सोमवार, नवम्बर 28, 2022
सोमवार, नवम्बर 28, 2022

होमFact Checkक्या शाहीन बाग में CAA के विरोध में धरने पर बैठी जशोदाबेन?...

क्या शाहीन बाग में CAA के विरोध में धरने पर बैठी जशोदाबेन? जानिए वायरल दावे का सच

Claim: मोदी जी की पत्नी जसोदा बेन भी आज शाहीन बाग पहुंच गईं पैसे लेने। 

गोबर भक्तों अपनी मम्मी को भी देश द्रोही घोषित करो। भर्तों तुम्हारे पापा CAA के समर्थन में और तुम्हारी मां जसोदा बेन विरोध में। 

Verification:

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) का विरोध प्रदर्शन देशभर में जारी है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई यूजर्स द्वारा दावा किया जा रहा है कि दिल्ली के शाहीन बाग में मुस्लिम महिलाएं 500 रूपए और बिरयानी के लिए सीएए का विरोध प्रदर्शन कर रहीं हैं। शेयरचैट पर हमें जशोदा बेन की एक तस्वीर मिली। वायरल तस्वीर में जशोदा बेन को कुछ महिलाओं के साथ बैठे हुए देखा जा सकता है, जो कुछ विरोध करते दिख रही हैं। 

देखा जा सकता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदाबेन की तस्वीर को फेसबुक और ट्विटर पर कई यूजर्स द्वारा शेयर किया गया है। 

कुछ टूल्स और कीवर्ड्स की मदद से हमने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदा बेन की तस्वीर को खंगाला। पड़ताल के दौरान हमें Deccan Chronicle और The Hindu का लेख मिला। लेख से हमने जाना कि वायरल हो रही तस्वीर 13 फरवरी 2016 की है। लेख में तस्वीर के साथ कैप्शन लिखा है कि पीएम मोदी की पत्नी जशोदा बेन आज़ाद मैदान में मॉनसून के दौरान मलिन बस्तियों के हटाने के खिलाफ भूख हड़ताल के दौरान की यह तस्वीर (फोटो: डीसी)। वायरल तस्वीर उस दौरान की है जब जशोदा बेन मुंबई के आज़ाद मैदान में धरने पर बैठी थीं। 

Narendra Modi’s wife fasts for orphans, slum dwellers

Mumbai: Just a day before Prime Minister Narendra Modi’s arrival to inaugurate the biggest business event ‘Make In India’, his wife Jashodaben Modi was in town on Friday. Though her visit to the city was a low-key affair unlike the Prime Minister’s programme, she was seen supporting a social cause and fasting against demolition of slums and in support of destitute and orphan children on Friday.

Jashodaben raises hands for local charity

Jashodaben Modi, estranged wife of Prime Minister Narendra Modi, on Friday emerged as an unusual mascot of a local charity to demand that slums shouldn’t be demolished during the monsoon period as it renders the poor homeless and exposes them to disease and danger.

वायरल हो रही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदा बेन की तस्वीर को 13 फरवरी, 2016 का पाया  है। लोगों को भ्रमित करने के लिए 4 साल पुरानी तस्वीर को दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध प्रदर्शन की तस्वीर बताकर शेयर किया जा रहा है। 

Tools Used:

Reverse Image Search

Google Keywords Search 

Result: False

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: [email protected])

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular