सोमवार, दिसम्बर 6, 2021
सोमवार, दिसम्बर 6, 2021
होमFact Checkवायरल WhatsApp फॉरवर्ड को शेयर ना करने पर अकाउंट बंद होने वाला...

वायरल WhatsApp फॉरवर्ड को शेयर ना करने पर अकाउंट बंद होने वाला दावा फर्जी है

WhatsApp ग्रुप्स में इंडिया टीवी का एक वीडियो शेयर किया जा रहा है जिसमे संस्थान का एक कर्मचारी एक व्हाट्सऐप फॉरवर्ड पढता सुनाई देता है. वीडियो में इंडिया टीवी के कर्मचारी को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि उक्त WhatsApp फॉरवर्ड को शेयर ना करने पर अकाउंट बंद हो जायेगा.

Fact Check/Verification


तमाम न्यूज़ चैनल्स अपने चैनल के माध्यम से वायरल दावों तथा WhatsApp फॉरवर्ड की पड़ताल करते हैं. इंडिया टीवी भी इस तरह का एक कार्यक्रम अपने चैनल के माध्यम से प्रसारित करता है. फेक न्यूज़ फैलाने वालों को न्यूज़ चैनलों द्वारा प्रसारित ये फैक्ट चेक कार्यक्रम काफी रास आते हैं क्योंकि वायरल दावों की पड़ताल से पहले न्यूज़ चैनल सबसे पहले वायरल दावे पर प्रकाश डालते हैं जिसे फेक न्यूज़ फैलाने वाले दावे की अधिकारिता के तौर पर प्रस्तुत करते हैं. कई बार ट्रिम्ड क्लिप को शेयर कर लोग भ्रम फैलाते हैं।

पड़ताल में सबसे पहले यह जानते हैं कि इंडिया टीवी के इस वायरल क्लिप में एंकर जिस वायरल संदेश को पढ़ रहा है उसमे क्या-क्या दावे किये जा रहे हैं. वायरल संदेश इस प्रकार है:

“WhatsApp मैसेंजर रोज रात्रि 11:30 से सुबह 6:00 बजे तक बंद रहेगा यह संदेश सेंट्रल गवर्नमेंट, पीएम मोदी द्वारा दिया गया है अगर आपको इस समस्या से बचना है तो आपको यह मैसेज आपके सभी कांटेक्ट लिस्ट में भेजना होगा हम जानते हैं कि कल रात से WhatsApp पर वीडियो स्टेटस और फोटो डाउनलोड होना बंद हो गए हैं व्हाट्सएप पर लगातार इसके यूजर्स की संख्या बढ़ गई है और उसका उपयोग भी बहुत ज्यादा हो रहा है जो देश के लिए हानिकारक है। अगर आप इस संदेश को अपने सभी कांटेक्ट में नहीं भेजते हो तो आपका जो व्हाट्सएप है invalid हो जाएगा और आगे के 48 घंटों के अंदर आपका व्हाट्सएप अकाउंट हमेशा के लिए बंद हो जाएगा इस संदेश को इग्नोर मत करें और जब आपका व्हाट्सएप बंद हो जाएगा तो आपको दोबारा से इसे चालू करने के लिए ₹499 का रिचार्ज हर महीने देना होगा और यह आपके अकाउंट से काट लिया जाएगा यह समस्या जल्द ही ठीक कर दी जाएगी। लेकिन अभी आप को इस समस्या से बचने के लिए कम से कम 50 लोगों को यह मैसेज भेजना होगा अगर इसमें से 10 लोग भी रिसीव करते हैं तो आपका जो व्हाट्सएप लोगो है वह ब्लू कलर का हो जाएगा आपको इसे एक्टिव रखने के लिए 8 लोगों को भेजना होगा अगर नहीं करते हैं तो आपका शनिवार से व्हाट्सएप बंद हो जाएगा हम सब जानते हैं कि व्हाट्सएप का जो मैसेज का चार्ज है जिसे पेपर में आया है कि एक मैसेज का चार्जर जीरो दशमलव जीरो एक रूप है आप अगर इस मैसेज को इग्नोर करते हैं और अपनी कांटेक्ट लिस्ट में सेंड नहीं करते हैं तो आपका, व्हाट्सएप मैसेज फ्री सर्विस बंद हो जाएगी. आप कम से कम आपकी कांटेक्ट लिस्ट में जितने भी लोग हैं उनको भेजें और देखेंगे आपने जितने लोगों को भेजा है उसमें से कम से कम 10 लोगों को भी जो आपके व्हाट्सएप लोगो का कलर ब्लू हो जाता है तो आपकी फ्री सर्विस रहेगी अगर नहीं होता है तो आपका जो व्हाट्सएप पर बंद हो जाएगा और फिर आपको मंथली चार्ज 499 देना होगा यह सही है अभी मैसेज को भेज कर देखिए आपका ब्लूटिक होता है या नहीं”

हमारे WhatsApp हेल्पलाइन नंबर पर कई यूजर्स ने वायरल क्लिप भेजकर हमसे इस वायरल दावे का सत्य ढूंढने का अनुरोध किया.

WhatsApp फॉरवर्ड को शेयर ना करने पर अकाउंट बंद

WhatsApp फॉरवर्ड को शेयर ना करने पर अकाउंट बंद होने के नाम पर वायरल इस दावे की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले वायरल वीडियो के की-फ्रेम्स जेनेरेट करके अलग-अलग कीवर्ड्स के साथ गूगल पर ढूंढा पर हमें इस पूरी प्रक्रिया में कोई ठोस जानकरी नहीं मिल पाई. इंडिया टीवी द्वारा प्रसारित इस क्लिप के बारे में अधिक जानकारी के लिए हमने चैनल का आधिकारिक यूट्यूब चैनल खंगाला। चैनल पर वायरल क्लिप ना मिलता देख हमने हिंदी की बजाय अंग्रेजी कीवर्ड्स का सहारा लिया जिसके परिणामस्वरूप हमें इंडिया टीवी द्वारा 2019 में अपलोड किया गया एक वीडियो मिला जिसका शीर्षक है “Fake News is being spread using a doctored IndiaTV Viral Alert video”.

यूट्यूब सर्च के फलस्वरूप प्राप्त परिणामों में से पहले परिणाम को देखने के बाद हमें पता चला कि दरअसल WhatsApp ग्रुप्स में वायरल हो रहा वीडियो इंडिया टीवी के वायरल अलर्ट नामक कार्यक्रम के एक फैक्ट चेक का हिस्सा है. 

WhatsApp फॉरवर्ड को शेयर ना करने पर अकाउंट बंद होने के नाम पर शेयर किया जा रहा यह दावा दरअसल इंडिया टीवी द्वारा 2019 में किये गए एक फैक्ट चेक का ट्रिम किया हुआ हिस्सा है जिसमे एंकर वायरल दावे पर प्रकाश डाल रहा है.

Conclusion

इंडिया टीवी के आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर प्राप्त हुए वीडियो को पूरा देखने पर हमें पता चला कि वायरल वीडियो इंडिया टीवी द्वारा किये गए एक फैक्ट चेक का हिस्सा है. पूरी वीडियो से सिर्फ वही हिस्सा लिया गया है जिसमे एंकर द्वारा वायरल दावा पढ़ा जा रहा है. अतः हमारी पड़ताल में WhatsApp फॉरवर्ड को शेयर ना करने पर अकाउंट बंद होने का यह वायरल दावा भ्रामक साबित होता है.

Result: Manipulated Media

Our Sources

Google Search

InVid

YouTube Search

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

JP Tripathi
Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.
JP Tripathi
Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular