गुरूवार, अक्टूबर 6, 2022
गुरूवार, अक्टूबर 6, 2022

होमCoronavirusक्या क्वारंटाइन के दौरान लोगों ने छतों पर अदा की सामूहिक नमाज़?...

क्या क्वारंटाइन के दौरान लोगों ने छतों पर अदा की सामूहिक नमाज़? अरब की तस्वीर को भारत का बताकर किया गया वायरल

 Claim: 

भारत में मुस्लिम लोग सोशल डिस्टेंसिंग को भूलकर छतों पर इकट्ठा होकर नमाज अदा कर रहे हैं। 

https://twitter.com/vivekagnihotri/status/1249880094832611328

जानिए क्या है वायरल दावा:

ट्विटर पर फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री द्वारा एक तस्वीर ट्वीट की गई है। वायरल तस्वीर में देखा जा सकता है कि मुस्लिम समाज के लोग घर की छतों पर इकट्ठा होकर नमाज़ अदा कर रहे हैं। पोस्ट के माध्यम से पूछा गया है कि क्या यह किसी क्वारंटाइन सेंटर की तस्वीरें हैं? इस ट्वीट को 6 हजार यूज़र्स द्वारा रिट्वीट किया है, वहीं 1980 लोगों ने इसे लाइक भी किया है। 

Verification: 

निजामुद्दीन स्थित मरकज से निकलने के बाद से तबलीगी जमात के कुछ लोग फरार चल रहे हैं। कई खबरों के मुताबिक तबलीगी जमात के लोग अस्पतालों में हंगामा कर रहे हैं। ऐसे में कुछ लोगों द्वारा छत पर नमाज की तस्वीर वायरल हो रही है। हमारी पड़ताल के दौरान पता चला कि वायरल तस्वीर को विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर कई यूजर्स द्वारा शेयर किया जा रहा है। 

कुछ टूल्स की मदद से हमने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रही तस्वीर को खंगाला। पड़ताल के दौरान हमें एक ट्वीट मिला। यह ट्वीट 14 अप्रैल, 2020 को Prof. Al-Mutairi ruler ने अपने आधिकारिक हैंडल से किया था।  वे कुवैत विश्वविद्यालय (Kuwait University) के प्रोफेसर हैं। 

टूल्स की मदद से खोजने पर हमें 32 सेकेंड की एक फेसबुक वीडियो मिली। वीडियो देखने के बाद हमने जाना कि फेसबुक और ट्विटर पर इस वीडियो में से लिए स्क्रीनशॉट को साझा किया जा रहा है।

https://www.facebook.com/ondhlcc/videos/211888313434776/?v=211888313434776

 

वहीं ट्विटर खंगालने पर भी हमें एक ट्वीट मिला, जिसमें एक यूज़र द्वारा 32 सेकेंड की वीडियो को पोस्ट किया गया है। इस वीडियो को देखने पर लगता है कि लॉकडाउन के चलते लोग अपने घर की छतों पर नमाज़ अदा कर रहे हैं।  

कुछ अलग-अलग कीवर्ड्स की मदद से हमें अरबी वेबसाइट द्वारा प्रकाशित की गई रिपोर्ट मिली। खोज के दौरान हमें HowiyaPress का लेख मिला, जिसमें इस तस्वीर को प्रकाशित किया गया था। यह रिपोर्ट 13 अप्रैल, 2020 को प्रकाशित की गई थी। लेख में तस्वीर को कुवैत का बताया गया है।

https://howiyapress.com/%D8%A8%D8%B9%D8%AF-%D9%82%D8%B1%D8%A7%D8%B1-%D8%A5%D8%BA%D9%84%D8%A7%D9%82-%D8%A7%D9%84%D9%85%D8%B3%D8%A7%D8%AC%D8%AF-%D8%A7%D9%84%D8%B5%D9%84%D8%A7%D8%A9-%D8%AA%D9%82%D8%A7%D9%85-%D9%81%D9%88%D9%82/


वहीं जांच के दौरान हमें Arab News का एक लेख मिला जो 9 अप्रैल, 2020 को प्रकाशित किया गया था। खोज में मिले लेख के मुताबिक वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के चलते अल-शुयुक नामक शहर को दो हफ्तों के लिए पूरी तह से लॉकडाउन किया गया है। आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों से अरब देशों में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते मस्जिदों में यह घोषणा की गई थी कि लोग अपने घरों में नमाज अदा करें और मस्जिदों में न आएं।  

https://www.arabnews.com/node/1655771/middle-east

वायरल दावे की तह तक जाने के लिए हमने Google Earth की मदद से खोजना शुरू किया। गूगल अर्थ पर खोजने पर पर पता चलता है कि यह दुबई के Architectural Heritage Department की बिल्डिंग है। पड़ताल में हमने पाया कि वायरल तस्वीर में नज़र आ रही मिनार और Google Earth पर दिखाई दे रही मिनार एक सामान है। गूगल अर्थ की मदद से वायरल तस्वीर दुबई की मालूम होती है। 

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रहे दावे का बारीकी से अध्ययन करने पर हमने पाया कि वायरल हो रही तस्वीर भारत की नहीं बल्कि दुबई की है।

Tools Used:

Google keywords Search 

Media Reports

Twitter Search 

Facebook Search 

Google Earth

Reverse Image Search 

Result: False

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़तालसंशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: check this @newschecker.in

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular