शुक्रवार, जून 14, 2024
शुक्रवार, जून 14, 2024

होमCoronavirusइटली के अस्पताल में भर्ती गैर कोरोना पॉजिटिव मरीज की क्लिप भारत...

इटली के अस्पताल में भर्ती गैर कोरोना पॉजिटिव मरीज की क्लिप भारत की बताकर हुई शेयर

Claim:

कोरोना वायरस संक्रमित मरीज वाराणसी के बीएचयू अस्पताल में भर्ती। 

जानिए क्या है वायरल दावा:

कोरोना वायरस लगातार दुनिया भर में कहर बरपा रहा है। भारत मेंभी संक्रमण तेजी से पैर पसार रहा है। ऐसे में सोशल मीडिया पर तरह-तरह के दावे किए जा रहे हैं। हमारे आधिकारिक व्हाट्सएप नंबर पर कुछ वीडियो की सत्यता जानने के लिए भेजी गई है। यह वीडियो किसी अस्पताल की है और वीडियो में एक मरीज़ को पलंग पर तड़पते हुए देखा जा सकता है। वायरल वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि  कोरोना वायरस संक्रमित मरीज वाराणसी के बीएचयू अस्पताल में भर्ती। 

Verification: 

वैश्विक महामारी से निपटने के लिए पीएम मोदी ने पूरे देश में 14 अप्रैल तक पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा कर दी है। भारत में घातक कोरोना वायरस अबतक 500 से ज्यादा मामले दर्ज़ हुए हैं। मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में 5 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं। इनमें से तीन मरीज एक ही परिवार के हैं, यह परिवार ऋषिकेश घूमने गया था। वहीं जौनपुर जिले में कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए युवक पर पुलिस ने केस दर्ज कर दिया है। उसपर लापरवाही बरतने का मामला दर्ज़ हुआ है।

देखा जा सकता है इस वीडियो को अहमदाबाद के सोला सिविल अस्पताल का बताकर भी शेयर किया जा रहा है। वीडियो के साथ कैप्शन दिया गया है “हम कोरोना को गंभीरता से नहीं लेते हैं लेकिन आज मैं अहमदाबाद सिविल अस्पताल से 6 वीडियो भेज रहा हूं जो मैंने भावसार साहब को इलाज के लिए भेजे हैं।”

वायरल वीडियो को ट्विटर और टिक-टॉक पर भी शेयर किया जा रहा है। 

वायरल वीडियो की सत्यता का पता लगाने के लिए हमने Google Reverse Image की मदद से जानकारी जुटानी शुरू की। खोज के दौरान हमें इटली समाचार hoydiariodelmagdalena का लेख और एक You Tube चैनल पर अपलोड हुआ एक वीडियो मिला। जिसमें यह सुझाव दिया गया है कि यह व्यक्ति कोरोना संक्रमित नहीं है, इस शख्स को सांस लेने में परेशानी होने के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया है। Respiratory Infection होने के कारण इसको सांस लेने में समस्या हो रही है, यह एक आम बीमारी है जो नाक के माध्यम से शुरू होती है और फेफड़ों को प्रभावित करती है। 

पड़ताल के दौरान YouTube पर एक युवा कोरोना-प्रभावित’ नामक भयानक वीडियो सामने आया। इसके बाद समाचार संगठन Mangalore Today द्वारा प्रकाशित एक लेख भी मिला, जिसमें इस घटना से इनकार किया गया है। साथ ही इस मुद्दे पर एफआईआर भी दर्ज की गई है।

इसके अलावा, इस वायरल वीडियो को समझाने वाला एक वीडियो सामने आया। सोला हॉस्पिटल के डॉ भावसार द्वारा यह वीडियो यूट्यूब पर अपलोड किया गया है। जिसमें उन्होंने इस घटना से इनकार करते हुए कहा है, यह घटना अहमदाबाद और सोला सिविल अस्पताल की नहीं है, और हम पिछले 10 दिनों से घर पर हैं। हमने इस वीडियो के बारे में पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई है

खोज के दौरान वायरल वीडियो के सभी परिणाम यह साबित करते हैं कि यह वीडियो अहमदाबाद के सोला अस्पताल, मैंगलोर के वेनलॉक अस्पताल और वाराणसी के BHU अस्पताल का नहीं है। जांच के दौरान  हमने पाया इस वीडियो का कोरोना वायरस से कोई लेना-देना नहीं है। वीडियो में नज़र आ रहा व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं है। यह वीडियो इटली के अस्पताल का है और युवक Acute Respiratory Infection से पीड़ित है।  

Tools Used:

Google Keywords Search

Facebook Search

Twitter Search  

YouTube Search 

Result: False

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in)

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular