बुधवार, दिसम्बर 7, 2022
बुधवार, दिसम्बर 7, 2022

होमहिंदीढोल, नगाड़ा बजाते लोगों का यह वीडियो 2 साल पुराना है, इसका...

ढोल, नगाड़ा बजाते लोगों का यह वीडियो 2 साल पुराना है, इसका अयोध्या में राम मंदिर से कोई वास्ता नहीं है

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर यह दावा किया गया कि स्पेन में रह रहे भारतीयों ने अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का जश्न मनाना शुरू कर दिया है.

Verification/ Fact check

अयोध्या में ऐतिहासिक राम मंदिर की आधारशिला प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 5 अगस्त को रखी जायेगी. राम मंदिर शुरू से ही वैश्विक चर्चा का विषय रहा है. मंदिर निर्माण को लेकर कई दावे सोशल मीडिया की सुर्ख़ियों में हैं. इसी क्रम में हमें कई यूजर्स ने एक वीडियो का फैक्ट चेक करने का अनुरोध किया. 

दावे का आर्काइव वर्जन यहां देखा जा सकता है.

ट्विटर यूजर्स द्वारा इस वीडियो को अन्य दावों के साथ भी शेयर किया गया है. ऐसे ही तमाम दावे यहां देखे जा सकते हैं.

इसी तरह कुछ फेसबुक यूजर्स ने भी वायरल वीडियो को शेयर किया है. जिसे यहां देखा जा सकता है.


वायरल वीडियो की पड़ताल के लिए हमने सबसे पहले वीडियो को ध्यान से देखा जिससे हमें कई अहम जानकारियां प्राप्त हुई मसलन ढोल पर स्वरगंधार तथा नारायणकर लिखा हुआ है.

वायरल वीडियो का एक दृश्य

वीडियो के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमने सबसे पहले वीडियो को की-फ्रेम्स में बदला और एक की-फ्रेम की सहायता से गूगल सर्च किया. पर इस प्रक्रिया में हमें कोई ठोस जानकारी प्राप्त नहीं हो पाई. कई अन्य कीवर्ड्स की सहायता से हमें यह वीडियो पूर्व में यूट्यूब पर अपलोड किया मिला.


ss

गूगल सर्च द्वारा प्राप्त परिणामों को गौर से देखने पर हमें यह पता चला कि यह वीडियो पहले से ही इंटरनेट पर मौजूद है और इसका राम मंदिर के भूमि पूजन से कोई संबंध नहीं है.


ss

एक वीडियो शेयरिंग प्लेटफार्म पर मौजूद इस वीडियो को देखने पर यह पता चलता है कि सन 2019 में इस वीडियो को उक्त प्लेटफार्म पर अपलोड किया गया है.



उपरोक्त वीडियो के साथ प्रयुक्त टाइटल को कीवर्ड के रूप में प्रयोग कर जब हमने यूट्यूब पर सर्च किया तो हमें वायरल वीडियो से संबंधित कई अहम जानकारियां प्राप्त हुई. मसलन वीडियो ना सिर्फ सन 2019 से इंटरनेट पर मौजूद है बल्कि उससे पहले 2018 में भी इस वीडियो को इंटरनेट पर अपलोड किया जा चुका है.


SS

दरअसल वायरल वीडियो ‘Swargandhar Dhol Tasha Pathak’ नामक एक यूट्यूब चैनल से 17 अक्टूबर 2018 को दो पार्ट्स में डाला गया था.

SS

उक्त यूट्यूब चैनल के बारे में अधिक पड़ताल करने पर हमें पता चला कि ‘Swargandhar Dhol Tasha Pathak’ ढोल और ताशा बजाने वाले कलाकारों का एक ग्रुप है जो कि विदेशों में अपनी मनमोहक प्रस्तुति के लिए काफी मशहूर है. वायरल वीडियो के दोनों पार्ट्स निचे देखे जा सकते हैं.



इस प्रकार हमारी पड़ताल में यह स्पष्ट होता है कि वायरल वीडियो अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन या मंदिर निर्माण से संबंधित नहीं है बल्कि यह ‘ Swargandhar Dhol Tasha Pathak’ ग्रुप द्वारा सन 2018 में स्पेन में की गई प्रस्तुति का वीडियो है जिसे भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है.

Result: Misleading

Sources:

YouTube Video: https://www.youtube.com/watch?v=bvlWKqQj9RU

JP Tripathi
JP Tripathi
Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.
JP Tripathi
JP Tripathi
Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular