मंगलवार, जुलाई 16, 2024
मंगलवार, जुलाई 16, 2024

होमFact CheckFact Check: कर्नाटक में कांग्रेस की जीत के बाद लहराया गया पाकिस्तानी...

Fact Check: कर्नाटक में कांग्रेस की जीत के बाद लहराया गया पाकिस्तानी झंडा? वायरल दावे का सच कुछ और है

Authors

An enthusiastic journalist, researcher and fact-checker, Shubham believes in maintaining the sanctity of facts and wants to create awareness about misinformation and its perils. Shubham has studied Mathematics at the Banaras Hindu University and holds a diploma in Hindi Journalism from the Indian Institute of Mass Communication. He has worked in The Print, UNI and Inshorts before joining Newschecker.

Claim:
कर्नाटक के भटकल में कांग्रेस की जीत के बाद पाकिस्तान का झंडा फहराया गया था।
Fact:
कांग्रेस की जीत के जश्न में पाकिस्तान का झंडा नहीं फहराया गया था। यह एक मुस्लिम धार्मिक झंडा है और इसे स्थानीय तंजीम संगठन के समर्थकों द्वारा फहराया गया है।

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर दावा किया जा रहा है कि कर्नाटक में कांग्रेस की जीत के बाद भटकल में पाकिस्तान का झंडा फहराया गया। वीडियो में एक व्यक्ति एक चौक पर झंडा लहराते हुए देखा जा सकता है।

Courtesy: Twitter@TheHinduRahul

(आर्काइव लिंक)

Fact Check/Verification

दावे की सत्यता जानने के लिए हमने कुछ कीवर्ड की मदद से गूगल सर्च किया। हमें ‘TV9 कन्नड़’ की वेबसाइट पर 13 मई, 2023 को छपी एक रिपोर्ट मिली। इसके अनुसार, यह कर्नाटक के भटकल का वीडियो है, जहां कांग्रेस की जीत के बाद मुस्लिम युवकों ने इस्लामिक झंडा फहराकर जश्न मनाया। रिपोर्ट के मुताबिक, इस्लामिक झंडे के बगल में भगवा झंडा भी लहराया जा रहा था।  

इसके अलावा ‘वार्ता भारती’ की वेबसाइट पर 13 मई 2023 को छपी एक रिपोर्ट में भी इस बात का जिक्र है कि कांग्रेस उम्मीदवार की जीत का जश्न मनाने के लिए लोग भटकल शमशुद्दीन सर्कल के पास हरे और भगवा झंडे लेकर इकट्ठा हुए थे। 

इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद कुछ लोगों ने कहा कि यह पाकिस्तानी झंडा है, जिसका उत्तर कन्नड़ के पुलिस अधीक्षक विष्णुवर्धन एन ने खंडन किया है। उन्होंने कहा कि यह पाकिस्तान का झंडा नहीं था। रिपोर्ट के अनुसार, मौके पर मौजूद पुलिस अधिकारियों ने पुष्टि की कि यह पाकिस्तानी झंडा नहीं था और इस मामले में कोई शिकायत दर्ज नहीं की गई।

प्रजावाणी वेबासइट पर 14 मई 2023 को छपी एक रिपोर्ट में बताया गया है कि भटकल कस्बे में मनकला वैद्य के समर्थकों द्वारा आयोजित जश्न के दौरान शमशुद्दीन सर्कल पर एक युवक ने अर्धचांद और तारे वाला हरा झंडा फहराया। वहीं पास में एक भगवा झंडा और नीला झंडा भी फहराया जा रहा था। रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस अधीक्षक एन. विष्णुवर्धन ने लोगों को अफवाहें नहीं फैलाने की सख्त हिदायत दी है। 

मामले की अधिक जानकारी के लिए Newschecker ने उदयवाणी के स्थानीय संवाददाता आरके भट्ट से संपर्क किया। उन्होंने हमें बताया कि भटकल निर्वाचन क्षेत्र से जीतने वाले कांग्रेस के मंकल वैद्य को तंजीम के अलावा हिंदू संगठन के कुछ सदस्यों का भी समर्थन प्राप्त था। उन्होंने कहा, “विधानसभा चुनावों में वैद्य की जीत के बाद हिंदू और मुस्लिम समुदायों के उनके समर्थक शमशुद्दीन सर्कल में जश्न मनाने के लिए एक साथ आए और उन लोगों ने भगवा और हरे झंडे लहराए।”

भट्ट ने बताया कि वहां भगवा और हरे झंडे के अलावा कांग्रेस पार्टी के झंडे भी लहराए गए। इसके अलावा, मंकल के समर्थकों ने उनकी तस्वीर वाले झंडे भी लहराकर उनकी जीत का जश्न मनाया।

इसके अलावा, भटकल की स्थानीय समाचार वेबसाइट साहिल ऑनलाइन के कार्यकारी संपादक इनायतुल्लाह से संपर्क किया। उन्होंने कहा, “मंकला वैद्य की जीत के दौरान फहराया गया झंडा इस्लाम का धार्मिक झंडा है। यह झंडा विभिन्न उत्सवों के अवसरों पर दरगाहों में भी फहराया जाता है। इसे स्थानीय तंजीम संस्था के युवाओं ने जीत की खुशी में फहराया था। इस ध्वज में चंद्रमा, बड़े तारे और छोटे तारे मौजूद हैं। उन्होंने कहा कि इस दौरान हिंदू और मुस्लिम सभी समुदायों के लोगों ने हिस्सा लिया था।

पड़ताल के दौरान हमें साहिल ऑनलाइन द्वारा पोस्ट किया गया एक यूट्यूब वीडियो भी मिला। इसमें भटकल सर्कल में हरा और भगवा झंडे के अलावा अन्य झंडे भी लहराते हुए देखे जा सकते हैं।

वायरल वीडियो में नजर आ रहे झंडे में चांद की तस्वीर है और उसके अंदर मौजूद सितारे का आकार बड़ा है। बता दें कि पाकिस्तान का झंडा अलग है और इसका एक चौथाई हिस्सा सफेद है।

Flag shown in Viral Video Pakistani Flag

यह भी पढ़ें: Fact Check: सचिन पायलट की जन संघर्ष यात्रा का नहीं है यह वायरल वीडियो

Conclusion

इस तरह हमारी पड़ताल में स्पष्ट है कि कांग्रेस की जीत के दौरान भटकल में जो मुस्लिम धार्मिक झंडा फहराया गया था, वह पाकिस्तान का झंडा नहीं था।

Results: False

Our Sources
Report By TV9 Kannada, Dated: May 13, 2023
Reporty By Vartha Bharathi, Dated: May 13, 2023
Reporty By Prajavani, Dated: May 14, 2023
YouTube Video By Sahilonline, Dated: May 15, 2023
Conversation with R.K.Bhat, Udayvani Reporter Bhatkal
Conversation with Inayathulla, Managing Editor Sahilonline

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

Authors

An enthusiastic journalist, researcher and fact-checker, Shubham believes in maintaining the sanctity of facts and wants to create awareness about misinformation and its perils. Shubham has studied Mathematics at the Banaras Hindu University and holds a diploma in Hindi Journalism from the Indian Institute of Mass Communication. He has worked in The Print, UNI and Inshorts before joining Newschecker.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular