गुरूवार, सितम्बर 16, 2021
गुरूवार, सितम्बर 16, 2021
होमFact Checkक्या कश्मीर में सेना से बचने के लिए आतंकी ने बनाया महिला...

क्या कश्मीर में सेना से बचने के लिए आतंकी ने बनाया महिला का भेष?

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर कर यह दावा किया गया कि कश्मीर में सेना से बचने के लिए आतंकवादी अब महिलाओं के वस्त्र पहनने लगे हैं.

भारत को 1947 में आजादी मिलने के बाद पाकिस्तान का निर्माण हुआ. पाकिस्तान के निर्माण के बाद से ही सीमा, आतंकवाद तथा पानी समेत कई मुद्दों को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव की स्तिथि बनी रहती है. भारत और पाकिस्तान के बीच सीमा का एक बड़ा भाग जम्मू और कश्मीर में स्थित है, इसी कारण कई बार घाटी में सीमा पार कर भारत आये आतंकियों द्वारा घाटी में हमला करने की कोशिशें होती रहती हैं.

इसी क्रम में, सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर कर यह दावा किया गया कि आतंकियों ने अब कश्मीर में सेना से बचने का नया तरीका खोज लिया लिया है. 26 जुलाई, 2021 को घाटी में एक आतंकी गिरफ्तार हुआ, जिसने महिला का भेष बनाया था.

Fact Check/Verification

सोशल मीडिया पर कश्मीर में पकड़े गए आतंकी के नाम पर वायरल हो रही इस तस्वीर की पड़ताल के लिए, हमने सबसे पहले इसे गूगल पर ढूंढा. इस प्रक्रिया में हमें यह जानकारी मिली कि वायरल तस्वीर साल 2012 से ही इंटरनेट पर मौजूद है तथा कई मीडिया संस्थानों ने इस तस्वीर को अपनी रिपोर्ट्स में प्रकाशित भी किया है.

क्या कश्मीर में सेना से बचने के लिए आतंकी ने बनाया महिला का भेष?

इसके बाद हमने उपरोक्त सर्च परिणामों में मिले मीडिया रिपोर्ट्स को खंगालना शुरू किया. इसी क्रम में, जब हमने Mirror द्वारा प्रकाशित रिपोर्ट पढ़ी तो हमें यह जानकारी मिली कि 2012 में तालिबानी अलगाववादियों ने अफ़ग़ानिस्तान में तैनात कई देशों की संयुक्त मिलिट्री पर हमला करने का प्रयास किया था, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था. वायरल तस्वीर में दिख रहा व्यक्ति उसी तालिबानी दस्ते का हिस्सा था, जिसे अफ़ग़ानिस्तान में तैनात सेनाओं पर हमले के प्रयास में पकड़ा गया था.

चूंकि, Mirror द्वारा वायरल तस्वीर को लेकर प्रकाशित जानकारी के अनुसार, तस्वीर का क्रेडिट AP (Associated Press) को दिया गया है, इसीलिए हमने कुछ कीवर्ड्स की सहायता से AP की वेबसाइट को खंगाला, जहां हमें वायरल तस्वीर 28 मार्च 2012 को प्रकाशित मिली. वायरल तस्वीर के साथ शेयर किये गए विवरण के अनुसार, “Afghan security forces escort Taliban militants clad in Afghan women dresses to be presented to the media at the Afghan intelligence department in Mehterlam, Laghman province, east of Kabul, Afghanistan. Afghan Intelligence forces arrested seven Taliban militants in Qarghayi district of Laghman province. (हिंदी अनुवाद: अफगानिस्तानी सुरक्षा बलों ने काबुल के पूर्व में लगमान प्रांत के मेहतरलाम से तालिबानी महिलाओं की तरह भेष बदले एक तालिबानी अलगाववादी को पकड़ा है. अफगानी खुफिया तंत्र ने लगमान प्रांत के करघई जिले से 8 तालिबानी अलगाववादियों को पकड़ा है.”

इसके बाद हमें Outlook द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट में भी वायरल तस्वीर प्राप्त हुई, जिसे AP द्वारा वायरल तस्वीर को लेकर प्रकाशित जानकारी से मिलते जुलते विवरण के साथ प्रकाशित किया गया है. इसके अतिरिक्त, Mail Online तथा The Atlantic द्वारा वायरल तस्वीर को लेकर प्रकाशित रिपोर्ट्स में भी, पूरे घटनाक्रम को अफ़ग़ानिस्तान का बताते हुए महिला के भेष में पकड़े गए आतंकी को तालिबानी बताया गया है.

Conclusion

इस तरह हमारी पड़ताल में यह बात साफ हो जाती है कि कश्मीर में सेना से डरकर आतंकवादियों द्वारा महिला का भेष बनाने के नाम पर वायरल यह तस्वीर अफ़ग़ानिस्तान की है तथा 2012 से ही इंटरनेट पर मौजूद है। इस तस्वीर में दिख रहा व्यक्ति कोई कश्मीरी आतंकी नहीं है.

Result: Misplaced Context/Misleading

Our Sources

Mail Online

Mirror

The Atlantic

Outlook

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

Saurabh Pandey
The reason why he chose to be a part of the Newschecker team lies somewhere between his passion and desire to surface the truth. The inception of social networking sites, misleading information, and tilted facts worry him. So, here he is ready to debunk any such fake story or rumor.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular