मंगलवार, दिसम्बर 7, 2021
मंगलवार, दिसम्बर 7, 2021
होमFact CheckViralपंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह के कार्यक्रम में नहीं लगाए गए एक...

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह के कार्यक्रम में नहीं लगाए गए एक धर्म विशेष के नारे, एडिटेड वीडियो गलत दावे के साथ हुआ वायरल

सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर कर यह दावा गया कि चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद, अल्लाह हू अकबर और हालेलुया के नारे लगाए गए.

बीते दिनों काफी सियासी उठापटक के बाद, आखिरकार कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस्तीफा दे दिया और उनकी जगह चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाया गया. चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही उनके दलित समुदाय से होने को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं की जाने लगी. कई सोशल मीडिया यूजर्स ने चन्नी को ईसाई बताते हुए, कई वीडियो और तस्वीरें भी शेयर की.

इसी क्रम में सोशल मीडिया पर दो वीडियो को मिलाकर बनाया गया एक वीडियो शेयर किया गया, जिसमें पंजाब के नवनियुक्त मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के साथ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को भी देखा जा सकता है. वायरल वीडियो के साथ यह दावा गया कि चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद अल्लाह हू अकबर और हालेलुया के नारे लगाए गए. बता दें कि पंजाब भारत का एकमात्र सिख बाहुल्य राज्य है, इसी वजह से सूबे के मुख्यमंत्री द्वारा इस तरह के नारे लगाने को लेकर विवाद खड़ा हो गया.

Fact Check/Verification

चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद अल्लाह हू अकबर और हालेलुया के नारे लगने के नाम पर शेयर किये गए दावे में मौजूद पहले वीडियो की पड़ताल

चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद, अल्लाह हू अकबर और हालेलुया के नारे लगने के नाम पर शेयर किये जा रहे इस दावे की पड़ताल के लिए, हमने वीडियो को की-फ्रेम्स में बांटा. एक की-फ्रेम को गूगल पर ढूंढने पर हमें PTC News द्वारा 20 सितंबर, 2021 को अपलोड किया गया एक वीडियो प्राप्त हुआ. गौरतलब है कि वायरल वीडियो का एक हिस्सा इसी वीडियो से लिया गया है. PTC News द्वारा शेयर किये गए इस वीडियो में कई बार (1 मिनट पांच सेकंड और 1 मिनट 34 सेकंड पर) ‘जो बोले सो निहाल, सत श्री अकाल’ के नारे लगाए गए हैं. इसी वीडियो में 34 सेकंड के बाद ‘नारा ए तकबीर, अल्लाह हू अकबर’ के नारे लगाए गए हैं. इसी वीडियो में 2 मिनट 57 सेकंड पर ‘जयकारा शेरावाली दा (हिंदी अनुवाद: शेरावाली माता की जय हो)’ के नारे भी सुने जा सकते हैं. तो वहीं 3 मिनट और 1 सेकंड के बाद प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ‘हर-हर महादेव’ के नारे लगाते दिखते हैं.

हमारी पंजाबी टीम ने समारोह में उपस्थित लोगों से संपर्क कर वायरल वीडियो के एक लंबे हिस्से को परखा. हमारी पंजाबी टीम के विश्लेषण के अनुसार, जश्न समारोह में जो बोले सो निहाल सत श्री अकाल, नारा ए तकबीर अल्लाह हू अकबर, जयकारा शेरावाली दा एवं हर-हर महादेव के नारे लगाए गए थे.

इस तरह हमारी पड़ताल में यह बात साफ हो गई कि चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद, सिर्फ अल्लाह हू अकबर के नारे ही नहीं बल्कि जो बोले सो निहाल सत श्री अकाल, जयकारा शेरावाली दा एवं हर-हर महादेव के नारे लगाए गए थे.

चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद अल्लाह हू अकबर और हालेलुया के नारे लगने के नाम पर शेयर किये गए दावे में मौजूद दूसरे वीडियो की पड़ताल

चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद, अल्लाह हू अकबर और हालेलुया के नारे लगने के नाम पर शेयर किये जा रहे दूसरे वीडियो की पड़ताल के लिए हमने वीडियो के एक की-फ्रेम को गूगल पर ढूंढा, लेकिन इस प्रक्रिया में हमें कोई ठोस जानकारी नहीं मिल सकी. चूंकि वीडियो में नवजोत सिंह सिद्धू को देखा जा सकता है, इसलिए हमने ‘hallelujah navjot singh sidhu’ कीवर्ड्स को यूट्यूब पर ढूंढा. इस प्रक्रिया में हमें नवजोत सिंह सिद्धू के कपड़ों के विश्लेषण के बाद, यह जानकारी मिली कि वायरल वीडियो का दूसरा हिस्सा चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने से पहले का है.

चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद अल्लाह हू अकबर और हालेलुया के नारे लगने

Punjabi Christians GOLD तथा Masih Pariwar Channel नामक दोनों ही यूट्यूब चैनलों द्वारा वायरल वीडियो को 24 जुलाई को अपलोड किया गया है.

Punjabi Christians GOLD द्वारा वीडियो के साथ शेयर किये गए डिस्क्रिप्शन के अनुसार, “नवजोत सिद्धू ने लगाए HALLELUJAH के नारे, पहुंचे चर्च में, Christian News Navjot Sidhu in Church, Punjab Congress President Navjot Sidhu Visited Church in Chamkaur Sahib”

Conclusion

इस तरह हमारी पड़ताल में यह बात साफ हो जाती है कि चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद, अल्लाह हू अकबर और हालेलुया के नारे लगने के नाम पर शेयर किया गया यह दावा भ्रामक है, क्योंकि उक्त समारोह में अन्य धर्मों के नारे भी लगाये गए थे. असल में वायरल वीडियो दो अलग-अलग कार्यक्रमों के वीडियो को जोड़कर बनाया गया है, जिसमें से एक चरणजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने का बाद का है तथा दूसरा नवजोत सिंह सिद्धू और चन्नी द्वारा इसी साल जुलाई महीने में चर्च में आयोजित एक कार्यक्रम का है.

Result: Misleading/Misplaced Context

Our Sources

Facebook post by PTC News

YouTube video by Masih Pariwar Channel

YouTube video by Punjabi Christians GOLD

किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: checkthis@newschecker.in

Saurabh Pandey
The reason why he chose to be a part of the Newschecker team lies somewhere between his passion and desire to surface the truth. The inception of social networking sites, misleading information, and tilted facts worry him. So, here he is ready to debunk any such fake story or rumor.
Saurabh Pandey
The reason why he chose to be a part of the Newschecker team lies somewhere between his passion and desire to surface the truth. The inception of social networking sites, misleading information, and tilted facts worry him. So, here he is ready to debunk any such fake story or rumor.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular