बुधवार, मई 25, 2022
बुधवार, मई 25, 2022

होमFact Checkयोगी आदित्यनाथ ने पश्चिमी यूपी के जाटों को लेकर नहीं कही यह...

योगी आदित्यनाथ ने पश्चिमी यूपी के जाटों को लेकर नहीं कही यह बात, एडिटेड ट्वीट पोस्ट हुआ वायरल

सोशल मीडिया पर एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट शेयर कर दावा किया जा रहा कि योगी आदित्यनाथ ने पश्चिमी यूपी के जाटों का इलाज करने की बात कही है। वायरल दावे के साथ यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के ट्वीट का स्क्रीनशॉट संलग्न है, जिसमें लिखा है, ‘कैराना, बागपत,मथुरा, मुजफ्फरनगर, के जाटों का इलाज कर दूंगा। 10 मार्च को वोट भाजपा को दें।’

एक फेसबुक यूजर ने वायरल तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, “अब भी कोई जाट इसको वोट देगा तो अपना DNA टेस्ट करवा लियो.”

 (उपरोक्त पोस्ट को अक्षरश: लिखा गया है।)

Screenshot Facebook/profile.php?id=100021433416974

एक अन्य फेसबुक यूजर ने वायरल स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए लिखा, ‘जो जाट अब भी भाजपा के साथ है पडौसीयो की औलाद है.”

(उपरोक्त पोस्ट को अक्षरश: लिखा गया है।)

Screenshot Facebook/profile.php?id=100077267344764

यूपी में हो रहे विधानसभा चुनाव की तैयारियां अपने अंतिम दौर में हैं। नेतागण अपनी चुनावी रैलियों में एक दूसरे के ऊपर बयानबाजी करते नज़र आ रहे हैं। बीते दिनों मुजफ्फरनगर में डोर टू डोर प्रचार के दौरान अमित शाह ने अखिलेश यादव पर कई जुबानी हमले किए। इस दौरान अमित शाह ने सपा पर माफिया को संरक्षण देने का आरोप लगाया। वहीं, गृहमंत्री अमित शाह के बयान पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने पलटवार करते हुए ऐलान किया कि वह हर चैलेंज के लिए तैयार हैं। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक तस्वीर शेयर कर दावा किया जा रहा कि योगी आदित्यनाथ ने पश्चिमी यूपी के जाटों का इलाज करने की बात कही है।

इससे पहले जाटों को लेकर पीएम मोदी की एक खबर का स्क्रीनशॉट वायरल हुआ था जो हमारी पड़ताल में फेक साबित हुआ।

Fact Check/Verification

योगी आदित्यनाथ ने पश्चिमी यूपी के जाटों का इलाज करने की बात कही है, दावे के साथ सोशल मीडिया पर वायरल ट्वीट के स्क्रीनशॉट की सत्यता जानने के लिए हमने स्क्रीनशॉट को गूगल रिवर्स की मदद से खोजना शुरू किया। इस दौरान हमें ABP News द्वारा 03 फरवरी 2022 को प्रकाशित की गई एक रिपोर्ट प्राप्त हुई। रिपोर्ट के अनुसार, यूपी में हो रहे विधानसभा चुनाव की तैयारियों के दौरान नेताओं की बदजुबानी तेज है। बतौर रिपोर्ट, नेता गर्मी उतारने और चर्बी पिघलाने का दावा कर वोटरों को लुभा रहे हैं। 

Screenshot of Google Reverse Image

Screenshot of ABP News Report

हमने अपनी पड़ताल के दौरान कुछ कीवर्ड की मदद से ट्विटर पर सर्च करना शुरू किया। इस दौरान हमें योगी आदित्यनाथ के ट्वीटर हैंडल द्वारा 29 जनवरी 2022 को किया गया एक ट्वीट प्राप्त हुआ, जिसमें लिखा है, “कैराना से तमंचावादी पार्टी का प्रत्याशी धमकी दे रहा है, यानी गर्मी अभी शांत नहीं हुई है! 10 मार्च के बाद गर्मी शांत हो जाएगी…”

Screenshot [email protected]

योगी आदित्यनाथ के ट्वीटर हैंडल से 29 जनवरी 2022 को किया गया ट्वीट और सोशल मीडिया पर वायरल ट्वीट काफी मिलता जुलता है। हमने दोनों ट्वीट का तुलनात्मक विश्लेषण किया। दोनों तस्वीरों में योगी आदित्यनाथ की मास्क वाली फोटो लगी है। दोनों तस्वीरों में योगी आदित्यनाथ का ट्विटर हैंडल एक जैसा है, लेकिन दोनों के फॉंट साइज में अंतर है। इसके अलावा वायरल तस्वीर में कोई समय और तारीख नहीं लिखा गया है।

 

Self Analysis By Newschecker

पड़ताल के दौरान हमने कुछ कीवर्ड की मदद से गूगल पर खोजना शुरू किया। इस दौरान हमें अमर उजाला द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट प्राप्त हुई। रिपोर्ट के मुताबिक, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ 29 जनवरी 2022 को बागपत के किशनपुर बिराल में मतदाता संवाद कार्यक्रम में पहुंचे थे, जहां पर सीएम ने समाजवादी पार्टी पर तंज करते हुए गर्मी शांत करने की बात कही थी। इसके बाद ट्विटर हैंडल से भी इसे पोस्ट किया गया है।

Screenshot of Amar Ujala Report

 

Conclusion

इस तरह हमारी पड़ताल में यह साफ़ हो गया कि ‘योगी आदित्यनाथ ने पश्चिमी यूपी के जाटों का इलाज करने की बात कही है’, दावे के साथ सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा ट्वीट का स्क्रीनशॉट एडिटेड है।

Result: Manipulated Media

Our Sources

ABP News 

Yogi Adityanath Tweet

Amar Ujala

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: [email protected]

Shubham Singh
Shubham Singh
An enthusiastic journalist, researcher and fact-checker, Shubham believes in maintaining the sanctity of facts and wants to create awareness about misinformation and its perils. Shubham has studied Mathematics at the Banaras Hindu University and holds a diploma in Hindi Journalism from the Indian Institute of Mass Communication. He has worked in The Print, UNI and Inshorts before joining Newschecker.
Shubham Singh
Shubham Singh
An enthusiastic journalist, researcher and fact-checker, Shubham believes in maintaining the sanctity of facts and wants to create awareness about misinformation and its perils. Shubham has studied Mathematics at the Banaras Hindu University and holds a diploma in Hindi Journalism from the Indian Institute of Mass Communication. He has worked in The Print, UNI and Inshorts before joining Newschecker.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular