गुरूवार, अक्टूबर 6, 2022
गुरूवार, अक्टूबर 6, 2022

होमFact Checkमनाली घूमने गए पर्यटकों की पुरानी तस्वीर गलत दावे के साथ सोशल...

मनाली घूमने गए पर्यटकों की पुरानी तस्वीर गलत दावे के साथ सोशल मीडिया पर हुई वायरल

कोरोना के मामले देश में धीरे-धीरे कम हो रहे हैं। लेकिन अब भी खतरा बरकरार है। तीसरी लहर को लेकर लगातार आशंका जताई जा रही है और कहा जा रहा है कि लोगों ने लापरवाही की तो केस एक बार फिर बढ़ सकते हैं। इसी बीच, कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाती हुई भीड़ की तस्वीर सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। तस्वीर में बहुत सारे लोगों को सड़कों पर बेखौफ घूमते हुए देखा जा सकता है।

यूजर्स इस तस्वीर को शेयर करते हुए दावा कर रहे हैं कि, यह तस्वीर मनाली के हालिया दिनों की है। यूजर्स का कहना है कि दूसरी लहर अभी ठीक तरह से गई भी नहीं है कि लोगों ने तीसरी लहर का इंतजाम कर दिया है। कई यूजर्स कह रहे हैं कि जिस तरह से आज होटल में रूम नहीं मिल रहे हैं, उसी तरह से कुछ दिन बाद अस्पताल में बेड नहीं मिलेंगे। जबकि, कई सोशल मीडिया यूजर्स सरकार से सावधानी बरतने और नियम का पालन ना करने पर लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग कर रहे हैं।

पोस्ट से जुड़े आर्काइव लिंक को यहां पर देखा जा सकता है।

पोस्ट से जुड़े आर्काइव लिंक को यहां पर देखा जा सकता है।

Fact Check/Verification

वायरल तस्वीर की सच्चाई जानने के लिए, जब हमने फोटो को गौर से देखा, तो पाया कि तस्वीर में सभी ने सर्दियों के कपड़े पहने हुए हैं। जबकि अभी गर्मी का मौसम चल रहा है। जिसके बाद, हमें इस बात का अंदाजा हुआ कि शायद ये तस्वीर पुरानी है। इसके बाद हमने गूगल पर कुछ कीवर्ड्स के जरिए सर्च किया। इस दौरान, हमें वायरल तस्वीर Amigosblink नामक फेसबुक पेज पर मिली। जिसे 23 जनवरी 2021 को पोस्ट किया गया था। तस्वीर को मनाली का बताते हुए कैप्शन में एक शायरी लिखी गई है।

पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए, हमने वायरल तस्वीर को कैमरे में कैद करने वाले शख्स अजय कुमार से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया, “तस्वीर को लेकर किया जा रहा दावा गलत है। ये तस्वीर हाल-फिलहाल की नहीं बल्कि 31 दिसंबर साल 2020 की है। नए साल के दौरान, मैंने इस तस्वीर को क्लिक किया था। जिसे मैंने कुछ दिनों बाद अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट किया था। अजय ने हमारे साथ इस तस्वीर से जुड़ी कई जानकारियों को शेयर किया। साथ ही उन्होंने हमारे साथ वायरल तस्वीर से जुड़े एक वीडियो को भी शेयर किया। जिसमें साफ तौर पर लोगों की भारी भीड़ को देखा जा सकता है।

मनाली की तस्वीर वायरल होने के बाद, अजय ने वायरल तस्वीर को अपने फेसबुक अकाउंट पर शेयर करते हुए इस दावे को गलत बताया है।

हिमाचल प्रदेश के पर्यटन विभाग के डायरेक्टर अमित कश्यप के मुताबिक, “जून में कोरोना प्रतिबंधों में ढील देने के बाद से ही प्रदेश में पर्यटकों का आना-जाना लगा हुआ है। 6 से 7 लाख पर्यटक हिमाचल प्रदेश में घूमने के लिए आ चुके हैं। रोजाना हजारों की संख्या में लोग मनाली और शिमला घूमने के लिए आ रहे हैं। प्रदेश में पर्यटकों की भीड़ कम करने के लिए राज्य सरकार ने नेगेटिव आरटीपीसीआर रिपोर्ट और ई-पास को अनिवार्य कर दिया है। मनाली में पिछले कुछ दिनों से रोजाना हजार से 1200 वाहन आ रहे हैं। जबकि वीकेंड में आंकड़ा बढ़कर 1800 के करीब पहुंच जाता है। वीकेंड पर होटल 60 से 90 फीसदी तक भरे हुए होते हैं। बाकी दिनों में 40 से 50 फीसदी तक बुकिंग होती है।”

पड़ताल के दौरान, हमें मनाली की हालिया तस्वीरें ANI के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर मिली। जिसमें साफ तौर पर छुट्टियां मनाने आई भीड़ को देखा जा सकता है।

Conclusion

हमारी पड़ताल में मिले तथ्यों के मुताबिक, वायरल तस्वीर को लेकर किया जा रहा दावा गलत है। वायरल तस्वीर हाल-फिलहाल की नहीं, बल्कि दिसंबर 2020 की है।

Read More :तमिलनाडु में मस्जिदों के मुकाबले मंदिरों से नहीं लिया जाता ज्यादा बिजली का बिल, फेक दावा हुआ वायरल

Result: False

Claim Review: मनाली में लगी पर्यटकों की भीड़।
Claimed By: Arun Bothra
Fact Check: False

Our Sources

Ajay Kumar, Photographer & Owner of Amigosblink

Twiiter-https://twitter.com/ANI/status/1412077320567869449

Facebook –https://www.facebook.com/116907292304234/posts/751287338866223/

Facebook –https://www.facebook.com/amigosblink/photos/a.167883647206598/850195052308784/


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular