मंगलवार, दिसम्बर 6, 2022
मंगलवार, दिसम्बर 6, 2022

होमहिंदीट्विटर पर ट्रक द्वारा पुलिसकर्मी को कुचलता हुआ चीन का वीडियो क्लिप...

ट्विटर पर ट्रक द्वारा पुलिसकर्मी को कुचलता हुआ चीन का वीडियो क्लिप भारत का बताकर हुआ शेयर

Claim 

A police car tries to stop a truck but the driver keeps dodging & at last moment the police officer gets crushed under the wheel of the truck. Though extremely tragic accident yet moot point is that we Indians aren’t law abiding & govt can’t force traffic sense by hefty challans

हिंदी अनुवाद – एक पुलिस कार एक ट्रक को रोकने की कोशिश करती है। लेकिन चालक चकमा देता रहता है और अंतिम समय में पुलिस अधिकारी ट्रक के पहिये के नीचे कुचल जाता है। अत्यंत दुखद दुर्घटना है, चर्चा का विषय यह है कि हम भारतीय कानून का पालन नहीं कर रहे हैं और सरकार भारी चालान से लोगों में जागरूकता नहीं ला सकती है।

Verification

ट्विटर पर एक सड़क हादसे का वीडियो शेयर कर दावा किया जा रहा है कि हम भारतीय लोग कानून का पालन नहीं कर रहें हैं और सरकार भी भारी चालान से लोगों को जागरूक करने की कोशिश में लगी है।

newschecker.in टीम ने ट्वीट में शेयर किये गए वीडियो की पड़ताल शुरू की। पड़ताल ट्विटर सर्च से आरम्भ हुई जहां सबसे पहले HGS dhaliwal IPS नामक हैंडल पर वायरल वीडियो प्राप्त हुआ।

अपने ट्वीट में HGS dhaliwal IPS ने अधिकारियों को सावधानी बरतने की सलाह दी है। लेकिन वीडियो   भारत के होने का कोई जिक्र नहीं किया है। इसलिए हमने गूगल पर वीडियो को खोजना आरम्भ किया।

खोज के दौरान चीनी भाषा में प्रकाशित एक वेबसाइट पर वायरल वीडियो प्राप्त हुआ।

पड़ताल के दौरान हमें वायरल वीडियो यूट्यूब के एक चीनी भाषा वाले अन्य चैनल पर भी प्राप्त हुआ।

इस दौरान हमें ‘न्यू फिंगट्रिप’ नामक चीनी भाषा की वेबसाइट के एक लेख से मामले की पूरी जानकारी प्राप्त हुई।

लेख के मुताबिक वायरल वीडियो चीन के शेनझोउ शहर का है जहां पुलिस ने एक ट्रक को निरीक्षण के लिए रोकना चाहा तो ट्रक चालक ने रोकने से इंकार कर दिया। पुलिसकर्मी ने ट्रक का पीछा करते हुए अपनी गाड़ी ट्रक के सामने खड़ी कर दी। लेकिन ट्रक चालक पुलिस को रौंदता हुआ आगे बढ़ गया।

हमारी पड़ताल में साफ़ हो गया कि यह वीडियो भारत का नहीं है।

Tools used

  • Twitter advanced search
  • Google search
  • Youtube Search

Result – Misleading

Nupendra Singh
Nupendra Singh
A rapid increase in the rate of fake news and its ill effect on society encouraged Nupendra to work as a fact-checker. He believes one should always check the facts before sharing any information with others. He did his Masters in Journalism & Mass Communication from Lucknow University.
Nupendra Singh
Nupendra Singh
A rapid increase in the rate of fake news and its ill effect on society encouraged Nupendra to work as a fact-checker. He believes one should always check the facts before sharing any information with others. He did his Masters in Journalism & Mass Communication from Lucknow University.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular