शनिवार, दिसम्बर 10, 2022
शनिवार, दिसम्बर 10, 2022

होमFact Checkअयोध्या में राम मंदिर शिला पूजन को लेकर राजीव गाँधी की तस्वीर...

अयोध्या में राम मंदिर शिला पूजन को लेकर राजीव गाँधी की तस्वीर गलत दावे के साथ हो रही है वायरल

Claim– राम जन्मभूमि का शिलापूजन राजीव गांधी द्वारा साल 1989 में हो चुका है और यह उसी समय की तस्वीर है।

https://www.facebook.com/fanofpriya/posts/579231762966577

फेसबुक का आर्काइव लिंक यहाँ देखा जा सकता है।

अयोध्या में राम मंदिर के शिला पूजन की तैयारियां पूरे चरम पर हैं। आगामी 5 अगस्त को देश के पीएम नरेंद्र मोदी मंदिर का शिलान्यास करेंगे। इसी बीच सोशल मीडिया में भूतपूर्व प्रधानमंत्री राजीव गाँधी की तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है कि मंदिर का शिला पूजन साल 1989 में ही हो चुका है। दावा किया जा रहा है कि यह शुभ कार्य राजीव गाँधी द्वारा कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी को, जिसे हम देवउठनी एकादशी कहते हैं को किया गया गया था। इस दावे को सोशल मीडिया के कई माध्यमों पर बड़ी तेजी से शेयर किया जा रहा है।

https://twitter.com/ankittiwari900/status/1287246962522112001
Viral Tweet
Viral Tweet
https://twitter.com/ShilpiSinghINC/status/1286874743048568832
Viral Tweet

ऐसे ही कई अन्य सोशल मीडिया पोस्ट्स को यहाँ देखा जा सकता है।

Fact Check/Verification


भूतपूर्व प्रधानमंत्री राजीव की जिस तस्वीर के साथ अयोध्या में राम जन्मभूमि पूजन की बात की जा रही है, उसका सच जानने के लिए हमने अपनी पड़ताल शुरू की। इस दौरान सबसे पहले गूगल रिवर्स इमेज के सहारे तस्वीर को खंगालना आरम्भ किया। इस दौरान कई मीडिया रिपोर्ट्स मिली जिनमें वायरल तस्वीर का प्रयोग किया गया था। अधिकतर तस्वीरों में राजीव गाँधी की हत्या के मामले को लेकर प्रकाशित लेख थे जिनमें इस तस्वीर को जगह दी गई है।

Reverse image Screenshot
Screenshot Google

कुछ कीवर्ड के माध्यम से की गई पड़ताल के दौरान पंजाब केसरी का एक लेख मिला जिसने कमोवेश वायरल तस्वीर को सच ही बता दिया है। राम मंदिर शिला पूजन को लेकर इस लेख में तस्वीर को प्रमुखता से प्रकाशित किया गया है।

Screenshot
Screenshot Punjab Kesari

कुछ अन्य कीवर्ड्स के माध्यम से की गई पड़ताल में पता चला कि जिस तस्वीर को अयोध्या में मंदिर पूजन का बताकर शेयर किया जा रहा है वह इस्कॉन टेम्पल दिल्ली की तस्वीर है।


Asianage में प्रकाशित लेख के मुताबिक़ यह तस्वीर साल 1989 में इस्कॉन टेम्पल दिल्ली की है जब राजीव गाँधी को हरे कृष्णा के भक्तों ने भागवत गीता भेंट की थी।

पड़ताल के दौरान ही वायरल हो रही तस्वीर commons.wikimedia.org पर भी प्राप्त हुई जिसमें साफ किया गया है कि राजीव गाँधी की वायरल तस्वीर दिल्ली के इस्कॉन टेम्पल की है।


अयोध्या की नहीं है राजीव गाँधी की वायरल तस्वीर

हमारी पड़ताल में इतना तो साफ हो गया था कि वायरल हो रही तस्वीर का राम मंदिर शिलापूजन से कोई वास्ता नहीं है। लेकिन क्या राजीव गाँधी ने राम मंदिर बनाने के लिए कोई पहल की भी थी यह इससे पहले भी मंदिर निर्माण के लिए नींव रखी जा चुकी है यह जानना भी बेहद आवश्यक था। कुछ कीवर्ड्स के माध्यम से गूगल खंगालने पर कई मीडिया रिपोर्ट्स सामने आयी। दैनिक जागरण लिखता है कि साल 1989 में तत्कालीन पीएम राजीव गाँधी ने अयोध्या में राम मंदिर के शिलान्यास का आदेश दिया था। लेख के मुताबिक़ 9 नवम्बर साल 1989 में विश्व हिन्दू परिषद ने हजारों लोगों की मौजूदगी में मंदिर की नीव रखी थी। मंदिर की नीव रखने वाले कामेश्वर चौपाल जो दलित तबके से आते थे उनकी उम्र उस समय महज 35 साल थी। हालांकि मंदिर के शिलान्यास के बाद सूबे और देश में कई सरकारें बदली और राजनीतिक समीकरण के चलते मंदिर एक मुद्दा बन गया था।

SS
Screenshot Dainik jagran

AajTak ने भी भूतपूर्व पीएम राजीव गाँधी द्वारा अयोध्या में मंदिर के शिलान्यास की अनुमति दिए जाने की घटना का रोचक वर्णन किया है।

Conclusion

हमारी पड़ताल में यह साफ़ हो गया कि राजीव गाँधी की जिस तस्वीर के साथ दावा किया जा रहा है वह सही नहीं है। साथ ही साल 1989 में दलित युवक ने राम जन्मभूमि की नीव रखी थी। राजीव गाँधी की वायरल तस्वीर दिल्ली स्थित इस्कॉन मंदिर की है।

Sources

factsanddetailshttps://factsanddetails.com/world/cat55/sub388/entry-5651.html

commons.wikimedia.orghttps://commons.wikimedia.org/wiki/File:Rajiv_Gandhi_meeting_Russian_Hare_Krishna_devotees_in_New_Delhi_1989.jpg#file

Asianagehttps://www.asianage.com/india/all-india/210817/rajiv-pm-who-first-visualised-india-could-be-a-global-power.html

Dainik Jagranhttps://www.jagran.com/news/national-ayodhya-case-importance-of-year-1989-when-the-foundation-stone-of-ram-temple-was-established-jagran-special-19676067.html

AajTak- https://aajtak.intoday.in/story/ayodhya-ram-mandir-babri-masjid-rajeev-gandhi-congress-foundation-lk-advani-tpt-1-969256.html

Result-Misleading

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें:9999499044या ई-मेल करें:[email protected]

JP Tripathi
JP Tripathi
Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.
JP Tripathi
JP Tripathi
Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular