गुरूवार, जून 20, 2024
गुरूवार, जून 20, 2024

होमFact Checkक्या वीडियो में नज़र आ रहे व्यक्ति पाकिस्तान के हिंदू सांसद हैं...

क्या वीडियो में नज़र आ रहे व्यक्ति पाकिस्तान के हिंदू सांसद हैं ?

Authors

An enthusiastic journalist, researcher and fact-checker, Shubham believes in maintaining the sanctity of facts and wants to create awareness about misinformation and its perils. Shubham has studied Mathematics at the Banaras Hindu University and holds a diploma in Hindi Journalism from the Indian Institute of Mass Communication. He has worked in The Print, UNI and Inshorts before joining Newschecker.

(यह आर्टिकल मूल रूप से Newschecker English के Kushel M. द्वारा प्रकाशित किया गया है।)

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर दावा किया गया है कि पाकिस्तान के हिंदू सांसद ने अपने धर्म की बेटियों को बचाने के लिए संसद में गुहार लगाई। वीडियो में कथित तौर पर एक हिंदू सांसद 12 साल की बच्ची के जबरन इस्लाम कबूल कराने के मामले पर स्पीकर के सामने अपनी बात रखते नज़र आ रहे हैं।

Courtesy: Facebook/amit.ananda5
Courtesy: Twitter@ajaychauhan41

Fact Check/Verification

दावे की सत्यता जानने के लिए हमने ‘Hindu MP Pakistan assembly’ कीवर्ड सर्च किया। इस दौरान हमें कोई प्रमाणिक रिपोर्ट नहीं मिली। इसके अलावा हमने पाकिस्तान के नेशनल असेंबली की आधिकारिक वेबसाइट को खंगाला। यहां हमें पाकिस्तान नेशनल असेंबली (एमएनए) के 10 गैर-मुस्लिम सदस्यों की सूची में कहीं भी वायरल वीडियो में नज़र आ रहा व्यक्ति नहीं मिला। हमने वायरल वीडियो में एक यूजर के कमेंट को देखा। उस यूजर के अनुसार, वीडियो में नज़र आ रहा व्यक्ति पंजाब से ईसाई एमपीए (प्रांतीय विधानसभा के सदस्य) है। इसकी मदद लेते हुए हमने संबंधित कीवर्ड से खोजना शुरू किया। हमें Anandi N नामक एक ट्विटर यूजर द्वारा 15 सितंबर 2022 को किया गया एक ट्वीट मिला। इस ट्वीट में वायरल वीडियो मौजूद है। इस ट्वीट के अनुसार, वीडियो में नज़र आ रहा व्यक्ति विधायक तारिक मसीह गिल है। वे पंजाब प्रांत के ईसाई एमपीए हैं। वीडियो में वे पाकिस्तान में 12 साल की ईसाई लड़की के अपहरण और जबरन धर्म परिवर्तन के बारे में बात कर रहे थे।

Courtesy: Twitter@Anandi_NR

इसकी सहायता से हमने गूगल पर कुछ कीवर्ड सर्च किए। हमें NY News के यूट्यूब चैनल पर 20 अगस्त 2022 को अपलोड किया गया एक वीडियो मिला। वीडियो में 3 मिनट 18 सेकेंड से वायरल वीडियो के हिस्से को देखा जा सकता है।

वीडियो में लिखे टाइटल के अनुसार,’जबरन धर्म परिवर्तन पर पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में एमपीए तारिक मसीह गिल का साहसिक भाषण।’

यही वीडियो ‘Tariq Masih Gill MPA’ नामक यूट्यूब चैनल पर 11 अगस्त 2022 को भी अपलोड किया गया था। Newschecker स्वतंत्र रूप से इस बात की पुष्टि नहीं करता कि यह एमपीए तारिक मसीह गिल का आधिकारिक यूट्यूब चैनल है।

पड़ताल के दौरान हमने पंजाब की प्रांतीय विधानसभा की आधिकारिक वेबसाइट को भी खंगाला। इसके अनुसार, पंजाब की प्रांतीय विधानसभा सीट में गैर मुस्लिमों के लिए आठ सीटें आरक्षित हैं। तारिक मसीह गिल को इन्हीं में से एक सीट पर 2018 में लगातार दूसरी बार चुना गया था। 

Courtesy: Pakistan Punjab Provincial Assembly Website

हमें पाकिस्तान के एक मीडिया पोर्टल Journalism for Human Rights पर 23 सितंबर 2022 को प्रकाशित एक रिपोर्ट मिली। इसके अनुसार, एमपीए गिल पंजाब प्रांत के रावलपिंडी में 13 साल की ईसाई लड़की जरिया परवेज के अपहरण और जबरन धर्मांतरण के मामले के खिलाफ मुद्दे पर लगातार आवाज उठाते रहे हैं। इस खबर को कई अन्य मीडिया संस्थानों ने भी प्रकाशित किया था जिसे आप यहां, यहां और यहां देख सकते हैं।

Courtesy: Journalism for Human Rights

Conclusion

कुल मिलाकर हमारी पड़ताल में स्पष्ट है कि वायरल वीडियो में नज़र आ रहे व्यक्ति पाकिस्तान के ईसाई एमपीए तारिक मसीह गिल हैं। वायरल वीडियो में वे 13 साल की ईसाई लड़की जरिया परवेज के अपहरण और जबरन धर्मांतरण का मुद्दा उठा रहे हैं। 

Result: Partly False

Our Sources

Video analysis by Newschecker
A Video uploaded on Youtube by NY News on August 20, 2022


किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

Authors

An enthusiastic journalist, researcher and fact-checker, Shubham believes in maintaining the sanctity of facts and wants to create awareness about misinformation and its perils. Shubham has studied Mathematics at the Banaras Hindu University and holds a diploma in Hindi Journalism from the Indian Institute of Mass Communication. He has worked in The Print, UNI and Inshorts before joining Newschecker.

Shubham Singh
Shubham Singh
An enthusiastic journalist, researcher and fact-checker, Shubham believes in maintaining the sanctity of facts and wants to create awareness about misinformation and its perils. Shubham has studied Mathematics at the Banaras Hindu University and holds a diploma in Hindi Journalism from the Indian Institute of Mass Communication. He has worked in The Print, UNI and Inshorts before joining Newschecker.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular