मंगलवार, दिसम्बर 6, 2022
मंगलवार, दिसम्बर 6, 2022

होमFact CheckCrimeहाथरस पीड़िता का अंतिम संस्कार नहीं देख रहे थे यूपी के सीएम...

हाथरस पीड़िता का अंतिम संस्कार नहीं देख रहे थे यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ, फोटोशॉप्ड तस्वीर भ्रामक दावे के साथ वायरल

हाथरस जिले के एक गांव में 14 सितंबर को 4 लोगों ने 19 साल की एक दलित युवती के साथ कथित रूप से गैंगरेप किया था। पीड़िता की दिल्ली में इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस फोर्स द्वारा युवती के शव का अंतिम संस्कार करने का भी आरोप है। ऐसे में ट्विटर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एक तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें सीएम योगी लैपटॉप पर कथित रूप से लड़की के दाह संस्कार का वीडियो देख रहे हैं।

वायरल पोस्ट के आर्काइव वर्ज़न को यहां देखा जा सकता है।

नीचे देखा जा सकता है कि वायरल दावे को ट्विटर पर अलग-अलग यूज़र्स द्वारा शेयर किया जा रहा है।

फेसबुक पर भी इस दावे को अलग-अलग यूज़र्स द्वारा शेयर किया जा रहा है।

https://www.facebook.com/jaibhim.channel.7/videos/811452633018302

Fact Check/Verification

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रही तस्वीर की सत्यता जानने के लिए हमने पड़ताल शुरू किया। Google Reverse Image Search की मदद खोजने पर हमें कुछ परिणाम मिले।

सीएम योगी लैपटॉप पर कथित रूप से लड़की के दाह संस्कार का वीडियो देख रहे हैं।

Kaumudi Online और Zee News द्वारा प्रकाशित की गई मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक हाथरस की घटना को लेकर सीएम योगी गैंगरेप पीड़िता के परिवार से वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए बात कर रहे थे।

सीएम योगी लैपटॉप पर कथित रूप से लड़की के दाह संस्कार का वीडियो देख रहे हैं।
सीएम योगी लैपटॉप पर कथित रूप से लड़की के दाह संस्कार का वीडियो देख रहे हैं।

अधिक जानकारी के लिए हमने ट्विटर खंगालना शुरू किया। पड़ताल के दौरान हमें सीएम योगी आदित्यनाथ के आधिकारिक हैंडल से किया गया एक ट्वीट मिला। @CMOfficeUP से ट्वीट करते हुए लिखा गया है कि मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ हाथरस के पीड़ित परिवार से वीडियो कॉलिंग के माध्यम से बात कर रहे हैं।

खोज के दौरान न्यूज़ एजेंसी ANI द्वारा किया गया एक और ट्वीट मिला। ट्वीट की गई तस्वीर के साथ जानकारी दी गई है कि ‘सीएम योगी आदित्यनाथ ने हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिवार से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए बात की।

ट्विटर खंगालने के दौरान हमें पत्रकार तनुश्री पांडे का एक ट्वीट मिला। लैपटॉप की स्क्रीन पर जो अंतिम संस्कार की फोटो दिख रही है उसको 30 सितंबर, 2020 को तनुश्री द्वारा ट्ववीट की गई थी।

ट्ववीट ने साथ कैप्शन में लिखा हुआ है, “हाथरस पीड़िता को उसके परिवार की मर्ज़ी के खिलाफ अंतिम संस्कार किया गया। पुलिस ने परिवार के सदस्यों और स्थानीय लोगों को घर में बंद कर दिया था। परिवार आखिरी बार अपनी बेटी को देख भी नहीं पाया। यह मानवता के खिलाफ है।”

नीचे दोनों तस्वीरों में वायरल तस्वीर और असली तस्वीर में अंतर को साफ देखा जा सकता है।

नीचे दोनों तस्वीरों में वायरल तस्वीर और असली तस्वीर में अंतर को साफ देखा जा सकता है।

Conclusion

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रही तस्वीर का बारीकी से अध्ययन करने पर हमने पाया कि सीएम योगी की वायरल हो रही तस्वीर फर्ज़ी है। पड़ताल में हमने पाया कि सीएम योगी हाथरस पीड़िता के परिवार से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के ज़रिए बात कर रहे थे।


Result: Manipulated/ False


Our Sources

Zee News https://zeenews.india.com/india/hathras-rape-case-uttar-pradesh-cm-yogi-adityanath-speaks-to-victims-father-assures-stringent-action-against-accused-2313636.html

Kaumudi Online https://keralakaumudi.com/en/news/news.php?id=403713&u=uttar-pradesh-cm-yogi-adityanath-has-assured-us-justice-says-father-of-hathras-gang-rape-victim

Twitter https://twitter.com/CMOfficeUP/status/1311303514006544385


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular