गुरूवार, दिसम्बर 1, 2022
गुरूवार, दिसम्बर 1, 2022

होमFact Checkक्या स्मृति ईरानी ने किया देवी दुर्गा का अपमान? भ्रामक दावा एक...

क्या स्मृति ईरानी ने किया देवी दुर्गा का अपमान? भ्रामक दावा एक बार फिर से हुआ वायरल

Claim

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर यह दावा किया गया कि स्मृति ईरानी ने देवी दुर्गा का अपमान किया है.

Fact

बीते 26 सितंबर से शारदीय नवरात्रि की शुरुआत हो चुकी है. नवरात्रि के दौरान हिन्दू समुदाय के लोग देवी दुर्गा के नौ रुपों की पूजा करते हैं. स्मृति ईरानी का देवी दुर्गा और महिषासुर को लेकर संसद में दिया गया एक बयान अक्सर नवरात्रि के दौरान वायरल होता रहता है. पूर्व में Newschecker ने 3 अक्टूबर, 2019 को वायरल दावे का फैक्ट चेक किया था. हमारी पड़ताल के दौरान हमें भारतीय जनता पार्टी के आधिकारिक यूट्यूब चैनल द्वारा 24 फरवरी, 2016 को अपलोड किए गए एक वीडियो से जानकारी मिली कि यह वीडियो साल 2016 का है, जब तत्कालीन मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने लोकसभा में छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या तथा जेएनयू विवाद को लेकर विपक्षी सदस्यों के सवालों का जवाब दिया था.

वीडियो में जेएनयू परिसर के अंदर महिषासुर शहादत दिवस मनाने की निंदा करते हुए स्मृति ईरानी एक पोस्टर का जिक्र करती हैं, जिसमे हिन्दू देवी दुर्गा के लिए अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया है. आगे 31 मिनट 44 सेकंड के बाद इसी पोस्टर को पढ़ते हुए स्मृति ईरानी कहती हैं कि, “… And may my God forgive me… for reading this. Durga Puja is the most controversial racial festival, where a fair skinned beautiful goddess Durga is depicted brutally killing a dark-skinned native called Mahishasur. Mahishasur, a brave self-respecting leader… tricked into marriage by Aryans. They hired a sex worker called Durga… who enticed Mahishasur into marriage and killed him after nine nights of honeymooning during sleep… Freedom of speech, ladies and gentleman… Who wants to have this discussion… on the streets of Kolkata… Weather Rahul Gandhi will stand for this freedom… I want to know… (हिंदी अनुवाद: मेरा भगवान मुझे यह पढ़ने के लिए क्षमा करे. दुर्गा पूजा सर्वाधिक विवादित नस्लवादी त्यौहार है, जिसमे गोरे रंग वाली सुंदर देवी दुर्गा को काले रंग के मूलनिवासी महिषासुर को निर्ममतापूर्वक मारते हुए दिखाया जाता है. महिषासुर आत्मसम्मान से भरा नेता है, जिसकी धोखे से आर्यों से शादी करवा दी गई. उन्होंने वेश्यालय में काम करने वाली दुर्गा नामक स्त्री को इस काम के लिए पैसे दिए… जिसने महिषासुर को झांसे में रखकर उससे शादी की और फिर 9 दिनों के सुहागरात के बाद उसकी हत्या कर दी. साथियों यह है विचारों की अभिव्यक्ति… (पश्चिम बंगाल से आए सांसदों विपक्षी सदस्यों की तरफ ईशारा करके) मैं जानना चाहती हूं कि कोलकाता की सड़कों पर ऐसी बहस कौन चाहता है? मैं जानना चाहती हूं कि क्या राहुल गांधी इस स्वतंत्रता का समर्थन करते हैं?”

इस प्रकार हमारी पड़ताल में यह बात साफ हो जाती है कि स्मृति ईरानी द्वारा देवी दुर्गा का अपमान के नाम पर शेयर किया जा रहा यह दावा भ्रामक है. असल में स्मृति ईरानी लोकसभा में छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या तथा जेएनयू विवाद को लेकर विपक्षी सदस्यों के सवालों के जवाब देते समय जेएनयू में लगे एक विवादित पोस्टर के ऊपर लिखी गई बातें पढ़ रही थी. इसी हिस्से को शेयर कर भ्रम फैलाया जा रहा है.

Result: Partly False

Our Sources

YouTube video published by Bharatiya Janata Party on 24 February, 2016
Newschecker Analysis

यदि आपको यह फैक्ट चेक पसंद आया है और आप इस तरह के और फैक्ट चेक पढ़ना चाहते हैं तो यहां क्लिक करें।

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: [email protected]

Saurabh Pandey
Saurabh Pandey
A self-taught social media maverick, Saurabh realised the power of social media early on and began following and analysing false narratives and ‘fake news’ even before he entered the field of fact-checking professionally. He is fascinated with the visual medium, technology and politics, and at Newschecker, where he leads social media strategy, he is a jack of all trades. With a burning desire to uncover the truth behind events that capture people's minds and make sense of the facts in the noisy world of social media, he fact checks misinformation in Hindi and English at Newschecker.
Saurabh Pandey
Saurabh Pandey
A self-taught social media maverick, Saurabh realised the power of social media early on and began following and analysing false narratives and ‘fake news’ even before he entered the field of fact-checking professionally. He is fascinated with the visual medium, technology and politics, and at Newschecker, where he leads social media strategy, he is a jack of all trades. With a burning desire to uncover the truth behind events that capture people's minds and make sense of the facts in the noisy world of social media, he fact checks misinformation in Hindi and English at Newschecker.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular