सोमवार, जून 17, 2024
सोमवार, जून 17, 2024

होमFact Checkयूपी पुलिस द्वारा सूबे में नहीं चलाया जा रहा है एक महीने...

यूपी पुलिस द्वारा सूबे में नहीं चलाया जा रहा है एक महीने का मास्क चेकिंग अभियान, फेक दावा हुआ वायरल

देश में एक बार फिर से कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। पिछले 24 घंटों में देश के 13 राज्यों में रिकवरी से ज्यादा नए मामले दर्ज़ किये गए हैं। ऐसे में राज्य सरकारें (केंद्र शासित सहित) इस पर काफी सतर्क नजर आ रही हैं। इसी बीच सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि यूपी में भी कोरोना को लेकर सरकार काफी गंभीर हो गई है। अब यूपी पुलिस द्वारा मास्क चेकिंग अभियान चलाया जायेगा। 

सन्देश कुछ इस तरह से हैं, ’26 फरवरी सुबह 9 बजे से यूपी पुलिस थाना स्तर पर इस अभियान को शुरू करेगी। मास्क चेकिंग अभियान के तहत पुलिस राज्य के सभी शहरों और गांवो में लोगों पर नजर रखेगी। जिसने मास्क नहीं लगाया होगा उस पर उचित कार्रवाई की जायेगी और चालान काटा जायेगा। साथ ही 10 घंटे की अस्थाई कारावास की सजा भी हो सकती है। ऐसे में अगर आपको इससे बचना है तो मास्क लगाकर रखें।’

दावे में बताया गया है कि उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा 30 दिनों तक ये अभियान चलाया जायेगा। आखिर में इस वायरल पोस्ट में निवेदक के रूप में उत्तर प्रदेश पुलिस लिखा गया है। यह मैसेज व्हाट्सएप ग्रुप से होता हुआ तमाम सोशल मीडिया माध्यमों पर वायरल हो रहा है। ये दावा कुछ ही घंटों में इतना ज्यादा वायरल हो चुका है कि इंडिया टीवी के पूर्व मैनेजिंग एडिटर Ajit Anjum ने भी ट्वीट कर यूपी पुलिस से पूछा है कि क्या ये दावा सही है।

पोस्ट से जुड़ा आर्काइव लिंक यहां देखा जा सकता है।

Fact Check/Verification

वायरल दावे की सच्चाई जानने के लिए हमने गौतम बुद्ध नगर स्थित पुलिस आयुक्त के दफ्तर में कार्यरत डीसीपी Vrinda Shukla से इस बारे में बातचीत की। जिन्होंने इस दावे को अफ़वाह बताया है। उनका कहना है कि यूपी पुलिस द्वारा ऐसे किसी भी अभियान को शुरू नहीं किया गया है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए पुलिस सतर्क है। साथ ही उनका कहना है कि ऐसे मैसेज को आगे शेयर ना करें। 

पड़ताल के दौरान हमें यूपी पुलिस के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट द्वारा किया गया एक ट्वीट मिला। ट्वीट में लिखा गया है, “‘उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा मास्क चेकिंग का 30 दिन का ऐसा कोई भी अभियान नही चलाया जा रहा है, और न ही ऐसी कोई सूचना प्रसारित की गई है। अतः ऐसी भ्रामक खबरों पर ध्यान न दें, जो भी इस प्रकार की भ्रामकता फैलायेगा, उसके विरुद्ध आवश्यक विधिक कार्यवाही की जाएगी।’ यूपी पुलिस के आधिकारिक हैंडल द्वारा पोस्ट किए गए इस बयान के बाद इतना तो साफ हो गया कि वायरल हो रहा दावा पूरी तरह से फेक है।

पहले भी ऐसे कई भ्रामक दावे वायरल हो चुके हैं। जिनका पर्दाफाश करते हुए हमने सच्चाई बताई है। पिछले साल मार्च में कोरोना के केस बढ़ाने के कारण जब देश में लॉकडाउन लगाया गया था, उस समय और हाथरस कांड के समय भी यूपी पुलिस की कई ऐसी भ्रामक तस्वीरें और वीडियो सामने आए थे। तब हमने पड़ताल करते हुए दावों की सच्चाई दुनिया के सामने रखी थी।

क्या है देश में कोरोना संक्रमितों की मौजूदा संख्या? 

देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा कुल 1,10,63,491 पर पहुंच गया है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक बीते 24 घंटों में 120 कोरोना मरीजों की मौत हो चुकी है। जबकि कोरोना से मरने वालों की संख्या कुल 1,56,825 है। तो वहीं अब तक देश में कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 1,07,50,680 है। फिलहाल देश में कोरोना के कुल एक्टिव मामले 1,55,986 हैं।

सरकार कोरोना वैक्सीनेशन अभियान को तेजी से चला रही है। गौरतलब है कि इस अभियान के तहत अभी तक कुल 1,34,72,643 लोगों का टीकाकरण किया जा चुका है। 

Conclusion

हमारी पड़ताल में मिले तथ्यों के मुताबिक यूपी पुलिस के मास्क अभियान को लेकर किया जा रहा दावा गलत है। यूपी पुलिस ने इन सभी दावों को फेक बताया है। साथ ही कहा है कि ऐसे भ्रामक दावों को फैलाने वालों पर कार्रवाई की जायेगी।

Result: False


Our Sources

UP Police – https://uppolice.gov.in/frmOfficials.aspx?commgbngr&cd=NAA0ADYAMwA%3D

Twitter – https://uppolice.gov.in/frmOfficials.aspx?commgbngr&cd=NAA0ADYAMwA%3D


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular