गुरूवार, सितम्बर 16, 2021
गुरूवार, सितम्बर 16, 2021
होमFact Checkआजमगढ़ के फातिमा गर्ल्स कॉलेज की तस्वीर को केरल का बताकर किया...

आजमगढ़ के फातिमा गर्ल्स कॉलेज की तस्वीर को केरल का बताकर किया गया शेयर

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है। वायरल तस्वीर में कई लड़कियां अलग-अलग लाइन में बुर्का पहनकर खड़ी हुई नज़र आ रही हैं। इस तस्वीर को देखकर ऐसा लग रहा है, जैसे किसी स्कूल के ग्राउंड या किसी खाली जगह पर लड़कियों को एकत्र किया गया हो। वायरल तस्वीर को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है, ‘ये तस्वीर सउदी के किसी इस्लामिक देश की नहीं, बल्कि हिंदुस्तान के केरल के एक गर्ल्स इंजीनियरिंग डिग्री कॉलेज की है। ये खवातीन दुनियांवी तालीम के साथ-साथ अपने आखिरत को भी संवार रही हैं।’ 

फातिमा गर्ल्स कॉलेज

आर्टिकल लिखे जाने तक उपरोक्त ट्वीट को 890 से ज्यादा लोग रिट्वीट और 5100 से ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं।

बता दें कि वायरल तस्वीर को फेसबुक पर कई यूज़र्स द्वारा शेयर किया जा रहा है।

देखा जा सकता है कि वायरल तस्वीर को ट्विटर पर भी कई अन्य यूज़र्स द्वारा भी शेयर किया जा रहा है।

हमारे आधिकारिक WhatsApp नंबर (9999499044) पर भी वायरल दावे की सत्यता जानने की अपील की गई थी।

Crowd Tangle टूल पर किए गए विश्लेषण से पता चलता है कि वायरल दावे को सोशल मीडिया पर कई यूज़र्स द्वारा शेयर किया गया है।

फातिमा गर्ल्स कॉलेज

वायरल पोस्ट के आर्काइव वर्ज़न को यहां और यहां देखा जा सकता है।

Fact Check/Verification

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर का सच जानने के लिए हमने पड़ताल शुरू की। Google Reverse Image Search की मदद से खंगालने पर हमें 12 नवंबर 2017 को BDC-TV और The Morning Chronicle द्वारा प्रकाशित की गई रिपोर्ट्स मिली। इन दोनों रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह तस्वीर फातिमा गर्ल्स इंटर कॉलेज, (Fatima Girls Inter College) की है। यह कॉलेज आजमगढ़ (Azamgarh) के दाउदपुर गांव (Daudpur Village) में स्थित है। यह तस्वीर उस दौरान की है, जब फातिमा गर्ल्स इंटर कॉलेज में सुबह की सभा (Morning Assembly) चल रही थी।

फातिमा गर्ल्स कॉलेज

पड़ताल जारी रखते हुए हमने Google Map पर यह सर्च किया कि क्या Fatima Girls Inter College, Azamgarh में है या नहीं? खोज के दौरान मिले परिणामों से यह साबित हो गया कि यह स्कूल आजमगढ़ में ही स्थित है।

पड़ताल के दौरान हमने फेसबुक पर फातिमा गर्ल्स कॉलेज सर्च किया। इस दौरान हमें Fatima Girls College का आधिकारिक फेसबुक पेज मिला। इस पेज से 13 नवंबर 2017 को एक अखबार की कटिंग को पोस्ट किया गया था। अखबार की कटिंग में सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर को देखा जा सकता है। इस तस्वीर को शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा गया है, ‘कॉलेज में सुबह की प्रार्थना’ (Morning Prayer at College). फातिमा गर्ल्स कॉलेज एंड स्कूल के फेसबुक पेज पर मिली जानकारी के मुताबिक, इस स्कूल की स्थापना 2001 में हुई थी। यह स्कूल उत्तर प्रदेश बोर्ड (UP Board) से संबद्ध (Affiliated) है। 9 जून 2004 को इस स्कूल को अल्पसंख्यक संस्थान (Minority Institution) घोषित कर दिया गया था।

फातिमा गर्ल्स कॉलेज को Neyaz Ahmed Daudi द्वारा शुरू किया गया था। नेयाज़ अहमद दाउदी इस स्कूल के संस्थापक और निदेशक (Founder & Director) थे। नेयाज़ अहमद की मृत्यु के बाद से उनके बड़े बेटे आसिफ दाउदी इस स्कूल को चला रहे हैं। 

वायरल दावे की तह तक जाने के लिए हमने आसिफ दाउदी (Asif Daudi) के छोटे भाई आरिफ दाउदी (Arif Daudi) से संपर्क किया। बातचीत में उन्होंने हमें बताया कि, “सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर उनके स्कूल फातिमा गर्ल्स कॉलेज (Fatima Girls College, Azamgarh), आजमगढ़ की है। यह तस्वीर 2017 में मॉर्निंग असेंबली (Morning Assembly) के दौरान खींची गई थी।”     

Read More: इस वर्ष यूपी बोर्ड में बिना परीक्षा पास हुए छात्रों को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल हुआ भ्रामक दावा

Conclusion

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर का बारीकी से अध्ययन करने पर हमने पाया कि आजमगढ़ के फातिमा गर्ल्स कॉलेज की तस्वीर को केरल का बताकर शेयर किया जा रहा है। हमारी पड़ताल में हमने पाया कि बुर्के में नज़र आ रही सभी लड़कियां फातिमा गर्ल्स कॉलेज की छात्राएं हैं।


Result: False


Our Sources

The Morning Chronicle

Fatima Girls College Facebook Page

Neyaz Ahmed Daudi

Phone Verification

Google Map

BDC-TV


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

Neha Verma
After working for India News and News World India, Neha decided to provide the public with the facts behind the forwards they are sharing. She keeps a close eye on social media and debunks fake claims/misinformations.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular