रविवार, अक्टूबर 2, 2022
रविवार, अक्टूबर 2, 2022

होमFact Checkक्या ये हैं स्टीव जॉब्स के आखिरी शब्द?

क्या ये हैं स्टीव जॉब्स के आखिरी शब्द?

Viral News

स्टीव जॉब्स की मौत के सालों बाद भी ये लेख लोगों द्वारा शेयर किया जा रहा है। इस लेख में दावा किया गया है कि मरने से पहले एप्पल के संस्थापक स्टीव जॉब्स ने एक पत्र लिखा था जिसमें उन्होंने जिक्र किया कि कैसे वो बस काम में व्यस्त रहकर मेहनत करते रहे और कभी अपने लिए समय ही नहीं निकाला। इस लेख को पिछले कई सालों से हर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर शेयर किया गया है।

Investigation

पर क्या स्टीव जॉब्स ने वाकई अपने आखिरी वक्त में ऐसा कुछ लिखा था? हमने गूगल पर अपनी खोज़ शुरू की तो हमें कई पोस्ट मिले जिनमें स्टीव जॉब्स के आखिरी शब्दों का उल्लेख किया गया था। नीचे दिए लिंक्स पर इन्हें देखा जा सकता है:

https://bit.ly/2J7GxwP

https://bit.ly/2KQ15Lx

https://bit.ly/2KXrq6K

स्टीव जॉब्स की मौत 2011 में हुई थी। और ये लेख उनकी मौत के 2-3 साल बाद वायरल होने शुरू हुए। उनकी मौत से जुड़ी खबरों को जानने के लिए जब हमने कई अंतरराष्ट्रीय अखबारों को खंगालना शुरू किया तो हमें The Guardian का सात साल पुराना लेख मिला, जिसमें स्टीव जॉब्स की बहन ने उनके आखिरी दिनों का जिक्र किया था। मोना सिंपसन के मुताबिक अपने आखिरी दिनों में जॉब्स स्नेह से भर गए थे उनकी आवाज़ में एक नर्मी थी जैसे उन लोगों में होती है जो सामान बांध, कहीं जाने के लिए तैयार होते हैं। मोना ने बताया कि मरने से पहले उन्होंने जो शब्द कहे वो थे, “Oh wow, Oh wow, Oh wow”, स्टीव जैसे जानते थे कि उनका अंतिम समय अब आ गया है। ये पूरा लेख आप नीचे दिए लिंक पर पढ़ सकते हैं।

https://bit.ly/2kgNX3N

सर्च के दौरान हमें जॉब्स की बेटी की बुक के बारे में भी जानकारी मिली जिसमें उन्होंने भी अपने पिता के अंतिम वक्त का जिक्र किया है हालांकि लीज़ा ब्रेन्नन जॉब्स ने भी वायरल हो रहे पत्र में लिखी बातों के बारे में कुछ नहीं लिखा। लीज़ा का लेख नीचे दिए लिंक पर पढ़ा जा सकता है।

https://bit.ly/2vdng3x

कुल मिलाकर ये साफ हो गया है कि फैलाया जा रहा पत्र स्टीव जॉब्स ने अपने अंतिम दिनों में नहीं लिखा है बल्कि उनके आखिरी शब्द थे “Oh wow, Oh wow, Oh wow”

Result: False

Preeti Chauhan
Preeti Chauhan
Believing in the notion of 'live and let live’, Preeti feels it's important to counter and check misinformation and prevent people from falling for propaganda, hoaxes, and fake information. She holds a Master’s degree in Mass Communication from Guru Jambeshawar University and has been a journalist & producer for 9 years.
Preeti Chauhan
Preeti Chauhan
Believing in the notion of 'live and let live’, Preeti feels it's important to counter and check misinformation and prevent people from falling for propaganda, hoaxes, and fake information. She holds a Master’s degree in Mass Communication from Guru Jambeshawar University and has been a journalist & producer for 9 years.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular