मंगलवार, दिसम्बर 6, 2022
मंगलवार, दिसम्बर 6, 2022

होमFact CheckNewsबीजेपी सुप्रीमो जेपी नड्डा ने सोशल मीडिया पर फैलाया भ्रम, पढ़ें वायरल...

बीजेपी सुप्रीमो जेपी नड्डा ने सोशल मीडिया पर फैलाया भ्रम, पढ़ें वायरल दावे पर हमारी विशेष पड़ताल

Claim

डॉ मनमोहन सिंह उसी पार्टी से ताल्लुक रखते हैं, जिसने 43000 किलोमीटर भारतीय हिस्सा चीन के सामने सरेंडर किया है. यूपीए सरकार के दौरान खराब रणनीति देखी गई और बिना लड़े भूमि सरेंडर कर दी गई।

जानिए वायरल दावा

भारत और चीन के बीच तनातनी लगातार जारी है। ऐसे में भारत के अंदर पक्ष और विपक्ष के बीच आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला भी शुरू हो गया है। इसी बीच सोशल मीडिया में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ट्वीट कर दावा किया है कि कांग्रेस शासन काल में भारत की 43000 किमी की भूमि चीन को सरेंडर कर दी गयी थी।

ट्वीट का आर्काइव लिंक यहाँ देखें।

फैक्ट चेक :-

लद्दाख में भारत और चीन के बीच सैन्य तनाव का केंद्र बनी गलवान घाटी पिछले कई दिनों से चर्चा में है। ऐसे में गलवान घाटी में शुरू हुए विवाद से भारत और चीन के रिश्तों में भी तल्खी आयी है। इस बीच भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर चीन से सावधान रहने की नसीहत दी है। इसी पर पलटवार करते हुए बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष ने ट्वीट कर कहा है कि बिना लड़े 43000 किमी भारतीय भूमि को चीन के सामने सरेंडर करने वाली कांग्रेस सरकार के लोग उनकी पार्टी को नसीहत ना दें। वायरल हो रहे इस दावे को सोशल मीडिया पर सैकड़ों लोगों ने लाइक तथा शेयर किया है।

ट्विटर का लिंक यहाँ देखें।

ट्वीट का लिंक यहाँ देखें

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस दावे को पढ़ने पर हमें इसके भ्रामक होने की आशंका हुई। जिसके चलते दावे की सत्यता जानने के लिए हमने अपनी पड़ताल शुरू की। सबसे पहले यह पता करने का प्रयास किया कि भारत की भूमि का क्षेत्रफल कितना है। इस दौरान हमें एक सरकारी वेबसाइट censusindia.gov.in से जानकारी मिली कि भारत का कुल क्षेत्रफल 3,287,240 sq.km है।

साथ ही वेबसाइट में यह भी जानकारी दी गयी है कि उपरोक्त बताए गए भारत के कुल क्षेत्रफल में वो हिस्सा भी शामिल है जिसे पाकिस्तान और चीन ने अवैध रूप से हथिया लिया था। वेबसाइट के मुताबिक अधिकृत भूमि का क्षेत्रफल 120849 sq.km बताया गया है। वायरल दावे की सत्यता जानने के लिए Google Map के माध्यम से लद्दाख से कन्याकुमारी तक की दूरी भी नापी। जहां हमें Map पर दोनों के बीच की कुल दूरी 3844 किमी प्राप्त हुई।

Google Map distance

इसके साथ ही हमने अपनी धरती का एक घेरा कितने किलोमीटर का है। इसकी जानकारी प्राप्त करने के लिए भी खोजा। जहां हमें नासा की आधिकारिक वेबसाइट से इस तथ्य की जानकारी मिली कि धरती का एक घेरा करीब-करीब 40,070 किमी है।

circumference of earth

खोज के दौरान हमें The Week नामक वेबसाइट पर वायरल दावे पर प्रकाशित एक लेख प्राप्त हुआ। जहां यह बताया गया है कि भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने वायरल दावे को ट्विटर पर पोस्ट करते वक्त गणित की क्षेत्रफल के लिए इस्तेमाल की जाने वाली यूनिट का ख्याल नहीं रखा और भूल से उन्होंने ‘वर्ग किलोमीटर’ को सिर्फ ‘किलोमीटर’ लिख दिया।

screenshot of the article

इसी क्रम में हमने अब इस तथ्य को खंगालना शुरू किया कि असल में चीन ने भारत का कुल कितना हिस्सा अधिकृत किया है। खोज के दौरान हमें 14 मई साल 1996 को एक सरकारी वेबसाइट पर छपा एक आंकड़ा प्राप्त हुआ। जहां यह दिखाया गया है कि चीन ने भारत का कुल 37,555 वर्ग किलोमीटर का हिस्सा कब्ज़ा लिया था।

Data from censusindia.gov.in

उपरोक्त सरकारी वेबसाइट पर मिले कुछ वर्ष पुराने आंकड़े की पुष्टि के लिए हमने दोबारा Google पर बारीकी से तथ्यों को खोजा। पड़ताल के दौरान हमें meacms.mea.gov.in नाम की सरकारी वेबसाइट से इस बात की जानकारी मिली कि चीन ने अरुणाचल प्रदेश की तरफ से कुल 90000 वर्ग किलोमीटर तथा लद्दाख की तरफ से 38000 वर्ग किलोमीटर का हिस्सा कब्ज़ा किया है।

Government Data

पड़ताल के दौरान कई टूल्स और कीवर्ड्स का उपयोग करते हुए यह पता चला कि भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा द्वारा ट्विटर पर चीन द्वारा भारत की भूमि कब्जाए जाने सम्बन्धी जो आंकड़ा पेश किया किया है वह गलत है।

Tools Used

Google Search

Google Map

Government Data

Result – False

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: [email protected])

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular