शुक्रवार, दिसम्बर 2, 2022
शुक्रवार, दिसम्बर 2, 2022

होमहिंदीक्या ट्रम्प के स्वागत हेतु अहमदाबाद में मोदी के साथ लगाई गई...

क्या ट्रम्प के स्वागत हेतु अहमदाबाद में मोदी के साथ लगाई गई जशोदाबेन की तस्वीर? जानें वायरल दावे का सच

Claim:

बहारों फूल बरसाओं, सम्मानीय जसोदाबेन का अज्ञातवास समाप्त हुआ।

Verification:

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने पहले दौरे पर परिवार के साथ भारत आए हैं। इस दौरान वह अहमदाबाद, दिल्ली और आगरा का दौरा करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ने उनका अहमदाबाद एयरपोर्ट पर जोरदार स्वागत किया। पूरे अहमदाबाद में अमेरिका के राष्ट्रपति और परिवार के स्वागत के लिए हॉर्डिंग्स, बिलबोर्ड्स लगे हुए हैं। ऐसे में सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक हॉर्डिंग की तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें मोदी, ट्रंप और मेलानिया के साथ जशोदाबेन की भी तस्वीर नज़र आ रही है। हॉर्डिंग में इनकी तस्वीर के साथ कैप्शन दिया गया है कि एक उज्जवल भविष्य के लिए मजबूत दोस्ती। 

नीचे देखा जा सकता है कि सोशल मीडिया पर हॉर्डिंग की वायरल तस्वीर को कई यूजर्स द्वारा शेयर किया जा रहा है।

कुछ टूल्स की मदद से हमने फेसबुक और ट्विटर पर वायरल हो रही तस्वीर को खंगाला। सबसे पहले हमने InVID पर Magnifier की मदद से वायरल तस्वीर को बारीकी से खोजा। नीचे तस्वीर में आप देख सकते हैं कि हॉर्डिंग की तस्वीर के साथ छेड़छाड़ की गई है। क्योंकि जशोदाबेन की तस्वीर अलग से लगी हुई नज़र आ रही है जिसमें कहीं और देखती हुई भी नज़र आ रही हैं। 

वायरल तस्वीर की तह तक जाने के लिए हमने कुछ कीवर्ड्स की मदद ली। पड़ताल के दौरान हमें Hindustan Times का एक लेख मिला। इस लेख में एक तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है जिसकी मदद से हमने वायरल तस्वीर की सत्यता को जाना। सभी जानते हैं कि अहमदाबाद में डोनाल्ड ट्रंप और परिवार के स्वागत के लिए जगह-जगह पर हॉर्डिंग्स लगाए गए हैं। 

दोनों तस्वीरों में नज़र आ रहे अंतर को साफ देखा जा सकता है। साथ ही देखा जा सकता है कि तस्वीर के साथ छेड़छाड़ की गई है।

आपकों बता दें कि वायरल हॉर्डिंग और असली हॉर्डिंग की तस्वीर में पीएम मोदी, डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया ट्रंप ने एक जैसे कपड़े पहने हुए हैं। दूसरी ओर दोनों हॉर्डिंग्स में बॉर्डर में दी गई तारीख भी एक ही है। बॉर्डर पर दोनों तस्वीरों में नमस्ते Trump लिखा हुआ है जिससे साफ होता है कि तस्वीर के साथ छेड़छाड़ की गई है।

वायरल तस्वीर की तह तक जाने के दौरान हमें दैनिक जागरण का एक लेख मिला। यह लेख 26 फरवरी, 2018 का है और वायरल हॉर्डिंग की तस्वीर में इस तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है। 

हमारी पड़ताल में हमने जाना कि फेसबुक और ट्विटर पर वायरल हो रही तस्वीर के साथ छेड़छाड़ की गई है। लोगों को भ्रमित करने के लिए जशोदाबेन की पुरानी तस्वीर को फोटोशॉप कर अमेरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के स्वागत में लगे हॉर्डिंग में लगाई गई है। 

Tools Used:

InVID

Reverse Image Search 

Google Search

Result: False

(किसी संदिग्ध ख़बर की पड़ताल, संशोधन या अन्य सुझावों के लिए हमें WhatsApp करें: 9999499044  या ई-मेल करें: [email protected])

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Most Popular