शनिवार, दिसम्बर 10, 2022
शनिवार, दिसम्बर 10, 2022

होमCoronavirusपटना के मस्जिद से हिरासत में लिए गए तज़ाकिस्तानी नागरिकों को चीन...

पटना के मस्जिद से हिरासत में लिए गए तज़ाकिस्तानी नागरिकों को चीन का कोरोना पॉजिटिव मरीज बताकर फैलाया गया भ्रम

Claim:

पटना के कुर्जी में मस्जिद के अंदर 12 चीनी मुस्लिमों को छुपा कर रखा था जो पूरी तरह से कोरोना से ग्रस्त थे। क्या ये नए प्रकार का जिहाद है???

जानिए क्या है वायरल दावा:

चीन के वुहान से शुरू हुआ घातक कोरोना वायरस लगातार अपने पैर पसारता जा रहा है। ऐसे में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर तरह-तरह के दावे किए जा रहे हैं। ट्विटर पर 20 सैकेंड की एक वीडियो वायरल हो रही है जिसमें कुछ मुस्लिम युवक नज़र आ रहे हैं। वीडियो के साथ दावा किया जा रहा कि पटना के कुर्जी में मस्जिद के अंदर 12 चीनी मुस्लिमों को छुपाकर रखा था जो पूरी तरह से कोरोना से ग्रस्त थे। क्या ये नए प्रकार का जिहाद है??? 

Verification:

वैश्विक महामारी से निपटने के लिए 30 राज्यों में लॉकडाउन किया गया है जबकि चार राज्यों में कर्फ्यू लगाया गया है। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। राज्य में अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी हैं, जबकि इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 106 हो गई है। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य में आज शाम से 31 मार्च तक लॉकडाउन करने की घोषणा की है। 

देखा जा सकता है कि वायरल दावे को सोशल मीडिया पर कई यूजर्स द्वारा शेयर किया जा रहा है। 

कुछ कीवर्ड्स की मदद से हमने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रहे दावे को खंगाला। पड़ताल के दौरान हमें Live Hindustan और दैनिक भास्कर का लेख मिला। लेख से हमने जाना कि पटना के कुर्जी के गेट नंबर 74 के पास स्थित मस्जिद में 12 विदेशी नागरिक छिपे थे। लोगों का कहना है कि यहां पर विदेशी लोगों को छिपाकर रखा गया है। हंगामे की सूचना पर पुलिस आई और सभी विदेशी नागरिकों को अपने साथ ले गई। तजाकिस्तान के 10 नागरिकों को पुलिस ने एम्स भेजा। अप्रैल के पहले हफ्ते में ये सभी भारत से वापस जाएंगे। तफ्तीश में यह बात सामने आया है कि चार महीने पहले ये सभी भारत आये थे। इसके बाद मुंबई और दिल्ली में ठहरने के बाद कुछ दिनों पहले सभी पटना पहुंचे। फुलवारीशरीफ सहित कई जगहों पर ये विदेशी लोग गये और धर्म प्रचार किया। 

YouTube खंगालने पर हमें एक वीडियो मिली, खोज मे हमने पाया कि पटना के खुर्जी में रहे 12 संदिग्ध इटली और ईरान से आए थे। 

पड़ताल के दौरान तथ्यों का बारीकी से अध्ययन करने पर हमने पाया कि फेसबुक और ट्विटर पर वायरल हो रहे दावे में कोई सच्चाई नहीं है। दरअसल पटना के खुर्जी में रह रहे 12 संदिग्ध चीन के नहीं बल्कि इटली और ईरान के हैं।  साथ ही पकड़े गए लोगों में कोरोना का संक्रमण है यह भी साफ़ नहीं हो पाया है। 

Tools Used:

Google Keywords Search 

Media Reports

YouTube 

Result: Misleading

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़तालसंशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular