सोमवार, मई 16, 2022
सोमवार, मई 16, 2022

होमFact Checkपीएम मोदी और यूपी के सीएम योगी की तीन साल पुरानी तस्वीर,...

पीएम मोदी और यूपी के सीएम योगी की तीन साल पुरानी तस्वीर, भ्रामक दावे के साथ की गई शेयर

उत्तर प्रदेश में अगले साल यानी 2022 में विधानसभा के चुनाव होने वाले हैं। ऐसे में सीएम योगी आदित्यनाथ चुनाव के पहले अलग-अलग जिलों की जनता को संबोधित कर रहे हैं। बीते 22 सितंबर, 2021 को योगी ने मुरादाबाद, सम्भल और बिजनौर जिले में जनसभाओं को संबोधित किया था। संबोधन के दौरान उन्होंने कहा “यूपी में 2022 के चुनाव में भाजपा अपना 2017 का रिकॉर्ड तोड़ने जा रही है। हमारी सरकार ने बिना भेदभाव के प्रदेश में विकास कराया है, अब आप भी बिना भेदभाव के समर्थन करें।” इस बीच व्हाट्सएप (WhatsApp) पर सीएम योगी आदित्यनाथ और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें पीएम एक दरगाह पर चादर और माला चढ़ाते हुए नज़र आ रहे हैं। तस्वीर को शेयर करते हुए लोग दावा कर रहे हैं, “हैरान हूं गालिब तुम्हें मस्जिद में देखकर, ऐसा भी क्या हुआ कि खुदा याद आ गया। यही काम कोई और नेता करे तो वो पाकिस्तानी है।”   

पीएम मोदी और सीएम योगी की तीन साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ की गई शेयर
पीएम मोदी और सीएम योगी की तीन साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ की गई शेयर

पीएम मोदी और सीएम योगी की इस तस्वीर को शेयरचैट (Sharechat) पर भी शेयर किया जा रहा है।

पीएम मोदी और सीएम योगी की तीन साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ की गई शेयर
पीएम मोदी और सीएम योगी की तीन साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ की गई शेयर

पीएम मोदी और सीएम योगी की इस तस्वीर को फेसबुक पर कई अलग-अलग यूज़र्स द्वारा भी शेयर किया जा रहा है। 

पीएम मोदी और सीएम योगी की तीन साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ की गई शेयर
पीएम मोदी और सीएम योगी की तीन साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ की गई शेयर

बता दें कि ट्विटर पर इस तस्वीर को 2 साल पहले, यानी अप्रैल 2019 में भी शेयर किया गया था।

ट्विटर पर वायरल हो रहे दावे का आर्काइव लिक यहां देखा जा सकता है। 

Fact Check/Verification

क्या पीएम मोदी और यूपी के मुख्यमंत्री सीएम योगी आदित्यनाथ ने किसी दरगाह पर एक साथ पहुंचकर चादर चढ़ाई है, इस दावे का सच जानने के लिए हमने सबसे पहले तस्वीर को Google Reverse Image Search की मदद से सर्च किया। इस दौरान हमें 28 जून 2018 को NDTV और Free Press Journal द्वारा प्रकाशित रिपोर्ट्स मिली। इस दोनों रिपोर्ट के मुताबिक, पीएम नरेंद्र मोदी सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ, यूपी के संत कबीर नगर (Sant Kabir Nagar) के मगहर (Maghar) में स्थित कबीर की समाधि पर पहुंचे थे। संत कबीर की 500वीं पुण्यतिथि के मौके पर पीएम मोदी ने उनकी समाधि पर चादर और फूल चढ़ाए थे। 

पीएम मोदी और सीएम योगी की तीन साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ की गई शेयर
पीएम मोदी और सीएम योगी की तीन साल पुरानी तस्वीर भ्रामक दावे के साथ की गई शेयर

ट्विटर खंगालने पर हमें न्यूज़ एजेंसी ANI UP का एक ट्वीट मिला। 28 जून 2018 को ट्वीट की गई तस्वीरें और वायरल तस्वीर दिखने में एक जैसी हैं। तस्वीरों को ट्वीट करते हुए लिखा गया है, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मगहर (Maghar) में संत कबीर की मजार पर चादर चढ़ाते हुए।’

YouTube खंगालने पर हमें 28 जून 2018 को ABP News Hindi के आधिकारिक चैनल पर अपलोड किया गया एक वीडियो मिला। यह वीडियो उस दौरान का है, जब संत कबीर नगर (Sant Kabir Nagar) जिले के मगहर (Maghar) में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने महान संत और कवि, कबीरदास (Kabirdas) की समाधि पर चादर और पुष्प चढ़ाए थे। वीडियो में पीएम को कबीर दास की समाधि पर पुष्प और चादर चढ़ाते हुए देखा जा सकता है।  

Read More: क्या यूपी पुलिस ने तस्वीर में नजर आ रहे दंपत्ति को सरेआम किया नंगा? भ्रामक दावा वायरल है

Conclusion

हमारी पड़ताल में साफ होता है कि पीएम मोदी और सीएम योगी की वायरल हो रही तस्वीर, किसी मस्जिद की नहीं बल्कि कबीर दास की समाधि की है। तस्वीर में दिख रहा स्थल, संत कबीर दास की मज़ार का है, जहां 2018 में पीएम मोदी ने चादर चढ़ाई थी।  


Result: Misleading


Our Sources

NDTV 

Free Press Journal

ANI UP

ABP News Hindi 


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: [email protected]

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular