गुरूवार, सितम्बर 16, 2021
गुरूवार, सितम्बर 16, 2021
होमFact Checkदलवीर भंडारी को नहीं चुना गया अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट का मुख्य न्यायाधीश, भ्रामक...

दलवीर भंडारी को नहीं चुना गया अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट का मुख्य न्यायाधीश, भ्रामक दावा हुआ वायरल

सोशल मीडिया पर अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय के सदस्य दलवीर भंडारी को लेकर एक खबर वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है कि उन्हें अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय का चीफ जस्टिस बनाया गया है। दावे के मुताबिक, 71 सालों से यह पद ग्रेट ब्रिटेन संभाल रहा था, लेकिन इस बार जब इस पद के लिए वोटिंग की गई तो दलवीर भंडारी को 193 में से 183 वोट मिले।

आर्टिकल लिखे जाने तक उपरोक्त ट्वीट को 210 से ज्यादा लोग रिट्वीट और 280 से ज्यादा लोग लाइक कर चुके हैं।

देखा जा सकता है कि इस दावे को फेसबुक और ट्विटर पर कई अन्य यूज़र्स द्वारा भी शेयर किया जा रहा है।

हमारे आधिकारिक WhatsApp नंबर (9999499044) पर भी इस वायरल दावे की सत्यता जानने की अपील की गई थी।

Crowd Tangle टूल पर किए गए विश्लेषण से पता चलता है कि वायरल दावे को सोशल मीडिया पर कई यूज़र्स द्वारा शेयर किया गया है।

दलवीर भंडारी

वायरल पोस्ट के आर्काइव वर्ज़न को यहां और यहां देखा जा सकता है।

Fact Check/Verification

अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय के सदस्य दलवीर भंडारी को लेकर किए जा रहे दावे का सच जानने के लिए, हमने कुछ अलग-अलग कीवर्ड्स की मदद से गूगल पर खोजना शुरू किया। लेकिन हमें वायरल दावे से संबंधित कोई रिपोर्ट नहीं मिली। 

पड़ताल आगे बढ़ाते हुए हमने International Court of Justice की आधिकारिक वेबसाइट को खंगाला। इस दौरान पता चला कि अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (International Court of Justice) में मुख्य न्यायाधीश (Chief Justice) जैसा कोई पद नहीं होता। हालांकि अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय में तीन साल की अवधि के लिए, एक राष्ट्रपति और एक उपराष्ट्रपति का चुनाव कराया जाता है। वेबसाइट पर प्राप्त जानकारी के अनुसार, 8 फरवरी 2021 को अमेरिका के जोन ई.डोनोग्यू (Judge Joan E. Donoghue) और रूस के किरिल गेवोर्जियन (Judge Kirill Gevorgian) को क्रमशः राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के रूप में चुना गया था।    

दलवीर भंडारी

जानें क्या है इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस?

अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (ICJ) को संयुक्त राष्ट्र द्वारा जून 1945 में स्थापित किया गया था और अप्रैल 1946 में इसने काम करना शुरू किया था।  अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय, संयुक्त राष्ट्र का प्रमुख न्यायिक अंग है, जो हेग (नीदरलैंड्स) के पीस पैसेस में स्थित है। यह राष्ट्रों के बीच कानूनी विवादों को सुलझाता है। बता दें कि इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में 193 देश शामिल हैं। इसमें 15 जज होते हैं, जो सामान्य तौर पर 9 साल के कार्यकाल के लिए चुने जाते हैं, लेकिन अगर कोई जज बीच में इस्तीफा दे देता है तो उसके बचे हुए कार्यकाल के लिए नए जज का चुनाव होता है।   

International Court of Justice (ICJ) की आधिकारिक वेबसाइट पर कोर्ट के सभी सदस्यों और उनके पदों की सूची दी गई है। भारत से न्यायमूर्ति दलवीर भंडारी (Dalveer Bhandari) को मुख्य न्यायधीश के रूप में नहीं बल्कि एक सदस्य के रूप में निर्वाचित किया गया था। 

दलवीर भंडारी

पड़ताल के दौरान हमें 27 अप्रैल 2012 को International Court of Justice द्वारा जारी की गई एक प्रेस रिलीज (Press Release) मिली। बतौर रिलीज, 27 अप्रैल 2012 को दलवीर भंडारी को आईसीजे (International Court of Justice, ICJ) के सदस्य के रूप में चुना गया था। उन्होंने जॉर्डन के अवन शौकत अल-खसावनेह (Awn Shawkat Al-Khasawneh) का स्थान लिया था।

Ministry of External Affairs की वेबसाइट के अनुसार, नवंबर 2017 में न्यायमूर्ति दलवीर भंडारी को दोबारा 9 साल के कार्यकाल के लिए आईसीजे (International Court of Justice) के सदस्य के रूप में चुना गया था। उस समय इस पद के लिए हुई वोटिंग में भंडारी को 193 मतों में से 183 वोट मिले थे। बता दें कि उस दौरान इस खबर को देश के कई मीडिया संस्थानों ने भी प्रकाशित किया था। 

दलवीर भंडारी
दलवीर भंडारी

Read More: कर्नाटक में हुए मर्डर के वीडियो को सांप्रदायिक रंग देकर सोशल मीडिया पर किया गया शेयर

कौन हैं जस्टिस दलवीर भंडारी? 

1 अक्टूबर 1947 को राजस्थान के जोधपुर में जन्में दलवीर भंडारी, भारत के सर्वोच्च न्यायालय के जज रह चुके हैं। भंडारी ने जोधपुर विश्वविद्यालय से पढ़ाई करने पूरी के बाद राजस्थान हाइकोर्ट में वकालत की थी। उन्होंने अमेरिका के शिकागो स्थित वेस्टर्न विश्वविद्यालय से मास्टर्स की डिग्री भी ली थी। अक्टूबर 2005 में भंडारी मुंबई हाइकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश बने। 2017 में नीदरलैंड के हेग अंतर्राष्ट्रीय कोर्ट ऑफ जस्टिस में उन्हें सदस्य के रूप में चुना गया था। 

Conclusion

हमारी पड़ताल में साफ होता है कि न्यायमूर्ति दलवीर भंडारी को International Court of Justice के मुख्य न्यायाधीश के रूप में नहीं चुना गया है। वर्तमान में वह अदालत के सदस्य हैं, जिन्हें 2018 में नौ साल के कार्यकाल के लिए चुना गया था।

Result: Misleading


Our Sources

International Court of Justice

International Court of Justice (ICJ)

Press Release

Ministry of External Affairs

Live Mint

The Hindu


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

Neha Verma
After working for India News and News World India, Neha decided to provide the public with the facts behind the forwards they are sharing. She keeps a close eye on social media and debunks fake claims/misinformations.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular