शनिवार, अप्रैल 13, 2024
शनिवार, अप्रैल 13, 2024

होमFact CheckFact Check: नहर पार करते ट्रैक्टर का यह वीडियो किसानों के मौजूदा...

Fact Check: नहर पार करते ट्रैक्टर का यह वीडियो किसानों के मौजूदा आंदोलन से संबंधित नहीं है

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

Claim
नहर पार करते हुए ट्रैक्टर का यह वीडियो किसानों के दिल्ली कूच का है.

Fact
नहीं, वायरल वीडियो 2022 में पंजाब के रूपनगर जिले में बैशाखी मेले के दौरान का है.

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक ट्रैक्टर-ट्राली नदी को पार करते दिख रहा है. वीडियो को किसानों के हालिया दिल्ली कूच से जोड़कर शेयर किया जा रहा है. हालांकि, हमने अपनी जांच में पाया कि वायरल वीडियो किसानों के दिल्ली कूच से संबंधित नहीं है, बल्कि साल 2022 में पंजाब के रूपनगर जिले में बैशाखी मेले के दौरान का है.

किसानों ने न्यूनतम समर्थन मूल्य सहित कई अन्य मांगों को लेकर दिल्ली कूच का ऐलान किया है. हालांकि, किसान अभी पंजाब-हरियाणा के बॉर्डर पर ही हैं और मंगलवार 13 जनवरी से पुलिस के सामने हैं. किसानों को काबू में करने और दिल्ली आने से रोकने के लिए पुलिस ने आंसू गैस और रबड़ की गोलियां भी छोड़ी हैं, लेकिन किसान भी दिल्ली जाने की मांग पर अड़े हैं.    

वायरल वीडियो क़रीब 16 सेकेंड का है. वीडियो में एक ट्रैक्टर एक लंबी ट्राली को नदी में खींचता हुआ दिखाई दे रही है. वीडियो में ट्राली पर कुछ लोग भी बैठे दिखाई दे रहे हैं. इस दौरान नदी में कई और ट्रैक्टर और ट्रालियां भी खड़ी हैं. 

वीडियो को उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने किसानों के हालिया दिल्ली कूच से जोड़कर मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए यह वीडियो अपने X अकाउंट से शेयर किया है.

Courtesy: X/yadavakhilesh

इसके अलावा, कई अन्य वेरिफाईड X हैंडल से भी इस वीडियो को हालिया किसान आंदोलन से जोड़कर शेयर किया गया है.

Fact Check/Verification

Newschecker ने वायरल वीडियो की पड़ताल के लिए सबसे पहले उसके कीफ्रेम की मदद से रिवर्स इमेज सर्च किया. इस दौरान हमें एक फ़ेसबुक अकाउंट मिला, जहां इस वीडियो 12 फ़रवरी 2023 को अपलोड किया गया है. इस वीडियो के कमेंट सेक्शन में कई यूजर्स ने पंजाबी में इसे आनंदपुर साहिब एवं कीरतपुर साहिब का दो साल पुराना बताया था.

Courtesy: FB/I Love Punjab

अब हमने ऊपर मिली जानकारी के आधार पर इंस्टाग्राम सर्च किया, लेकिन हमें कोई खास जानकारी नहीं मिली. इसके बाद हमने वीडियो को ध्यानपूर्वक देखा तो हमें ट्राली पर “PAW” लिखा हुआ दिखाई दिया. इसलिए हमने “PAW” और “trolley” जैसे कीवर्ड को गूगल सर्च किया.

Courtesy: FB/I Love Punjab

कीवर्ड सर्च में हमें Paw_bilga नाम का इंस्टाग्राम हैंडल मिला. इस हैंडल पर कई आकर्षक ट्रैक्टर-ट्रालियों की फोटो मौजूद है.

Courtesy: IG/paw_bilga

इन तस्वीरों को देखने पर पता चला कि अधिकांश ट्रालियों पर PAW लिखा हुआ है. PAW एक PLAHA AGRI INDUSTRIES का लोगो है. साथ ही हमने यह भी पाया कि अधिकांश ट्रालियों पर PAW के बाद पंजाबी सरनेम जैसे “SIDHU, NIJJAR, KANG” के साथ “AGRI FARM” लिखा हुआ था.

अब हमने वायरल वीडियो में दिख रही ट्राली पर भी PAW के बाद अंग्रेजी में लिखे टेक्स्ट को देखा तो हमें धुंधले तौर पर “CHEEMA AGRI FARM” लिखा हुआ दिखाई दिया. इसके बाद हमने चीमा एग्री फ़ार्म जैसे कीवर्ड की मदद से इंस्टाग्राम सर्च किया. इस प्रक्रिया में हमें कोई ख़ास जानकारी नहीं मिली. लेकिन इसी दौरान हमें  “luxury trolley wale” नाम का एक इंस्टाग्राम पेज मिला. इस पेज पर भी पंजाब के आकर्षक ट्रैक्टर और ट्रालियों के फोटोज और वीडियोज मौजूद थे.

Courtesy: IG/luxury_trolley_wale

जब हमने उक्त पेज को खंगाला तो पाया कि यह चीमा उपनाम वाले एक व्यक्ति तलजिंदर सिंह चीमा को फॉलो करता है. चूंकि, वायरल वीडियो में भी ट्राली पर “CHEEMA AGRI FARM” लिखा था तो हमने उत्सुकतावश उस अकाउंट को खोला.

Courtesy: IG/luxury_trolley_wale

अकाउंट खोलने पर हमें स्टोरीज सेक्शन में यह वीडियो मिला. दरअसल तलजिंदर सिंह ने अन्य इंस्टाग्राम यूजर्स द्वारा शेयर किए गए इस वीडियो को अपने प्रोफ़ाइल से भी शेयर किया था. अधिकांश वीडियो में तलजिंदर सिंह चीमा के इंस्टाग्राम अकाउंट को टैग किया गया था.

Courtesy: IG/taljinder_singh_cheema

पड़ताल के दौरान हमें तलजिंदर सिंह चीमा के इंस्टाग्राम अकाउंट से भी 8 दिसंबर 2023 को अपलोड किया हुआ यह वीडियो मिला.

Courtesy: IG/taljinder_singh_cheema

चूंकि वीडियो के साथ मौजूद कैप्शन में ज्यादा जानकारी नहीं दी गई है, इसलिए हमने तलजिंदर सिंह चीमा से संपर्क किया. उन्होंने बताया कि “यह वीडियो हालिया किसान आंदोलन के दौरान का नहीं, बल्कि साल 2022 में बैशाखी मेले पर रूपनगर जिले के कीरतपुर साहिब नहर के पास का है”.

Conclusion

हमारी जांच में मिले साक्ष्यों से यह साफ़ है वायरल वीडियो हालिया किसानों के दिल्ली कूच का नहीं, बल्कि साल 2022 में रूपनगर में बैशाखी मेले के दौरान का है.

Result: Missing Context

Our Sources
Video Uploaded by IG Account Taljinder singh cheema on 8th dec 2023
Telephonic Conversation with Taljinder singh cheema 

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044 या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

फैक्ट-चेक और लेटेस्ट अपडेट्स के लिए हमारा WhatsApp चैनल फॉलो करें: https://whatsapp.com/channel/0029Va23tYwLtOj7zEWzmC1Z

Authors

Since 2011, JP has been a media professional working as a reporter, editor, researcher and mass presenter. His mission to save society from the ill effects of disinformation led him to become a fact-checker. He has an MA in Political Science and Mass Communication.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular