गुरूवार, जुलाई 29, 2021
गुरूवार, जुलाई 29, 2021
होमFact CheckUpdate : हरियाणा पुलिस का वीडियो राजस्थान पुलिस के नाम से हुआ...

Update : हरियाणा पुलिस का वीडियो राजस्थान पुलिस के नाम से हुआ वायरल, जानिए पूरा मामला

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है। जिसमें भीड़ दो पुलिसवालों की पिटाई करती हुई नज़र आ रही है। पहले भीड़ में मौजूद कुछ लोग पुलिसवालों को डंडों से मारते हैं, फिर उन्हें लात-घूसों से मारना शुरू कर देते हैं। पुलिस वाले लोगों से न मारने की दुहाई करते हुए भी नजर आते हैं। लेकिन भीड़ पुलिसवालों की एक भी बात नहीं सुनती है और बुरी तरह से पुलिसवालों की पिटाई करती रहती है। इस वीडियो को शेयर करते हुए सोशल मीडिया पर यूजर्स तरह-तरह के दावे कर रहे हैं।

कई लोगों का कहना है कि राजस्थान में लोगों ने राजस्थान पुलिस को ही पीट दिया। तो वहीं कई यूजर्स का दावा है कि राजस्थान के मेवात में मुस्लिम और जिहादियों का कहर इतना ज्यादा बढ़ गया है कि अब राजस्थान कश्मीर बन चुका है। यहां के मुस्लिमों को पुलिस प्रशासन का कोई डर नहीं है। वो सरेआम राजस्थान पुलिस की पिटाई कर रहे हैं। मेवात हिंदुओं के लिए नर्क जैसा हो गया है।

पुलिस वालों की पिटाई

CrowdTangle पर मिले डाटा के मुताबिक पुलिसवालों की पिटाई के इस वीडियो को अभी तक सैकड़ों लोग ट्विटर और फेसबुक पर शेयर कर चुके हैं। डाटा के मुताबिक अभी तक @RoyalJitu2021In के वीडियो को सबसे ज्यादा बार देखा और रीट्वीट किया गया है। लेख लिखे जाने तक @RoyalJitu2021In की ट्विटर पोस्ट को 1k लोगों ने देखा और 230 लोगों ने रीट्वीट किया था। जबकि फेसबुक पर Manoj Kumar के वीडियो को सबसे ज्यादा बार देखा और शेयर किया गया है। पोस्ट से जुड़े आर्काइव लिंक को यहां और यहां देखा जा सकता है।

पुलिसवालों की पिटाई

फेसबुक पर वायरल इस पोस्ट को यहां पर देखा जा सकता है। जबकि ट्विटर पर वायरल इस पोस्ट को यहां पर देखा जा सकता है।

पुलिसवालों की पिटाई

Fact Check/Verification

पुलिसवालों की पिटाई के इस वायरल वीडियो का सच जानने के लिए हमने InVID टूल की मदद से क्लिप के कुछ कीफ्रेम्स निकाले। एक कीफ्रेम को Google Reverse Image Search के जरिए सर्च किया। इस दौरान हमें वायरल दावे से जुड़ी एक रिपोर्ट ETV Bharat पर मिली। जिसे 25 मार्च 2021 को प्रकाशित किया गया था। इस रिपोर्ट के मुताबिक ये वीडियो हाल-फिलहाल का नहीं बल्कि एक महीने पुराना है। वीडियो में दिख रहे पुलिसवाले राजस्थान के नहीं बल्कि हरियाणा के हैं। जो कि एक केस के सिलसिले में राजस्थान आए थे, लेकिन लोगों ने पुलिसवालों की पिटाई कर दी।

पुलिसवालों की पिटाई
पुलिसवालों की पिटाई का यह वीडियो राजस्थान पुलिस का नहीं है।

पड़ताल के दौरान हमें वायरल दावे से जुड़ा एक वीडियो OneIndia के यूट्यूब चैनल पर मिला। यहां पर भी वायरल वीडियो को लेकर यही जानकारी दी गई थी कि वीडियो एक महीने पुराना है। एक महीने पहले हरियाणा पुलिस मेवात में एक प्रेमी-जोड़े की तफ्तीश करने के लिए आई थी। जिसके बाद स्थानीय लोगों से पुलिसवालों की बहस हो गई और कहासुनी, हाथापाई में बदल गई।

हमें वायरल वीडियो से जुड़ा एक ट्वीट Zee News Rajasthan के ट्विटर हैंडल पर भी मिला। ट्वीट में भी यही जानकारी दी गई थी कि एक महीने पहले पूछताछ के लिए आई हरियाणा पुलिस के साथ स्थानीय लोगों ने मारपीट की। Zee News Rajasthan के इस ट्वीट पर भरतपुर पुलिस ने भी प्रतिक्रिया दी है। भरतपुर पुलिस ने कहा है कि थाना जुरहरा क्षेत्र में हुई घटना के संबंध में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डीग, वृतअधिकारी कामा एवं थानाधिकारी जुरहरा को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं।

छानबीन को आगे बढ़ाते हुए हमने इस मामले को लेकर भरतपुर पुलिस से बातचीत की। भरतपुर पुलिस का कहना है कि ADG सुनील दत्त भरतपुर द्वारा मामले को संज्ञान में ले लिया गया है। इस पर कार्रवाई की जा रही है। वीडियो हाल-फिलहाल का नहीं है, बल्कि एक महीने पुराना है। ये बातें गलत हैं मुस्लिम और जिहादियों का राजस्थान में कहर नहीं हैं। उन्होंने बताया कि दरअसल पूछताछ करने आई हरियाणा पुलिस की कार से एक शख्स को टक्कर लग गई थी। जिसके बाद ये पूरा विवाद शुरू हुआ था। जिसमें स्थानीय लोगों ने पुलिस वालों को पीट दिया था।

इसके बाद हमने इस पूरे मामले में हरियाणा पुलिस से बातचीत की उन्होंने हमें बताया कि ये घटना 23 फरवरी की है। जुरहरा कस्बे में हरियाणा पुलिस एक केस के सिलसिले में पूछताछ करने के लिए गई थी। जिसके बाद उनकी गाड़ी एक स्थानीय नेता से टकरा गई। दोनों पक्षों में बहस शुरू हो गई।

बहस के बाद ये विवाद मार-पीट में बदल गया। जिसके बाद मामला शांत हुआ और दोनों पक्षों ने इस पूरे विवाद को शांती से सुलझा लिया। दोनों ही पक्षों ने अपनी आपसी रजामंदी से कोई एफआईआर दर्ज नहीं करवाई। हमें रिपबल्कि मेवात के यूट्यूब चैनल पर इस दावे से जुड़ी एक वीडियो मिला। जिसके मुताबिक हरियाणा पुलिस की टक्कर एक कांग्रेस नेता से हो गई थी। कहासुनी के बाद स्थानीय लोगों ने पुलिसवालों को पीटना शुरू कर दिया था।

Conclusion

हमारी पड़ताल में मिले तथ्यों के मुताबिक पुलिसवालों की पिटाई का वीडियो भ्रामक दावे के साथ वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में दिख रहे पुलिसवाले राजस्थान के नहीं हैं, बल्कि हरियाणा के हैं। ये पुलिसवाले पूछताछ के लिए राजस्थान आए थे। लेकिन स्थानीय लोगों के साथ शुरू हुई बहस मारपीट तक पहुंच गई।

Result: Misleading


Our Sources

ETv Bharat – https://react.etvbharat.com/hindi/rajasthan/city/bharatpur/haryana-police-beaten-up-to-investigate-lover-couple/rj20210325170432840

OneIndia – https://www.youtube.com/watch?v=aZeOLO4y1TE&t=10s

Zee News Rajasthan Twitter – https://twitter.com/BharatpurPolice/status/1375076668251852804

BharatPur Police Twitter – https://twitter.com/BharatpurPolice/status/1375076668251852804


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

Pragya Shukla
Pragya has completed her Masters in Mass Communication, and has been doing content writing for the last four years. Due to bias and incomplete facts in mainstream media, she decided to become a fact-checker.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular