सोमवार, जून 17, 2024
सोमवार, जून 17, 2024

होमFact CheckFact Check: स्वाति मालीवाल और ध्रुव राठी की कॉल रिकॉर्डिंग के दावे...

Fact Check: स्वाति मालीवाल और ध्रुव राठी की कॉल रिकॉर्डिंग के दावे के साथ वायरल ऑडियो AI जनरेटेड है

Authors

Believing in the notion of 'live and let live’, Preeti feels it's important to counter and check misinformation and prevent people from falling for propaganda, hoaxes, and fake information. She holds a Master’s degree in Mass Communication from Guru Jambeshawar University and has been a journalist & producer for 10 years.

Claim
स्वाति मालीवाल और ध्रुव राठी के बीच हुई बातचीत की कॉल रिकॉर्डिंग।

Fact
यह ऑडियो AI जनरेटेड है

राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal) और YouTuber ध्रुव राठी (Dhruv Rathee) के बीच हुई कथित बातचीत की कॉल रिकॉर्डिंग सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। 13 मई को स्वाति मालीवाल ने मुख्यमंत्री आवास के अंदर अरविन्द केजरीवाल (Arvind Kejriwal) के सचिव विभव कुमार द्वारा मारपीट के आरोप लगाए थे। इसके बाद से आप नेता स्वाति मालीवाल सुर्ख़ियों में बनी हुई हैं। वहीं ध्रुव राठी एक YouTuber हैं जो राजनीतिक विषय पर वीडियो बनाते हैं और आये दिन सत्तारूढ़ भाजपा सरकार की आलोचना करने पर ख़बरों में बने रहते हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही 43 सेकेंड लंबी ऑडियो क्लिप में हुई कथित रूप से स्वाति मालीवाल और ध्रुव राठी की बातचीत :
ध्रुव राठी: “पर हाथ उठाया किसने”
स्वाति मालीवाल: “विभव ने”
ध्रुव राठी: “आपने मना किया था रेज़िगनेशन”
स्वाति मालीवाल: “मैंने बस टाइम माँगा था उसी पर भड़क गए”
ध्रुव राठी: “अरविन्द सर भी थे”
स्वाति मालीवाल: “सुनीता भी थी, उसी ने गाली देकर कहा मारो इसको”
ध्रुव राठी: “और सर ने कुछ नहीं बोला”
स्वाति मालीवाल: “जब मैं चिल्लाने लगी तो उन्होंने सिक्योरिटी बुला ली और फिर दोनों अंदर चले गए”
ध्रुव राठी: “आपने राघव से बात नहीं की थी”
स्वाति मालीवाल: “आई कॉल्ड एव्री वन, एव्री वन.. नो बडी इस लिसनिंग। तुम भी बचकर रहना ये तुम्हें भी फंसा देंगे। डिड संजय कॉल यू हेयर?”
ध्रुव राठी: “यस ही आस्कड मी टू क्रिएट अ वीडियो ऑन इट”
स्वाति मालीवाल: “प्लीज मत बनाओ, प्लीज। नो नीड टू डिफेंड देम”
ध्रुव राठी: “डोंट वरी आई एम विद यू, आप चिंता ना करो”
स्वाति मालीवाल: “आई एम वॉर्निंग यू, तुम्हारे साथ भी ऐसे ही करेंगे। तुम्हारा पैसा टाइम पे मिलता है?”
ध्रुव राठी: “हाँ मुझे तो यू के से आता है ना, मेरा चैनल क्लियर है”
स्वाति मालीवाल: :”प्लीज नो नीड तो डिफेंड देम ऑन दिस”
ध्रुव राठी: “आई विल कॉल यू, मैं बात करता हूँ आपसे”

X पर 24 मई 2024 को इस ऑडियो क्लिप को शेयर करते हुए यूज़र ने कैप्शन में लिखा है, ”दिल्ली स्वाति मालिवाल और ध्रुव राठी का वीडियो हुआ वायरल स्वाति मालिवाल ने ध्रुव राठी को आप के कहने पर वीडियो नहीं बनाने को कहा, केजरीवाल और सुनिता के कहने पर हुआ पिटाई, ध्रुव विपक्ष के एजेंडे पर बनाता है वीडियो।” X पोस्ट का आर्काइव यहाँ देखें।

Courtesy: X/@SudhirPandey_IN

Fact Check/Verification

सोशल मीडिया पर वायरल इस ऑडियो को सुनने पर हमें शब्दों के उच्चारण में कृत्रिमता का आभास होता है और दो शब्दों के बीच में कोई अंतर ना होने के कारण इसके कृत्रिम होने का शक और बढ़ जाता है।

जांच की शुरुआत में हमने मिसइनफॉर्मेशन कॉम्बैट अलायंस (MCA) की डीपफेक एनालिसिस यूनिट (DAU), जिसका Newschecker भी एक हिस्सा है, से संपर्क किया। DAU ने इसकी जांच के लिए Truemedia और Loccus का इस्तेमाल किया। उन्होंने बताया कि दोनों टूल इस निष्कर्ष की पुष्टि करते हैं कि ऑडियो में हेरफेर किया गया है। Truemedia को जांच के दौरान इस ऑडियो में हेरफेर के पर्याप्त सबूत मिले हैं।

पड़ताल के दौरान हमने AI जनरेटेड आवाज़ बनाने के लिए मशहूर ‘इलेवन लैब्स’ के AI क्लोनिंग डिटेक्टर पर भी इस ऑडियो को जांचा, जिसके अनुसार 84% संभावना है कि यह ऑडियो फ़ाइल इलेवन लैब्स की मदद से तैयार की गई है।

अब हमने ध्रुव राठी से भी इस बाबत संपर्क किया। उन्होंने कहा कि यह उनका ऑडियो नहीं है बल्कि AI जनरेटेड है। जांच के दौरान हमने स्वाति मालीवाल की मीडिया हेड वंदना सिंह से भी बात की, उन्होंने भी इस ऑडियो को फ़र्ज़ी करार दिया है।

Conclusion

अपनी जांच से हम इस निष्कर्ष पर पहुँचते हैं कि स्वाति मालीवाल और ध्रुव राठी के बीच हुई बातचीत की कॉल रिकॉर्डिंग के दावे के साथ वायरल हो रही ऑडियो AI टूल्स की मदद से बनाई गयी है।

Result: Altered Photo/Video

Sources

Analysis By DAU Through Loccus And TrueMedia
Anaylysis By Eleven Labs
Telephonic Conversation With Dhruv Rathi
Telephonic Conversation With Swati Maliwal’s Media head Vandana Singh.

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

फैक्ट-चेक और लेटेस्ट अपडेट्स के लिए हमारा WhatsApp चैनल फॉलो करें: https://whatsapp.com/channel/0029Va23tYwLtOj7zEWzmC1Z

Authors

Believing in the notion of 'live and let live’, Preeti feels it's important to counter and check misinformation and prevent people from falling for propaganda, hoaxes, and fake information. She holds a Master’s degree in Mass Communication from Guru Jambeshawar University and has been a journalist & producer for 10 years.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular