बुधवार, मई 29, 2024
बुधवार, मई 29, 2024

होमहिंदीक्या रवीश कुमार ने अपने शो प्राइम टाइम में आरोपी शाहरुख को...

क्या रवीश कुमार ने अपने शो प्राइम टाइम में आरोपी शाहरुख को बताया अनुराग मिश्रा?

Claim

रवीश कुमार ने पुलिस पर गोलीबारी करने वाले शाहरुख का बचाव करने के लिए क्रॉप्ड वीडियो चलाया। आरोपी शाहरुख को बताया हिंदू युवक अनुराग मिश्रा

Verification

सोशल मीडिया पर NDTV के मैनेजिंग एडिटर रवीश कुमार के प्राइम टाइम के दो वीडियो वायरल हो रहे हैं।

पहला वीडियो

पहले वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि रवीश कुमार ने पुलिस पर गोलीबारी करने वाले शाहरुख का बचाव करने के लिए क्रॉप्ड वीडियो चलाया।

कुछ कीवर्ड की मदद से हमने ट्विटर पर वायरल हो रही वीडियो को YouTube पर खंगाला। पड़ताल के दौरान हमें NDTV का एक वीडियो मिला जो कि 24 फरवरी 2020 को अपलोड किया गया था। खोज में हमने पाया कि ट्विटर पर असली वीडियो के छोटे से हिस्से को शेयर किया जा रहा है। पूरा वीडियो देखने के बाद पता चला कि रवीश कुमार ने अपने प्राइम टाइम बुलेटिन में आरोपी शाहरूख के बारे में सभी जानकारी विस्तार से दी थी। नीचे दिए गए वीडियो में आप इस पूरे शो को देख सकते हैं।

दूसरा वीडियो

वहीं दूसरी तरफ ट्विटर यूज़र शैफाली वैद्य ने एक वीडियो ट्वीट कर कहा कि रवीश कुमार शाहरुख को बचाने के लिए एक मासूम हिंदू को दोषी बता रहे हैं।

वायरल दावे को खंगालने के लिए सबसे पहले हमने अनुराग डी मिश्रा की फेसबुक प्रोफाइल को खोजा। हमें अनुराग की वायरल तस्वीर के बारे में कई बयान मिले। जिनमें से एक खुद अनुराग द्वारा दिया गया है जिसमें उन्होंने कहा है कि उनको बदनाम किया जा रहा है। नीचे आप वायरल दावे से संबंधित अनुराग मिश्रा की वीडियो को देख सकते हैं जिसमें वो कह रहे हैं कि वायरल खबर में कोई सच्चाई नहीं है।

पड़ताल के दौरान मिली जानकारी में यह स्पष्ट होता है कि वायरल तस्वीर अनुराग मिश्रा की है। लेकिन पुलिस के सामने पिस्तौल तानने वाला शख्स अनुराग नहीं है, बल्कि शाहरूख है। यहां हम आपको दोनों युवकों की कुछ पहचान दिखाते हैं। अनुराग और शाहरूख की तस्वीरों में आप देख सकते हैं कि दोनों का चेहरा, नाक, कान और आंखें अलग हैं। 

हमारी खोज में यह तो साफ हो गया कि दोनों कुछ हद तक एक जैसे दिखते हैं, लेकिन शाहरूख और अनुराग मिश्रा दो अलग-अलग शख्स हैं। अब हमनें रवीश कुमार के शो को देखा, NDTV के प्राइम टाइम शो में रवीश कुमार द्वारा बताया गया था कि “लाल शर्ट में पिस्तौल लिए नज़र आ रहे शख्स का नाम शाहरूख है। लेकिन सोशल मीडिया पर इस शख्स को अनुराग मिश्रा बताकर शेयर किया जा रहा है”। नीचे आप इस शो को देख सकते हैं।

दूसरी तरफ न्यूज़ एजेंसी ANI द्वारा किए गए ट्वीट के अनुसार यह साफ होता है कि लाल शर्ट में बंदूक ताने खड़ा शख्स शाहरूख है।

हमारी पड़ताल में यह साबित होता है कि हिंसा के दौरान पुलिसकर्मी पर बंदूक ताने खड़ा शख्स और सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर दो अलग लोगों की है। वहीं रवीश कुमार ने अपने शो में शाहरूख का बचाव नहीं किया और ना ही कोई क्रॉप्ड वीडियो चलाया है।  

 

Tools Used

  • Twitter Search
  • Facebook Search 
  • YouTube Search 

Result: False 

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in)

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular