सोमवार, अक्टूबर 3, 2022
सोमवार, अक्टूबर 3, 2022

होमFact Checkवायरल तस्वीर में अन्ना हजारे के साथ नहीं खड़े हैं पीएम मोदी,...

वायरल तस्वीर में अन्ना हजारे के साथ नहीं खड़े हैं पीएम मोदी, सोशल मीडिया में गलत दावे के साथ तस्वीर हो रही है वायरल

सोशल मीडिया पर इन दिनों पीएम मोदी की एक ब्लैक एंड व्हाइट तस्वीर खूब वायरल हो रही है। इस तस्वीर में पीएम मोदी (PM MODI) एक शख्स के साथ खड़े नजर आ रहे हैं। इस फोटो को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि पीएम मोदी (PM MODI) इस फोटो में सामाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे के साथ खड़े हैं। ये तस्वीर आरएसएस शिविर में ली गई थी। इतना ही नहीं इस तस्वीर को शेयर करते हुए यह भी कहा जा रहा है कि दोनों एक दूसरे को काफी समय से जानते हैं। यही कारण हैं कि आजकल अन्ना हजारे चुप हैं। 

सोशल मीडिया पर वायरल दावे का आर्काइव यहां देखा जा सकता है।  

Fact Check/Verification

वायरल तस्वीरों की सच्चाई जानने के लिए हमने अपनी पड़ताल शुरू की। सबसे पहले हमने वायरल तस्वीर को गूगल रिवर्स इमेज के जरिए सर्च किया। जिसके बाद हमें इस तस्वीर से जुड़ी कई अहम जानकारियां प्राप्त हुई। हमें पीएम नरेंद्र मोदी (PM MODI) की इस तस्वीर से जुड़े आर्टिकल द इकोनॉमिक टाइम्स और इंडिया टुडे पर मिले। जो 22 सितंबर 2017 को प्रकाशित किए गए थे। 

इन आर्टिकल्स में पीएम मोदी (PM MODI) के साथ दिख रहे शख्स की पहचान लक्ष्मण राव ईनामदार उर्फ वकील साहब के तौर पर की गई है। ईनामदार पीएम मोदी के काफी करीबी थे। ये तस्वीर तकरीबन तीन दशक पुरानी है। लक्ष्मण राव ईनामदार गुजरात में आरएसएस को स्थापित करने वाले लोगों में से एक हैं। लक्ष्मण राव ईनामदार ने वकालत की पढ़ाई की थी, यही कारण है कि उन्हें वकील साहब भी कहा जाता था।

लक्ष्मण राव ईनामदार पीएम मोदी की जिंदगी का एक अहम हिस्सा रहे हैं। इन्होंने ही पीएम नरेंद्र मोदी को अनुशासन और राजनीति के तमाम जरूरी पाठ पढ़ाए थे। लक्ष्मण राव ईनामदार की मृत्यु साल 1984 में ही हो गई थी। जिसके बाद पीएम नरेंद्र मोदी ने लक्ष्मण राव इनामदार के जीवन पर एक किताब लिखी थी। 

पड़ताल के दौरान हमें आजतक का एक आर्टिकल मिला, जिसमें पीएम मोदी ने आजतक को दिए इंटरव्यू के दौरान लक्ष्मण राव ईनामदार के लिए जो बातें कहीं थी उसे लिखा गया है। खोज के दौरान हमें डीडी न्यूज का एक वीडियो भी मिला, जिसमें लक्ष्मण राव ईनामदार के जीवन पर आधारित एक लघु फिल्म को दिखाया गया है।

इस वीडियो के मुताबिक लक्ष्मण राव ईनामदार ने 1960 से 1980 के बीच एक अभियान चलाया था। इस अभियान का मकसद गुजरात में आरएसएस को हर घर तक पहुंचाना था। इसी अभियान के दौरान पीएम मोदी साल 1967 में लक्ष्मण राव ईनामदार से मिले थे। लक्ष्मण राव ईनामदार के बारे में बीबीसी ने भी एक लेख प्रकाशित किया है। 

Conclusion

सोशल मीडिया पर वायरल फोटो में दिख रहे शख्स अन्ना हजारे नहीं, बल्कि पीएम मोदी के गुरु लक्ष्मण राव ईनामदार हैं। उनकी तस्वीर को गलत दावे के साथ सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है।


Result: False

our sources

Youtube- https://www.youtube.com/watch?v=bxe0icLfL4E

Economics times – https://economictimes.indiatimes.com/news/politics-and-nation/lakshmanrao-inamdar-the-man-who-made-narendra-modi-what-he-is-today/biggest-influencer-in-modis-life/slideshow/60794962.cms

India today – https://www.indiatoday.in/magazine/the-big-story/story/20140519-narendra-modi-lakshmanrao-inamdar-rss-802639-1999-11-30

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular