रविवार, अगस्त 1, 2021
रविवार, अगस्त 1, 2021
होमFact Checkदेश के कई मीडिया संस्थानों ने कश्मीर में मारे गए हिजबुल के...

देश के कई मीडिया संस्थानों ने कश्मीर में मारे गए हिजबुल के टॉप कमांडर मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद के नाम पर प्रकाशित की ISIS आतंकी की तस्वीर

उत्तरी कश्मीर के हंदवाड़ा में मंगलवार देर रात आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में, भारतीय सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता हाथ लगी। दरअसल, मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने हिजबुल के सबसे पुराने और शीर्ष कमांडरों में से एक, मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद को मार गिराया है। भारतीय सुरक्षाबलों को लंबे समय से मेहराजुद्दीन हलवाई की तलाश थी। मेहराजुद्दीन, साल 2012 से उत्तरी कश्मीर में आतंकी गतिविधियों को अंजाम देता आ रहा था। इतना ही नहीं, सुरक्षाबलों की मोस्ट वांटेड सूची में वह चौथे नंबर पर था। जब से ये खबर सामने आई है, तब से ही सभी लोग भारतीय सुरक्षाबलों की इस कामयाबी की जमकर सराहाना कर रहे हैं।

इसी के साथ ही सोशल मीडिया पर, हाथ में बंदूक लिए एक शख्स की तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है कि तस्वीर में नजर आ रहा शख्स, हिजबुल मुजाहिद्दीन का कमांडर मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद है, जिसका कश्मीर में भारतीय सुरक्षाबलों द्वारा एनकाउंटर किया गया है। दरअसल जैसे ही ये खबर सामने आई थी मेनस्ट्रीम मीडिया ने इस तस्वीर को प्रकाशित करते हुए फोटो में नजर आ रहे शख्स को हिजबुल मुजाहिद्दीन का कमांडर मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद बताना शुरू कर दिया था। जिसके बाद देखते ही देखते ये खबर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।

TV9 Bharatvarsh, Patrika, Danika Jagran, Indian Express, IANS, Hindustan Times, और फैक्ट चेकिंग वेबसाइट Lallantop ने इस तस्वीर को प्रकाशित करते हुए इसे हिजबुल मुजाहिद्दीन का कमांडर मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद बताया है। इतना ही नहीं बीजेपी नेता तरुण चुघ ने भी इस तस्वीर को अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर शेयर किया है। साथ ही CNN News18 के एडिटर Aditya Raj Kaul जो कि डिफेंस और कश्मीरी मुद्दों को काफी सालों से कवर करते आ रहे हैं, उन्होंने भी इस तस्वीर को कश्मीर मुठभेड़ में मारे गए कमांडर मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद की बताया है।

पोस्ट से जुड़े आर्काइव लिंक को यहां पर देखा जा सकता है।

मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद बताया गया।

पोस्ट से जुड़े आर्काइव लिंक को यहां पर देखा जा सकता है।

पोस्ट से जुड़े आर्काइव लिंक को यहां पर देखा जा सकता है।

पोस्ट से जुड़े आर्काइव लिंक को यहां पर देखा जा सकता है।

मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद
मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद बताया गया।
मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद
मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद बताया गया।
मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद
मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद बताया गया।
मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद
मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद बताया गया।
मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद
मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद बताया गया।
मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद बताया गया।

Fact Check/Verification

वायरल दावे का सच जानने के लिए, हमने तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज के जरिए सर्च किया। इस दौरान, हमें वायरल दावे से जुड़ी एक मीडिया रिपोर्ट Times Of Israel की वेबसाइट पर मिली। जिसे 16 सितंबर 2015 को प्रकाशित किया गया था। रिपोर्ट में दी गई जानकारी के मुताबिक, फोटो में नजर आ रहा शख्स हिजबुल का कमांडर मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद नहीं, बल्कि इस्लामिक स्टेट से जुड़ा एक आतंकी उमर हुसैन है। अमेरिकी वेबसाइट Independent ने भी इस तस्वीर को प्रकाशित करते हुए शख्स को इस्लामिक स्टेट का एक आंतकी उमर हुसैन बताया है।

मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद

प्राप्त जानकारी के आधार पर, हमने गूगल पर कुछ कीवर्ड्स के जरिए सर्च किया। इस दौरान हमें वायरल तस्वीर से जुड़ी एक रिपोर्ट BBC की वेबसाइट पर मिली। जिसे सितंबर 2015 को प्रकाशित किया गया था। रिपोर्ट में दी गई जानकारी के मुताबिक, उमर हुसैन ब्रिटेन का रहने वाला था। वह वहां के एक सुपरमार्केट में चौकीदार के तौर पर काम किया करता था और सोशल मीडिया पर काफी सक्रिय था। उमर हुसैन सोशल मीडिया के जरिए जिहाद को बढ़ावा देता था और वो इस्लामिक स्टेट का बहुत बड़ा समर्थक था। इसलिए, उसे इस्लामिक स्टेट द्वारा उन 700 लोगों में चुना गया था, जो सीरिया और इराक के आतंकी संगठनों से जुड़ने वाले थे। फिर उसे सीरिया ले जाकर वहां के आंतकी संगठन से जोड़ा गया। 

मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद

पड़ताल के दौरान, हमें उमर हुसैन की मौत से जुड़ी कई मीडिया रिपोर्ट्स मिली। हमें अमेरिकी वेबसाइट Express की एक रिपोर्ट मिली। जिसे 22 अक्टूबर 2017 को प्रकाशित किया गया था। रिपोर्ट में दी गई जानकारी के मुताबिक उमर हुसैन को 49 दिनों तक सीरिया की एक टॉर्चर सेल में रखने के बाद उसे मार दिया गया था। सीरिया के Raqqa शहर में इस्लामिक स्टेट के एक कैंप की दीवार पर उसका नाम लिखा हुआ भी देखा गया था। तो वहीं, 2018 में प्रकाशित BBC की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सीरिया में हुई एक मुठभेड़ के बाद उमर हुसैन को मरा हुआ मान लिया गया।

जबकि, साल 2019 में प्रकाशित The Sun की रिपोर्ट के मुताबिक, उमर हुसैन ने सीरिया में हुए एक आत्मघाती हमले के दौरान खुद को मार डाला था। उमर हुसैन जिंदा है या नहीं, इसकी आधिकारिक पुष्टि हम नहीं करते हैं।

मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद

Conclusion

हमारी पड़ताल में मिले तथ्यों के मुताबिक, वायरल तस्वीर को लेकर किया जा रहा दावा गलत है। वायरल तस्वीर मुजाहिदीन के शीर्ष कमांडर मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद की नहीं है। बल्कि वायरल फोटो सीरिया के एक आतंकी उमर हुसैन की है। जिसका भारत से कोई संबंध नहीं है। हालाँकि, कश्मीर में मारे गए आतंकी मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद की कोई तस्वीर मीडिया में मौजूद नहीं है। जैसे ही हमें उसकी कोई तस्वीर प्राप्त होती है, आर्टिकल को अपडेट किया जायेगा।

Read More : ड्राइवर द्वारा गाय पर ट्रैक्टर चढ़ाने का वीडियो साम्प्रदायिक दावे के साथ सोशल मीडिया पर हुआ वायरल

Result: False

Claim Review: कश्मीर की मुठभेड़ में मारे गए हिज्बुल मुजाहिदीन के टॉप कमांडर मेहराजुद्दीन हलवाई उर्फ उबैद की वायरल तस्वीर।
Claimed By: Tarun Chugh, BJP
Fact Check: False

Our Sources

Times of Israel –https://www.timesofisrael.com/british-islamic-state-recruit-complains-of-rude-comrades/

BBC-https://www.bbc.com/news/uk-england-lancashire-44222753

BBC-https://www.bbc.com/news/blogs-trending-34270771

The SUN –https://www.thesun.co.uk/news/9745255/british-isis-jihadi-morrisons-syria/

Express –https://www.express.co.uk/news/uk/869413/Omar-Hussain-jihadi-death-ISIS-Raqqa-Syria-British


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

Pragya Shukla
Pragya has completed her Masters in Mass Communication, and has been doing content writing for the last four years. Due to bias and incomplete facts in mainstream media, she decided to become a fact-checker.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular