि 14 जनवरी को अपलोड की गई थी। इस तस्वीर के कैप्शन में भारतीय किसान यूनियन एकता उग्राहन लिखा गया था।

https://www.facebook.com/bkuektaugrahan/photos/a.275916659594151/1060080644511078

अपनी पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए हमने भारतीय किसान यूनियन के दूसरे सोशल मीडिया अकाउंट को खंगालना शुरू किया। जिसके बाद हमें यही तस्वीर भारतीय किसान यूनियन के ट्विटर हैंडल पर भी मिली। जो कि 14 जनवरी 2020 को अपलोड की गई थी। इस तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा गया था कि मुस्लिम समुदाय किसानों को समर्थन करने के लिए टिकरी बॉर्डर पर आया।

साथ ही इस तस्वीर को शेयर करते हुए यह भी बताया गया था कि मुस्लिम समुदाय की ये महिलाएं टिकरी मालेरकोटला से किसान आंदोलन का समर्थन करने के लिए पहुंची हैं। मालेरकोटला पंजाब का एक शहर है, ऐसे में ये तो साफ है कि ये महिलाएं दिल्ली की नहीं बल्कि पंजाब की हैं। जो कि किसान आंदोलन को समर्थन देने के लिए पहुंची थी।

हमें इन तस्वीरों से जुड़ी कुछ और तस्वीरें भारतीय किसान यूनियन के इंस्टाग्राम पर भी देखने को मिली। यहां पर भी मुस्लिम महिलाओं (muslim women) की तस्वीरों को शेयर करते हुए पंजाबी में कैप्शन दिया गया था। पंजाबी में कैप्शन में लिखा गया है कि मुस्लिम समुदाय की ये महिलाएं (muslim women) टिकरी मालेरकोटला से किसान आंदोलन को समर्थन करने के लिए पहुंची हैं।

https://www.instagram.com/p/CKDZc-ehbv-/

Conclusion

हमारी पड़ताल में मिले तथ्यों के मुताबिक, पंजाब के मुस्लिम समुदाय की महिलाओं (muslim women) का एक समूह किसान आंदलनो को समर्थन देने के लिए टिकरी ब़ॉर्डर पर पहुंचा था। जिसे गलत दावे के साथ सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है।किसान आंदोलन को समर्थन देने के लिए दूर-दूर से कई समुदाय के लोग टिकरी बॉर्डर पहुंच रहे हैं।

Result: Misleading


Our Sources

Google

Google reverse image

Facebook –https://www.facebook.com/bkuektaugrahan/photos/a.275916659594151/1060080644511078

Instgram –https://www.instagram.com/p/CKDZc-ehbv-/

Twitter – https://twitter.com/Bkuektaugrahan/status/1349695677090021377


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular