शुक्रवार, मई 20, 2022
शुक्रवार, मई 20, 2022

होमFact Checkजम्मू कश्मीर की पांच साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ वायरल

जम्मू कश्मीर की पांच साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ वायरल

Claim

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर करते हुए पत्थरबाजी करने वालों को अगाह किया गया है। यूजर ने लिखा है कि भारतीय सेना ने ‘शोभा यात्रा’ निकाली है और अब पत्थरबाज़ी करके दिखाओ। 

 भारतीय सेना ने शोभा यात्रा निकाली है
Screenshot of Facebook/mandeepnnd

Fact

वायरल तस्वीर की सत्यता जांचने के लिए हमने तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज से सर्च किया। इस दौरान हमें आजतक द्वारा प्रकाशित 17 अप्रैल 2017 की एक रिपोर्ट प्राप्त हुई। रिपोर्ट के अनुसार, जम्मू-कश्मीर में जवानों पर पत्थरबाजी के विरोध में एक नागरिक को जीप पर बांधने वाले सेना के मेजर को क्लीन चिट दे दी गई है। बतौर रिपोर्ट, भारतीय सेना ने 15 अप्रैल 2017 को जम्मू-कश्मीर पुलिस द्वारा सेना के मेजर के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के कुछ दिनों बाद जांच बिठाई गई थी। आजतक द्वारा प्रकाशित रिपोर्ट में सोशल मीडिया पर वायरल तस्वीर संलग्न है। 

पड़ताल के दौरान हमें बीबीसी हिंदी द्वारा 23 मई 2017 को प्रकाशित एक रिपोर्ट प्राप्त हुई। रिपोर्ट के अनुसार, कश्मीर में युवक को जीप से बांधने वाले मेजर को सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत द्वारा सम्मानित किया गया था। बतौर रिपोर्ट, मेजर एल. गोगोई अप्रैल 2017 में फारूक अहमद डार नामक व्यक्ति को मानव ढाल की तरह जीप पर बांधकर घुमाने के बाद सुर्खियों में आए थे। बीबीसी की रिपोर्ट में भी वायरल तस्वीर को देखा जा सकता है।

इस तरह स्पष्ट है कि पांच साल पुरानी तस्वीर को भ्रामक दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। 

Result: Misleading/Partly False

यदि आपको यह फैक्ट चेक पसंद आया है और आप इस तरह के और फैक्ट चेक पढ़ना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular