बुधवार, अक्टूबर 5, 2022
बुधवार, अक्टूबर 5, 2022

होमFact Checkक्या सरकारी स्कूलों को ठेके पर देने की तैयारी में है भारत...

क्या सरकारी स्कूलों को ठेके पर देने की तैयारी में है भारत सरकार? सोशल मीडिया पर शेयर हुआ फेक दावा

व्हाट्सएप पर एक अखबार की कटिंग वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है कि सरकारी मंडियों के बाद अब सरकारी स्कूलों को भी ठेके पर देने की तैयारी में है सरकार।

देशभर के सरकारी स्कूलों को ठेके पर देने की तैयारी में नहीं है केंद्र सरकार

देखा जा सकता है कि इस दावे को ट्विटर पर अलग-अलग यूज़र्स द्वारा शेयर किया जा रहा है।

देखा जा सकता है कि फेसबुक पर भी इस दावे को कई यूज़र्स द्वारा शेयर किया जा रहा है।

https://www.facebook.com/permalink.php?id=945912835619039&story_fbid=1485036601706657
https://www.facebook.com/faizan.nadir.501/posts/2234474546697839

Fact Checking/Verification

भारत सरकार द्वारा सरकारी स्कूलों को ठेके पर दिए जाने वाले दावे की सत्यता जानने के लिए हमने पड़ताल शुरु की। Google Keywords Search की मदद से खंगालने पर हमें वायरल दावे से संबंधित कोई मीडिया रिपोर्ट्स नहीं मिली।

देशभर के सरकारी स्कूलों को ठेके पर देने की तैयारी में नहीं है केंद्र सरकार

पड़ताल जारी रखते हुए हमने शिक्षा मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट को खंगालना शुरु किया। खोज के दौरान हमें ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली जिससे यह साबित होता हो कि केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सरकारी स्कूलों को ठेके पर देने का ऐलान किया है।   

देशभर के सरकारी स्कूलों को ठेके पर देने की तैयारी में नहीं है केंद्र सरकार

अधिक जानकारी के लिए हमने Dr. Ramesh Pokhriyal Nishank के आधिकारिक ट्विटर हैंडल को खंगाला। पड़ताल के दौरान हमें वायरल दावे से संबंधित कोई जानकारी नहीं मिली।

ठेके पर देने की तैयारी

ट्विटर खंगालने पर हमें PIB Fact Check के आधिकारिक हैंडल से किया गया एक ट्वीट मिला। ट्वीट के ज़रिए बताया गया है कि सरकारी स्कूलों को ठेके पर देने के लिए शिक्षा मंत्रालय द्वारा कोई कोई प्रस्ताव पास नहीं किया गया है।

Conclusion

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रहे दावे का बारीकी से अध्ययन करने पर हमने पाया कि सरकारी स्कूलों को ठेके पर दिए जाने वाला दावा फर्ज़ी है।


Result: False


Our Sources

Ministry of Education https://www.education.gov.in/hi/whos-who-hindi

Twitter https://twitter.com/PIBFactCheck/status/1330462945386536960   


 किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular