मंगलवार, अगस्त 9, 2022
मंगलवार, अगस्त 9, 2022

होमFact Checkकथा वाचक मोरारी बापू की यह वायरल तस्वीर अजमेर शरीफ दरगाह की...

कथा वाचक मोरारी बापू की यह वायरल तस्वीर अजमेर शरीफ दरगाह की नहीं है

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर कर दावा किया गया है कि मोरारी बापू ने हाल ही में अजमेर शरीफ़ की दरगाह पर चादर चढ़ाई है। वायरल तस्वीर में मोरारी बापू एक दरगाह पर हाथ में चादर लिए कुछ लोगों के साथ खड़े दिखाई दे रहे हैं। 

ट्विटर पर कई यूजर्स ने वायरल तस्वीर को शेयर करते हुए मोरारी बापू पर तंज कसा है।

Courtesy: [email protected]

ट्वीट का आर्काइव यहां देखा जा सकता है।

Courtesy: [email protected]

ट्वीट का आर्काइव यहां देखा जा सकता है।

फेसबुक पर भी कई यूजर्स ने वायरल तस्वीर शेयर कर दावा किया कि मोरारी बापू ने हाल ही में अजमेर शरीफ़ दरगाह में चादर चढ़ाई है।

Courtesy: Facebook/Shubham Talukdar

दरअसल, पिछले दिनों अजमेर शरीफ़ दरगाह के एक खादिम सलमान चिस्ती को बीजेपी की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के खिलाफ विवादित टिप्पणी करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था। इसके अलावा, अजमेर दरगाह के एक अन्य खादिम को नूपुर शर्मा मामले में विवादित बयान देने के आरोप में हैदराबाद से गिरफ्तार किया गया था। मीडिया वेबसाइट आजतक की एक रिपोर्ट के अनुसार, अजमेर दरगाह के खादिमों द्वारा विवादस्पद बयान दिए जाने के कारण वहां के व्यापार पर काफी असर पड़ा है। बतौर रिपोर्ट, अजमेर के दरगाह व्यापार एसोसिएशन ने बताया कि नफरती बयानों के चलते कई लोग दरगाह आने से कतरा रहे हैं। 

Fact Check/Verification

दावे की सत्यता जानने के लिए हमने कुछ कीवर्ड्स की मदद से गूगल सर्च किया। इस दौरान हमें मोरारी बापू द्वारा हाल ही में अजमेर दरगाह जाने की कोई प्रमाणिक रिपोर्ट नहीं मिली। इसके बाद हमने अजमेर शरीफ़ दरगाह के मीडिया कॉर्डिनेटर डॉ आदिल से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया, “ये अजमेर दरगाह की तस्वीर नहीं है। तस्वीर में मौजूद दरवाजे की बनावट देखकर ही स्पष्ट है कि ये हमारे यहां की तस्वीर नहीं है और जहां तक रही बात मोरारी बापू के अजमेर शरीफ दरगाह में चादर चढ़ाने की तो उन्होंने हाल फिलहाल में यहां कोई दौरा नहीं किया है।”

इसके बाद हमने तस्वीर को रिवर्स सर्च की मदद से खोजना शुरू किया। हमें @agor1312 नामक ट्विटर हैंडल द्वारा 30 मई 2021 को किया गया एक ट्वीट प्राप्त हुआ। ट्वीट में मौजूद तस्वीर और सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर दोनों एक ही हैं। इससे स्पष्ट है कि वायरल तस्वीर हालिया दिनों की नहीं है। 

इसके बाद हमने ‘Morari Bapu Dargah’ कीवर्ड को फेसबुक पर सर्च करना शुरू किया। हमें ‘Muslim Youth Circle’ नामक पेज द्वारा दिसंबर 2013 में की गई एक पोस्ट प्राप्त हुई। पोस्ट के कैप्शन में लिखा है, “हिंदू संत श्री मोरारी बापू पीर हजरत शाह मुराद बुखारी की पवित्र कब्र पर चादर डालते हुए।” पोस्ट में मौजूद तस्वीर और सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर दोनों एक ही हैं।

Courtesy: Facebook/Muslim Youth Circle

खोजने पर हमें ‘Fakirmamad Theba’ नामक एक फेसबुक हैंडल पर 31 दिसंबर 2013 की एक पोस्ट प्राप्त हुई। पोस्ट के मुताबिक, संत मोरारी बापू ने गुजरात के कच्छ में मौजूद शाह मुराद बुखारी की दरगाह पर चादर चढ़ाई। पोस्ट में शाह मुरादी बुखारी के दरगाह की कई तस्वीरे मौजूद हैं, जिनमें मोरारी बापू नज़र आ रहे हैं। इन तस्वीरों में उन्होंने जो वेशभूषा पहनी है, वही वो वायरल तस्वीर में पहने हुए नज़र आ रहे हैं। 

Courtsey: Facebook/Fakirmamad Theba

अधिक जानकारी के लिए Newschecker ने गुजरात के मुंद्रा में मौजूद शाह मुराद बुखारी के दरगाह में भी संपर्क किया। वहां कार्यरत ईशादुलहक बुखारी ने बताया, “वायरल तस्वीर मुंद्रा में मौजूद शाह मुराद बुखारी के दरगाह की है। ये तस्वीर 30 दिसंबर 2013 की है।” उन्होंने हमें मोरारी बापू के इस दौरे को लेकर मुंद्रा के स्थानीय अखबार में प्रकाशित की गई खबर की कटिंग भी भेजी है।

Courtsey: Gujarat Sandesh/Special Arrangement

Conclusion

इस तरह हमारी पड़ताल में स्पष्ट है कि सोशल मीडिया पर वायरल मोरारी बापू की यह तस्वीर अजमेर दरगाह की नहीं है। तस्वीर दिसंबर 2013 की है जब मोरारी बापू ने गुजरात के मुंद्रा में मौजूद शाह मुराद बुखारी के दरगाह का दौरा किए थे।

Result: False

Our Sources

Tweet by @agor1312 on May 30,2021

Facebook Post by Muslim Youth Circle on December 31, 2013

Facebook Post by Fakirmamad Theba on December 31, 2013

Telephonic Conversation with Ajmer Sharif Dargah’s Media Coordinator Dr. Adil On July 27, 2022

Telephonic Conversation with Hazrat Shah Murad Bukhari Dargah’s Ishadulhaq Bukhari On July 27, 2022

Report Published in Gujarat Sandesh Newspaper on December 31, 2013

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: [email protected]

Shubham Singh
Shubham Singh
An enthusiastic journalist, researcher and fact-checker, Shubham believes in maintaining the sanctity of facts and wants to create awareness about misinformation and its perils. Shubham has studied Mathematics at the Banaras Hindu University and holds a diploma in Hindi Journalism from the Indian Institute of Mass Communication. He has worked in The Print, UNI and Inshorts before joining Newschecker.
Shubham Singh
Shubham Singh
An enthusiastic journalist, researcher and fact-checker, Shubham believes in maintaining the sanctity of facts and wants to create awareness about misinformation and its perils. Shubham has studied Mathematics at the Banaras Hindu University and holds a diploma in Hindi Journalism from the Indian Institute of Mass Communication. He has worked in The Print, UNI and Inshorts before joining Newschecker.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular