शुक्रवार, मई 20, 2022
शुक्रवार, मई 20, 2022

होमFact Checkअखिलेश यादव ने नहीं की केशव प्रसाद मौर्या पर यह टिप्पणी, जातीय...

अखिलेश यादव ने नहीं की केशव प्रसाद मौर्या पर यह टिप्पणी, जातीय रंग देते हुए सोशल मीडिया पर शेयर किया गया भ्रामक दावा

सोशल मीडिया पर एक वीडियो को शेयर कर दावा किया गया है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मौर्य समाज का अपमान किया है। दावे के मुताबिक अखिलेश ने यूपी के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या के लिए अपशब्दों का प्रयोग किया।  

11 सेकंड के इस वायरल क्लिप में अखिलेश यादव बोलते हुए नज़र आ रहे हैं कि ‘ये डिप्टी सीएम किसने बना दिया इनको, इनको कूड़े का काम और नाली साफ़ करने का काम दोबारा दे देना चाहिए। 

अरविंद मेनन नामक फेसबुक यूजर ने इस क्लिप को शेयर करते हुए लिखा, ‘यह सिर्फ़ केशव प्रसाद मौर्य जी का नहीं बल्कि समस्त मौर्य समाज का अपमान है। अखिलेश यादव को जनता से माफ़ी माँगनी चाहिए।’

अखिलेश यादव ने मौर्य समाज का अपमान किया है
Courtesy: Arvind Menon

उपरोक्त फेसबुक पोस्ट को यहां देखा जा सकता है। 

उपरोक्त फेसबुक पोस्ट के आर्काइव को यहां देखा जा सकता है।  

अखिलेश यादव ने मौर्य समाज का अपमान किया है
Courtesy: AMITABH Chaudhary

उपरोक्त फेसबुक पोस्ट को यहां देखा जा सकता है।

अखिलेश यादव ने मौर्य समाज का अपमान किया है
Courtesy:ठाकुर उपेंद्र सिंह परिहार

उपरोक्त फेसबुक पोस्ट को यहां देखा जा सकता है।

अखिलेश यादव ने मौर्य समाज का अपमान किया है
Courtesy: Shree Ram Lalla

उपरोक्त फेसबुक पोस्ट को यहां देखा जा सकता है।

Crowdtangle टूल की सहायता से किये गए विश्लेषण के मुताबिक, इस वीडियो को पिछले तीन दिनों में फेसबुक पर कुल 40 बार पोस्ट किया गया है। जहां कुल 36,055 इंटरैक्शन (रिएक्शन, कमेंट, शेयर) हैं।

अखिलेश यादव ने मौर्य समाज का अपमान किया है
Screenshot Of Crowdtangle

उपरोक्त दावे को ट्विटर पर भी शेयर किया गया है। 

Tweet Post
Tweet Post

आये दिन उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को लेकर कई फेक दावे शेयर किए जाते रहे हैं। अभी हाल ही में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा मंच से एक व्यक्ति को डांटकर नीचे जाने को कहा गया था। इस वीडियो को शेयर कर दावा किया गया कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य को मंच से भगाकर अपमानित किया गया। हमारी पड़ताल में यह दावा भ्रामक साबित हुआ, जिसका फैक्ट चेक यहाँ पढ़ा जा सकता है।

6 सितंबर 2021 को zeenews.india.com द्वारा प्रकाशित एक लेख के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में 2022 में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में सूबे में जाति और धर्म की बात होना स्वाभाविक है। उपरोक्त लेख के मुताबिक, उत्तर प्रदेश में सत्ता की चाभी सूबे के ओबीसी (OBC) मतदाताओं के पास है। बतौर लेख, 2001 में उत्तर प्रदेश में ओबीसी आबादी 54% थी, जिसमें यादव आबादी 19.4 फीसदी थी और गैर-यादव ओबीसी आबादी 31 फीसदी के आस-पास थी।

Fact Check/Verification 

क्या सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मौर्य समाज का अपमान किया है? सोशल मीडिया पर शेयर किए गए इस दावे का सच जानने के लिए हमने इसे invid टूल की मदद से कुछ की-फ्रेम्स में बदला। इसके बाद एक की-फ्रेम के साथ गूगल रिवर्स सर्च किया। लेकिन हमें वायरल वीडियो से संबंधित कोई रिपोर्ट नहीं मिली।

अखिलेश यादव ने मौर्य समाज का अपमान किया है
Screenshot

इसके बाद हमने यूट्यूब पर कुछ कीवर्ड्स के साथ सर्च किया। इस दौरान हमें Samajwadi party के यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया गया एक वीडियो प्राप्त हुआ। वीडियो को पूरा देखने पर पता चला कि 11 सेकंड की वायरल क्लिप इसी वीडियो से काटकर शेयर की जा रही है।

प्राप्त वीडियो को देखने के बाद मालूम हुआ कि अखिलेश यादव ने ‘ये डिप्टी सीएम किसने बना दिया इनको, इनको कूड़े का काम और नाली साफ़ करने का काम दोबारा दे देना चाहिए’ बात बोली है, लेकिन केशव प्रसाद मौर्य के लिए नहीं बल्कि यूपी के उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के लिए कहा है। वीडियो के 40 मिनट 50 सेकंड पर, वायरल वीडियो क्लिप को देखा जा सकता है। गौरतलब है कि दिनेश शर्मा उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री बनने से पहले लखनऊ के मेयर भी रह चुके हैं। 

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मौर्य समाज का अपमान किया है, इस दावे के बारे में अधिक जानकारी के लिए हमने समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता सुनील यादव से संपर्क किया, उन्होंने हमें बताया कि “अखिलेश यादव ने ये बात दिनेश शर्मा के लिए कही थी। उन्होंने केशव प्रसाद मौर्या के लिए ऐसा नहीं कहा था।” 

Conclusion 

इस तरह हमारी पड़ताल में यह साफ़ हो गया कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को लेकर सोशल मीडिया पर भ्रामक दावा शेयर किया गया है। हालांकि, अखिलेश यादव ने यह बात यूपी के दूसरे उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा के लिए कही थी। लेकिन सोशल मीडिया यूजर्स ने अखिलेश यादव के इस बयान को केशव प्रसाद मौर्या से जोड़कर शेयर करना शुरू कर दिया। 

Result: Misleading

Sources

Samajwadi Party Youtube Channel

Direct Contact

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular